scorecardresearch

12वीं पास हैं बीजेपी के दोनो डिप्टी सीएम, दोनो में है यह समानता

तारा किशोर प्रसाद ने वर्ष 1974 में दर्शन साह महाविद्यालय, कटिहार (मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा) से इंटर की परीक्षा पास की थी

tarakishor prashad, renu devi
1 नवंबर, 1959 को जन्मी रेणु देवी बिहार के अतिपिछड़े समुदाय की नोनिया जाति से आती हैं। साल 2000 में बेतिया विधानसभा से क्षेत्र से बिजेपी की टिकट से चुनाव लड़ा और उस चुनाव में जीत हासिल की।

नितिश कुमार ने 16 नवंबर, 2020 को 7वीं बार बिहार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। उनके साथ उनके मंत्रीमंडल ने भी शपथ ली। उनके बाद बीजेपी की ओर से तारा किशोर प्रसाद और रेणु देवी ने मंत्री के पद पर शपथ ली है। आईये जानते हैं क्या क्वालिफिकेशन है उप मुख्यमंत्री बने तारा किशोर और रेणु देवी की।

भारतीय जनता पार्टी के नेता तारकिशोर प्रसाद की आयु  64 साल है। तारा किशोर प्रसाद ने 1970 में कटिहार उच्च विद्यालाय, कटिहार (बिहार विद्यालाय परीक्षा समिति ,पटना) से मैट्रिक की परीक्षा पास की है। वर्ष 1974 में उन्होंने दर्शन साह महाविद्यालय, कटिहार (मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा) से इंटर की परीक्षा पास की थी। तारा किशोर प्रसाद की पत्नी का नाम रेणु प्रसाद है। वहीं पॉलिटिकल करियर की बात करें तो ताराकिशोर चौथी बार विधायक बने हैं। ताराकिशोर पहली बार 2005 में कटिहार से विधायक चुने गए थे।

1 नवंबर, 1959 को जन्मी रेणु देवी बिहार के अतिपिछड़े समुदाय की नोनिया जाति से आती हैं। साल 2000 में उन्होंने बेतिया विधानसभा से क्षेत्र से बिजेपी की टिकट से चुनाव लड़ा और उस चुनाव में जीत हासिल की। रेणु देवी ने मैट्रिक की पढ़ाई संत टेरेसा बालिका उच्च विद्यालय, वेतिया (प. चंपारण) बिहार विद्यालय परीक्षा समिति, पटना से वर्ष 1975 में उत्तीर्ण की। उन्होंने इंटरमीडिएट एम.डी.डी.एम कॉलेज, मुजफ्फरपुर बिहार विश्विद्यालय से 1977 में उत्तीर्ण किया। वे चंपारण क्षेत्र में बेतिया सीट से चौथी बार विधायक बनी हैं।

दोनो ही मंत्रियों की शैक्षणिक योग्यता समान है तथा दोनो ही चौथी – चौथी बार अपनी- अपनी सीट से विधायक चुने गए हैं।

पढें एजुकेशन (Education News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट