ताज़ा खबर
 

हंसराज कॉलेज में 60% अधिक दाखिले!

डीयू में सोमवार शाम 6 बजे तक 57080 विद्यार्थियों को दाखिला मिल चुका था। सोमवार को 223 छात्रों ने फीस जमा कराई और 172 ने दाखिला रद्द कराया। कुछ कॉलेजों में अधिक दाखिले होने के बाद भी स्वीकृत सीटें अभी खाली रह गई हैं।

Author July 17, 2018 2:35 AM
दिल्ली विश्वविद्यालय।

दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) में स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए जारी दाखिला प्रक्रिया में कहीं प्रवेश के लिए सूखा है तो कहीं स्वीकृत सीटों से बहुत अधिक दाखिले हो गए हैं। आंकड़ों के मुताबिक, उत्तरी परिसर में मौजूद हंसराज कॉलेज में भी स्वीकृत सीटों से 60 फीसद अधिक दाखिले हुए हैं। सोमवार तक यहां कुल 1866 विद्यार्थियों ने दाखिला लिया था जबकि डीयू के सूचना-पत्र (इंफॉर्मेशन बुलेटिन) मुताबिक, कॉलेज में 1164 सीटें ही स्वीकृत हैं। इस हिसाब से यहां 702 ज्यादा विद्यार्थियों का प्रवेश हुए हंै जो स्वीकृत सीटों का 60 फीसद है।
ऐसा नहीं है कि हंसराज कॉलेज ही डीयू का अकेला कॉलेज है जहां इतने अधिक दाखिले हुए हैं।

राजधानी और भारती कॉलेज में भी स्वीकृत सीटों से 86 फीसद अधिक प्रवेश हुए हैं। राजधानी कॉलेज में स्वीकृत सीटों की संख्या (डीयू सूचना पत्र के मुताबिक) 955 है जबकि सोमवार तक इस कॉलेज में 1783 दाखिले हुए। इस हिसाब से कॉलेज में कुल 828 दाखिले अधिक हुए हैं। इसी तरह भारती कॉलेज (महिला) में स्वीकृत सीटों की संख्या 911 दिखाई गई है जबकि यहां पर भी सीटों की संख्या से अधिक 1695 प्रवेश हुए हैं। भारती कॉलेज में 784 ज्यादा सीटों पर दाखिले हुए हैं। माता सुंदरी कॉलेज फॉर वुमन में स्वीकृत सीटों की संख्या से 18 फीसद ज्यादा दाखिले हो चुके हैं। सोमवार तक इस कॉलेज में 1659 सीटों पर दाखिले हो चुके थे जबकि डीयू के सूचना-पत्र (इंफॉर्मेशन बुलेटिन) में कॉलेज में स्वीकृत सीटों की संख्या सिर्फ 1403 ही बताई गई है। इस लिहाज से सोमवार तक माता सुंदरी कॉलेज फॉर वुमन में स्वीकृत सीटों की संख्या से 256 अधिक दाखिले हुए जो स्वीकृत सीटों की संख्या से 18 फीसद अधिक है।

57 हजार से अधिक विद्यार्थियों को मिला दाखिला
डीयू में सोमवार शाम 6 बजे तक 57080 विद्यार्थियों को दाखिला मिल चुका था। सोमवार को 223 छात्रों ने फीस जमा कराई और 172 ने दाखिला रद्द कराया। कुछ कॉलेजों में अधिक दाखिले होने के बाद भी स्वीकृत सीटें अभी खाली रह गई हैं। इनमें सबसे अधिक संख्या आरक्षित वर्ग की सीटों की है। इसके लिए विश्वविद्यालय ने 16 और 17 जुलाई को विशेष अभियान भी चलाया है जबकि छठी कटऑफ पर 18 से 20 जुलाई के बीच दाखिले होंगे।

स्कूल ऑफ जर्नलिज्म की आधी से कम सीटें ही भरीं
डीयू के दिल्ली स्कूल ऑफ जर्नलिज्म में सोमवार तक आधी से कम सीटों पर ही दाखिले हो पाए थे। इस स्कूल में कुल 120 (60 हिंदी की और 60 अंग्रेजी की) सीटें हैं, जिनमें से सोमवार तक 51 सीटों पर ही प्रवेश हुए थे। इसी तरह क्लस्टर इनोवेशन सेंटर की सिर्फ 31 सीटों पर ही अब तक दाखिला हो पाया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App