ताज़ा खबर
 

केरल: दसवीं की किताब में गलत जानकारी- शादी से पहले या विवाहेत्तर सेक्स से फैलता है HIV

केरल में 10 वीं कक्षा के छात्रों के लिए राज्य सरकार की ओर से जारी एक किताब में यह लिखा था कि शादी से पहले संबंध बनाने और विवाहेत्तर संबंध बनाने से एचआईवी फैलता है।

Author Published on: March 5, 2019 10:06 PM
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (Photo: REUTERS)

केरल में दसवी कक्षा की एक किताब के माध्यम से बच्चों को यह पढ़ाया जा रहा है कि एचआईवी शादी से पहले सेक्स करने से फैलता है। यह गलत जानकारी दसवीं कक्षा के बायलॉजी के किताब में छपी है। टेक्सट बुक के एक पेज में यह छपा है कि ह्यूमन इम्यूनोडिफिशिएंसी वायरस विवाहपूर्व या विवाहेतर यौन संबंधों की वजह से फैल सकता है। यह सूचना राज्य द्वारा दसवीं कक्षा के बच्चों के पढ़ने के लिए जारी की गई बॉयोलॉजी की किताब में पेज नंबर 60 पर छपी है।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, पेज नंबर 60 पर एक ग्राफिक्स के माध्यम से यह जिक्र किया गया है कि एचआईवी के फैलने का तरीका/कारण क्या है। इसमें एक कारण यह भी बताया गया है कि विवाह पूर्व या विवाहेत्तर यौन संबंध बनाने से ऐसा होता है। यह मामला तब उजागर हुआ जब एक शिक्षक ने किताब में छपी गलत जानकारी को सोशल मीडिया पर साझा किया।

किताब में छपी गलत जानकारी की तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की। इसके बाद डॉक्टर सहित कई लोगों ने इसे शेयर किया और स्टेट काउंसिल ऑफ एजुकेशन रिसर्च एंड ट्रेनिंग की गलती उजागर हुई।

इस पूरे मामले पर एक अधिकारी ने कहा, “यह गलती हमारे संझान में आयी है और हमने इसे ठीक कर दिया है। हमने इस भाग को हटा दिया है। जून से शुरू होने वाले अगले शैक्षणिक सत्र से किताब में यह भाग नहीं होगा।” सामान्य निर्देश विभाग के अनुसार, 2015-16 शैक्षणिक वर्ष के दौरान किताब का संशोधित संस्करण पेश किया गया था। किताब स्कूल के शिक्षकों और विशेषज्ञों की एक समिति द्वारा जांच के बाद जारी किया गया था।

बता दें कि एचआईवी संक्रमण पूरे विश्व में एक स्वास्थ्य समस्या बन चुकी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के आंकड़ों के अनुसार, अब तक करीब 3.5 करोड़ लोगों की इससे मौत हो चुकी है। सिर्फ पिछले एक साल में करीब 10 लाख लोगों की मौत हुई थी। एचआईवी संक्रमण का सीधा मतलब एड्स से होता है। सबसे पहले 1980 के दशक में इसके फैलने की बात सामने आयी थी। एचआईवी संक्रमण संक्रमित व्यक्ति के शरीर में मौजूद खून, वीर्य, योनी से निकले वाले पदार्थ और संक्रमित मां के दूध से बच्चे को हो सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Sarkari Naukri-Result 2019: नौकरियों की बहार, जानिए आप किसमें कर सकते हैं अप्लाई
2 RRB Group D Result 2019: कब है सीबीटी और बुलाए जाएंगे कितने कैंडिडेट्स!
3 RRB Group D Result Declared: कहीं गलत वेबसाइट पर तो चेक नहीं कर लिया रिजल्ट
ये पढ़ा क्‍या!
X