ताज़ा खबर
 

BSEB Bihar board Exam 2020: बिहार बोर्ड 10वीं के एग्जाम, बोर्ड की कैसी हैं तैयारी, क्या कह रहे अधिकारी

Bihar board Exam 2020: “पिछले साल, कुल 13.20 लाख (80.73 प्रतिशत) छात्रों ने कक्षा 10 की परीक्षा पास की, और लगभग 73.67 प्रतिशत छात्रों ने कंपार्टमेंट परीक्षा पास की। पास प्रतिशत में यह सुधार धीरे-धीरे परीक्षा के लिए छात्रों की संख्या को कम करता है।”

धोखाधड़ी को रोकने के लिए बोर्ड ने कई उपाय भी किए हैं। सभी केंद्र सीसीटीवी की निगरानी में होंगे।

BSEB Bihar board Exam 2020:  कल यानी 17 फरवरी 2020 से बिहार बोर्ड कक्षा 10 की परीक्षा शुरू हो रही हैं। इस बार परीक्षा के लिए उपस्थित होने वाले स्टूडेंट्स की संख्या में गिरावट आई है। इस साल, कुल 15.29 लाख स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन कराया है। पिछले साल 16.6 लाख स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन कराया था । वहीं 2018 में 17 लाख स्टूडेंट्स ने एग्जाम दिया था। BSEB रिलीज के मुताबिक इस साल मैट्रिक परीक्षा के लिए कुल 15,29,393 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था, जिसमें 7.83 लाख (7,83,034) महिला, और 7.46 लाख (7,46,359) पुरुष छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया। को पढ़ा।

एक अधिकारी के अनुसार, छात्र रजिस्ट्रेशन की संख्या में गिरावट पास प्रतिशत में लगातार सुधार के कारण है। “पिछले साल, कुल 13.20 लाख (80.73 प्रतिशत) छात्रों ने कक्षा 10 की परीक्षा पास की, और लगभग 73.67 प्रतिशत छात्रों ने कंपार्टमेंट परीक्षा पास की। पास प्रतिशत में यह सुधार धीरे-धीरे परीक्षा के लिए छात्रों की संख्या को कम करता है।” 2018 में, कुल पास प्रतिशत 68.89 फीसदी है, जबकि 2017 में, कुल 50.32 प्रतिशत छात्र और 2016 में 46.6 प्रतिशत छात्रों ने मैट्रिक परीक्षा पास की।

अधिकारी ने कहा कि बिहार बोर्ड एक रजिस्टर्ड छात्र पहले प्रयास में पास नहीं हो पाते हैं उन्हें तीन साल में छह बार परीक्षा के लिए उपस्थित होने की अनुमति देता है। “उदाहरण के लिए, यदि कोई छात्र 2018 में परीक्षा के लिए रजिस्टर होता है, तो उसे लगातार तीन साल मिलेंगे, मतलब वह 2020 तक परीक्षा में शामिल हो सकते हैं, जिसमें पास होने के लिए कंपार्टमेंट परीक्षा भी शामिल है। इस साल, ऑब्जेक्टिव पेपर में 20 फीसदी ऑब्जेक्टिव प्रश्न होंगे। “सब्जेक्टिव पेपर के 50 नंबर के लिए, छात्रों को 10 और सवाल मिलेंगे।

धोखाधड़ी को रोकने के लिए बोर्ड ने कई उपाय भी किए हैं। सभी केंद्र सीसीटीवी की निगरानी में होंगे, और प्रत्येक में 500 छात्रों के लिए एक वीडियोग्राफर होगा। छात्रों की परीक्षा केंद्र में और हॉल में प्रवेश करने से पहले दो बार स्क्रीनिंग होगी। सबसे पहले, छात्रों को परीक्षा केंद्र में एक पुलिसकर्मी द्वारा चेक किया जाएगा, जिसके बाद एक निरीक्षक 25 छात्रों को परीक्षा हॉल में प्रवेश करने से पहले बैच को अनुमति देगा।

Next Stories
1 Sarkari Naukri: हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग समेत यहां निकली हैं सरकारी नौकरी
2 ISRO Recruitment 2020: हिंदी टाइपिस्ट, कुक, फायरमैन, ड्राइवर, लाइब्रेरी असिस्टेंट समेत इन पदों पर निकलीं इसरो में नौकरी
3 BSF Recruitment Notification 2020: बीएसएफ में निकली हैं सरकारी नौकरी, 12वीं पास करें आवेदन, सैलरी 1.12 लाख रुपए महीने तक
ये पढ़ा क्या?
X