ताज़ा खबर
 

Bihar Board BSEB 10th, 12th Result 2018: 14 मई को 12वीं, जून में 10वीं के नतीजे होंगे घोषित

BSEB 10th, 12th Result 2018 Date: Bihar School Examination Board (BSEB) की 12वीं कक्षा के नतीजे 14 मई 2018 को जारी किए जाएंगे। इसकी पुष्टि BSEB के पीआरओ राजीव दूबे ने की है।

BSEB 10th, 12th Result 2018: इस वर्ष लगभग 17.70 लाख छात्र-छात्राएं 10वीं और लगभग 12.80 लाख छात्र 12वीं की परीक्षा में सम्मिलित हुए थे।

Bihar Board BSEB 10th, 12th Result 2018: Bihar School Examination Board (BSEB) की 12वीं कक्षा के नतीजे 14 मई 2018 को जारी किए जाएंगे। इसकी पुष्टि BSEB के पीआरओ राजीव दूबे ने की है। उन्होंने कहा, “12वीं के नतीजे मई के दूसरे सप्ताह के अंत तक या फिर तीसरे स्प्ताह की शुरुआत में घोषित कर दिए जाएंगे।” BSEB नतीजे 14 मई से पहले जारी कर सकता है और नतीजे घोषणा की तारीख का ऐलान ऑफिशियली आगामी सप्ताह में करेगा। छात्र अपने नतीजे ऑनलाइन www.biharboard.ac.in पर देख सकेंगे। वहीं BSEB ने उन रिपोर्ट्स को भी खारिज कर दिया है जिनमें नतीजे 10 मई को जारी करने की बात है। BSEB के मुताबिक 10वीं के नतीजे 10 मई को जारी होने की कोई संभावना नहीं है और नतीजे जून माह में ही जारी किए जाएंगे।

इस वर्ष लगभग 17.70 लाख छात्र-छात्राएं 10वीं और लगभग 12.80 लाख छात्र 12वीं की परीक्षा में सम्मिलित हुए थे। BSEB के परीक्षार्थी www.biharboard.ac.in के अलावा www.indiaresults.com पर भी अपने रिजल्ट देख सकेंगे। आइए जानते हैं नतीजे ऑनलाइन चेक करने का तरीका। सबसे पहले बताई गई वेबसाइट्स में से किसी भी एक पर लॉगइन करें। रिजल्ट जारी होने पर वेबसाइट पर रिजल्ट लिंक दिखाई देगा। उस लिंक पर क्लिक करें और फिर मांगी गई डिटेल्स भरें। डिटेल्स सब्मिट करने के बाद नतीजे खुल जाएंगे। डाउनलोड कर प्रिंटआउट निकाल लें।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XA Dual 16 GB (White)
    ₹ 15940 MRP ₹ 18990 -16%
    ₹1594 Cashback
  • Honor 9 Lite 64GB Glacier Grey
    ₹ 13989 MRP ₹ 16999 -18%
    ₹2000 Cashback

12वीं की परीक्षाएं 6 से 16 फरवरी 2018 के बीच आयोजित हुई थीं। वहीं 10वीं की बोर्ड परीक्षाएं 21 से 28 फरवरी 2018 के बीच आयोजित हुई थीं। परीक्षाएं लगभग 1,384 केंद्रों पर आयोजित हुई थी। आपको बता दें BSEB ने इस वर्ष टॉपर्स को 1200 रुपये का वजीफा भी दिया जाएगा। 12वीं के 5 टॉपर्स को 1,500 प्रतिमाह की स्कॉलरशिप मिलेगी। सरकार द्वारा स्कॉलरशिप कोर्स की समयसीमा के हिसाब से दी जाएगी। उदाहरण के लिए मेडिकल स्टूडेंट को 5 साल और इंजीनियरिंग स्टूडेट को 4 साल की स्कॉलरशिप मिलेगी। पिछले साल साइन्स के 30.11 फीसदी छात्र और आर्ट्स के 37 फीसदी छात्र और कॉमर्स के 73.76 फीसदी छात्र पास हुए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App