ताज़ा खबर
 

BSEB 12th Result: 64 फीसदी बच्‍चे फेल होने पर बोले ब‍िहार के शि‍क्षा मंत्री- नकल अौर पैरवी नहीं होने का नतीजा

बिहार 12वीं बोर्ड के नतीजे जारी कर दिए हैं और इस बार रिजल्ट में भारी गिरावट हुई है। परीक्षा में करीब 64.75 फीसदी उम्मीदवार फेल हो गए हैं और यह पिछले 20 सालों का सबसे खराब रिजल्ट है।
साल 1997 में सिर्फ 14 फीसदी बच्चे हुए थे और इस बार 35.25 फीसदी बच्चे ही पास हुए हैं। बता दें कि 12.40 लाख में से 8.03 लाख बच्चे फेल हो गए हैं। (प्रतीकात्मक फोटो)

बिहार 12वीं बोर्ड परीक्षा में करीब 64.75 फीसदी उम्मीदवार फेल हो गए हैं और यह पिछले 20 सालों का सबसे खराब रिजल्ट है। 12वीं के खराब नतीजों को लेकर प्रदेश के शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि इस बार परीक्षा में नकल और पैरवी नहीं होने के वजह से यह नतीजा रहा है। उन्होने मीडिया को बताया कि कदाचार की वजह से सरकार की पहले भी बदनामी हो चुकी है, इसलिए कदाचार मुक्त परीक्षा ली गई है और इस बार कॉपियों में पैरवी भी नहीं हो सकी। उन्होंने कहा कि सरकार का काम गुणवत्तापूर्ण पढ़ाई करवाना है और सरकार इस दिशा में लगातार काम कर रही है। साथ ही छात्र शिक्षक अनुपात पर भी ध्यान दिया जा रहा है। चौधरी का कहना है कि शिक्षकों की बहाली की जा रही है, लेकिन अभिभावकों को बच्चों की पढ़ाई पर ध्यान देना चाहिए।

वहीं बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष एकेपी यादव ने रिजल्ट के लिए सरकार को दोषी ठहराया है। उन्होंने सरकार की कदाचार मुक्त परीक्षा की दलील को दरकिनार करते हुए कहा कि पिछले कई सालों में रिजल्ट अच्छा रहा है, इसका मतलब ये है कि पिछले सभी रिजल्ट फेक थे? उन्होंने ये भी कहा कि 70 फीसदी बच्चों का भविष्य अंधकार में है और इसमें बच्चों का नहीं, सरकार का दोष है।

बता दें कि इस बार 1997 के बाद सबसे खराब रिजल्ट रहा है। साल 1997 में सिर्फ 14 फीसदी बच्चे पास हुए थे और इस बार 35.25 फीसदी बच्चे पास हुए हैं। बता दें कि 12.40 लाख में से 8.03 लाख बच्चे फेल हो गए हैं। इस साल साइंस में 646231 उम्मीदवारों ने परीक्षा में भाग लिया था, जिसमें 194592 विद्यार्थी पास हुए हैं, जबकि आर्ट्स में 533915 में से 198250 विद्यार्थी और वाणिज्य में 60022 उम्मीदवारों में से 44273 उम्मीदवार पास हुए थे। अगर प्रतिशत में देखें तो साइंस में 30.11 फीसदी, आर्ट्स में 37.11 फीसदी और कामर्स में 73.76 फीसदी बच्चे फेल पास हुए हैं।

क्या हुआ जब प्रियंका प्रधानमंत्री मोदी से मिली?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. S
    Sonu kumar
    May 31, 2017 at 11:39 pm
    अगर आपका कहना यही ह की नक़ल और पैरबी नहीं होने के कारन ऐसा हुआ ह तो क्या आपका कहना ी ह . बहुत गलत हो रहा ह हम स्टूडेंट के साथ . आपको कॉलेज में ानी रखनी चाहिए की पढाई हो रही ह या नहीं. इतना म्हणत करने के बाद भी कोई सफलता नहीं .आपसे अनुरोध ह की हमारे करियर के साथ मत खेलिए प्ल्ज़ सर
    (0)(0)
    Reply
    1. Anu Radha
      May 31, 2017 at 11:17 pm
      my dear sir how all रिजल्ट ७० स्टूडेंट फ़ैल हुआ बहुत ने सोसाइट कर ली और ने बिहार बोर्ड एग्जाम नहीं देंगे जिंदगी में जो ली खा वो भी फ़ैल अब तो एग्जाम से बिसवास उठ गया है सारा दोस सर्कार और शिक्षा मंत्री का है बॉयज ज्यादा गर्ल्स सोसाइट कर रहे है आप लोगो से हाथ जोड़कर कह रहे है की दुबारा कॉपी चेक किया जाये और सभी स्टूडेंट इनसाफ दिया जाये .थैंक्स फ़ैल करने केलिए .
      (0)(0)
      Reply