ताज़ा खबर
 

BTC 2015: अब 1 से 3 नवंबर के बीच होगी परीक्षा, UPTET की तारीख भी बदली

BTC 2015, UPTET 2018 Exams: उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग में 68,500 सहायक शिक्षक पदों पर भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया 11 से 25 दिसंबर 2018 तक चलेगी। वहीं अब शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET) 18 नवंबर को होगी।

Author October 13, 2018 1:20 PM
BTC 2015, UPTET 2018 Exams: UPTET के लिए 18.75 लाख आवेदन मिले हैं।

उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग में 68,500 सहायक शिक्षक पदों पर भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया 11 से 25 दिसंबर 2018 तक चलेगी। वहीं अब शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET) 18 नवंबर को होगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह फैसला शुक्रवार को पेपर लीक मामले की जांच और प्रस्तावित शिक्षक भर्ती की तैयारियों पर बुलाई गई बैठक में लिया। अभ्यर्थियों के हितों को देखते हुए UPTET अब 4 नवंबर के बजाय 18 नवंबर को आयोजित होगी। UPTET के लिए 18.75 लाख आवेदन मिले हैं। 10 दिसंबर को UPTET का रिजल्ट घोषित होगा और अगले दिन ही सहायक शिक्षक के पदों पर भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू कर दिए जाएंगे। आवेदन 25 दिसंबर तक चलेंगे और 6 जनवरी को परीक्षा होगी।

साल 2015 बैच के BTC अभ्यर्थियों की परीक्षा 1 से 3 नवंबर तक आयोजित होगी। इसका रिजल्ट 10 दिसंबर के पहले घोषित कर दिया जाएगा ताकि अभ्यर्थी UPTET के लिए आवेदन कर सकें। BTC 2015 के चौथे सेमेस्टर की परीक्षा 8 से 10 अक्टूबर के बीच होनी थी लेकिन पेपर लीक होने के कारण परीक्षा रद्द करनी पड़ी। 95 हजार से अधिक सहायक अध्यापकों की भर्ती के लिए होने वाली लिखित परीक्षा में शामिल होने के लिए BTC का चौथा सेमेस्टर पूरा करना अनिवार्य है। BTC की परीक्षा समय से नहीं होने की स्थिति में अभ्यर्थियों को डर था कि कहीं वे अगली शिक्षक भर्ती से वंचित न रह जाएं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मुद्दे को लेकर BTC प्रतिनिधि मण्डल से मुलाकात की थी और उन्हें आश्वासन दिया था कि निरस्त हुई परीक्षा जल्द कराई जाएंगी।

शुक्रवार को हुई बैठक में BTC के चौथे सेमेस्टर की परीक्षा का पेपर लीक होने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने बैठक में नाराजगी जताई। सीएम ने कहा कि परीक्षा कराने वाली संस्थाएं अपने को मजबूत करें और दिक्कतों को बताएं लेकिन पेपर लीक जैसी घटनाएं भविष्य में न होने दें। BTC चौथे सेमेस्टर के पेपर लीक मामले में एसटीएफ ने प्राथमिक जांच रिपोर्ट मुख्यमंत्री को सौंप दी है। मुख्यमंत्री ने दोषियों की गिरफ्तारी और कुर्की करने के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट निर्देश दिये हैं कि पेपर लीक होने की वजह से किसी बच्चे का नुकसान न हो।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X