ताज़ा खबर
 

वकार यूनुस ने पाकिस्तान क्रिकेट कोच के पद से दिया इस्तीफ़ा

टी20 के कप्तान शाहिद अफरीदी के बाद वकार यूनुस ने अब पाकिस्तान के राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के कोच पद से इस्तीफा दे दिया है।

Author लाहौर | April 4, 2016 21:12 pm
पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के कोच वकार यूनिस (पीटीआई फाइल फोटो)

आलोचकों के कोपभाजन बने वकार युनूस ने सोमवार (4 अप्रैल) को ‘भारी मन से’ पाकिस्तान क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के पद से इस्तीफा दे दिया और कहा कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने उनकी सिफारिशों पर ध्यान नहीं दिया जिससे टीम आगे नहीं बढ़ सकी। शाहिद अफरीदी ने टी20 विश्व कप में टीम के खराब प्रदर्शन के कारण रविवार (3 अप्रैल) को कप्तानी छोड़ दी थी। पाकिस्तान ग्रुप चरण में सिर्फ एक मैच जीत सका। वकार ने कहा,‘‘मैं भारी मन से आज अपने पद से इस्तीफा दे रहा हूं। मैंने ऐसा इसलिये किया क्योंकि बोर्ड ने 2015 विश्व कप के बाद मेरी सिफारिशों को संजीदगी से नहीं लिया।’’

दो साल पहले दूसरी बार कोच बने वकार ने रविवार (3 अप्रैल) को कहा था कि वह ‘खलनायक’ बनकर विदा नहीं लेना चाहते। वह पहले 2010-11 में कोच थे। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को उनकी सिफारिशों पर अमल करना चाहिये। वकार के करार के अभी तीन महीने बाकी थे। उन्होंने कहा,‘‘मैं चाहता हूं कि मेरी सिफारिशों पर अमल हो। मैंने 2015 में जब सिफारिशें दी थी, तब उन पर अमल नहीं किया गया।’’

उनकी रिपोर्ट का एक हिस्सा मीडिया को लीक हो गया। उन्होंने चयन प्रक्रिया में उन्हें शामिल नहीं करने के पीसीबी के फैसले की आलोचना की थी और अफरीदी की कप्तानी पर भी सवाल उठाये थे। उन्होंने कहा,‘‘हम न्यूजीलैंड से हारे, एशिया कप और टी20 विश्व कप भी खराब कप्तानी के कारण हारे। मैंने कई बार कहा है कि शाहिद अफरीदी बल्ले, गेंद से या बतौर कप्तान कोई योगदान नहीं दे पा रहे लेकिन मेरी किसी ने नहीं सुनी।’’

पीसीबी वकार के विकल्प की तलाश कर रही है लेकिन एक सूत्र ने बताया कि नये कोच के चयन के लिये उचित प्रक्रिया अपनाई जायेगी क्योंकि अब पाकिस्तानी टीम को सीधे जुलाई में इंग्लैंड का दौरा करना है। अधिकारी ने कहा,‘इस बार कोई जल्दी नहीं है। हम पूरा समय लेकर फैसला लेंगे। पद के लिये विज्ञापन दिया जायेगा ताकि विदेशी और देशी उम्मीदवार आवेदन भेज सकें।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App