ताज़ा खबर
 

भारत से हार के बाद आलोचनाएं करने वालों को अफरीदी का करारा जवाब

भारत के खिलाफ विश्व टी20 में हार के बाद भारत और पाकिस्तान की ओर से आलोचनाएं झेल रहे कप्तान अफरीदी ने सोमवार को जवाब देते हुए कहा कि उन्हें आलोचना की कोई परवाह नहीं है क्योंकि उन्हें पता है कि टीम के लिए सर्वश्रेष्ठ क्या है।

Ind vs Pak, India vs Pakistan, India-Pakistan Cricket Series, India-Pakistan Bilateral series, Shahid Afridi, Champions Trophy 2017, Cricket Newsपूर्व पाकिस्‍तानी क्रिकेटर शाहिद अफरीदी। (Source: ICC)

भारत के खिलाफ विश्व टी20 में हार के बाद भारत और पाकिस्तान की ओर से आलोचनाएं झेल रहे कप्तान शाहिद अफरीदी ने सोमवार को जवाब देते हुए कहा कि उन्हें आलोचना की कोई परवाह नहीं है क्योंकि उन्हें पता है कि टीम के लिए सर्वश्रेष्ठ क्या है।

उन्होंने कहा, ‘लेकिन मैं एक बार फिर कहूंगा, पाकिस्तान में जो हुआ है उसे होने दीजिए। मुझे पता है कि मुझे और मेरी टीम को यहां क्या करना है। यह मेरे लिए सबसे महत्वपूर्ण चीज है। बाकी चीजों के बारे में बाद में सोचा जा सकता है कि कौन क्या कह रहा है। हमारे लिए मुख्य चीज प्रदर्शन है और हमें यह दिखाना होगा।’

अफरीदी ने कहा कि यह खेल जितना देता है उतना छीन भी सकता है, उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि क्रिकेट ने सिर्फ यूनिस खान को ही नहीं बल्कि कई बड़े क्रिकेटरों को रुलाया है। मैंने कई को रोते हुए क्रिकेट छोड़ते देखा है, मैं अल्लाह का शुक्रगुजार हूं कि मैं पाकिस्तान के लिए लंबे समय से खेल रहा हूं, यह मेरे लिए बड़े सम्मान की बात है। मैंने इस बारे में सोचा भी नहीं था।’

अफरीदी ने कहा, ‘नतीजा कुछ भी हो, मैं संतुष्ट होता हूं जब मैदान पर अपना शत प्रतिशत देता हूं। बाद में नतीजा कुछ भी हो, मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन मुझे और मेरे साथियों को अपना शत प्रतिशत देना होगा। मुझे नहीं लगता है हमारे लोगों को कोई समस्या होगी. हां, हमने जो गलतियां की हमें उन्हें रोकना होगा। लेकिन अगर टीम में डर की स्थिति पैदा की गई जो चीजों को सुलझाना मुश्किल हो जाएगा।’

गौरतलब है कि पाकिस्तान की हार ते बाद क्रिकेट विशेषज्ञों से लेकर मीडिया और पाकिस्तानी प्रशंसकों सभी ने अफरीदी और उनकी टीम की आलोचना करते नहीं थक रहे हैं। न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम के महत्वपूर्ण ग्रुप लीग मैच से पूर्व अफरीदी ने संवाददाताओं से कहा, ‘मुझे लगता है कि जब टूर्नामेंट शुरू भी नहीं हुआ था तब मीडिया कई चीजें कह रहा था। लेकिन वास्तविकता में ना तो मैं ट्विटर देखता हूं, ना ही फेसबुक और ना ही यह देखता हूं कि मीडिया क्या लिख रहा है। मैंने खुद को इससे अलग रखा है। मुझे पता है कि उनकी प्रतिक्रिया क्या होगी।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories