ताज़ा खबर
 

वीरेंद्र सहवाग ग्लोबल वार्मिंग पर ट्वीट करके हुए हिट विकेट, एक्सपर्ट से लेकर आम यूजर तक ने लगाई लताड़

वीरेंद्र सहवाग के ट्वीट से नाराज एक यूजर ने कहा, "...अपने स्कूल में आपको काबिल साइंस टीचर रखना चाहिए जो आपकी तरह बात न करते हों।"

वीरेंद्र सहवाग ने ग्लोबल वार्मिंग को अमेरिका की समस्या बता दिया। (एजेंसी फोटो)

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग जब से सोशल मीडिया पर एक्टिव हुए हैं तब से वो अपने चुटीले ट्वीट से चर्चा में बने ही रहते हैं। लेकिन इस बार धुआंधार बल्लेबाजी के लिए मशहूर वीरू ग्लोबल वार्मिंग (जलवायु परिवर्तन) पर ट्वीट करके हिट विकेट हो गए। सहवाग ने ग्लोबल वार्मिंग को अमेरिका की समस्या बताते हुए “असली मुद्दों” पर ध्यान देने की सलाह दी। लेकिन पर्यावर्ण विशेषज्ञ सुनीता नारायण, कै सर्विस ओला से लेकर कई आम ट्वीटर यूजर को सहवाग की ग्लोबल वार्मिंग पर ये लापरवाह टिप्पणी नागवार गुजरी।

सहवाग ने शुक्रवार (दो जून) को ट्वीट किया, “ग्लोबल वार्मिंग हो रही होगी यूएस में। ट्रैफिक और जाम इंडिया के प्रदूषण पर क्या फर्क पड़ता है! वास्तविक मुद्दों पर ध्यान दें!” देश की प्रमुख संस्था सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायरमेंट की सुनीता नारायण ने सहवाग के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा, “पता ही वास्तविक मुद्दों से उनका क्या मतलब है? क्या उन्हें नहीं पता  कि ट्रैफिक=प्रदूषण=ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन=जलवायु परिवर्तन। लेकिन उनके लिए शायत ये अहम नहीं है।”

जहां एक तरफ सहवाग को ग्लोबल वार्मिंग के बारे में उनके अज्ञान के लिए झिड़की सुननी पड़ी। दूसरे तरफ कुछ यूजर्स ने उनके द्वारा स्कूल चलाए जाने पर भी तंज किया। वेरीफाइड अकाउंट वाली यूजर प्रियंका ने सहवाग के ट्वीट पर जवाब दिया, “ग्लोबल वार्मिंग वास्तविक मुद्दा है। ये हमारे ग्रह के लिए सबसे बड़ा खतरा है। अपने स्कूल में आपको काबिल विज्ञान टीचर रखना चाहिए जो आपकी तरह बात न करते हों। धन्यवाद।” आदित्य पॉल नामक यूजर ने सहवाग पर कटाक्ष करते हुए लिखा है, “हे भगवान, ये एक स्कूल चलाते हैं!”

सहवाग के कई चाहने वालों ने उनके ट्वीट पर तल्ख टिप्पणी न करते हुए उन्हें ज्यादा जिम्मेदारी से पेश आने की सलाह दी। वृगु मोहंती नामक यूजर ने लिखा, “आपको ज्यादा जिम्मेदारी से ट्वीट करना चाहिए क्योंकि लाखों लोग आपकी बात को पत्थर की लकीर समझते हैं।” अमित मेहरा नामक यूजर ने लिखा, “क्या वीरू? कुछ तो सोचो यार! छोटे-छोटे बच्चे तुम्हें फॉलो करते हैं। शक्ति के साथ दायित्व भी आता है। भावनाओं में मत बहो।” विक्रांत नामक यूजर ने लिखा है, “…ट्विटर पर उनके लाखों फॉलोवर्स हैं और वो ट्रंप की तरह बरताव कर रहे हैं।” मधु नामक ट्विटर यूजर ने लिखा है, “सहवाग जैसा सेलेब्रिटी ऐसा कह रहा है! ये सही नहीं है।”

अस्मिता प्रधान नामक यूजर ने सहवाग पर तंज करते हुए लिखा है, “शायद वो चाहते हैं कि लोग भारत और पाकिस्तान के मैच पर ध्यान दें।” और तो और मोबाइल ऐप कैब सेवा ओला ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से सहवाग के ट्वीट का जवाब देते हुए जाम लगने को वास्तविक मुद्दा बताया है। ओला के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया गया, “दरअसल, सीओ2 के उत्सर्जन की एक बड़ी वजह जाम में खड़ी गाड़ियों से होने वाला उत्सर्जन है। इसलिए ये एक वास्तविक समस्या है।” सहवाग के कुछ समर्थकों ने उनका यह कहकर बचाव करने की कोशिश की कि वो शायत तंज कर रहे थे। हालांकि सहवाग ने अभी तक इस पर अपना पक्ष

वीडियो- अनिल कुंबले को कोच नही बनना देना चाहते थे विराट कोहली- पूर्व बीसीसीआई सचिव

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App