ताज़ा खबर
 

पीएम मोदी पहले ही कर चुके, अब अनुप्रिया पटेल ने उसी पुल का लोकार्पण कर डाला

पूछने पर केंद्रीय मंत्री ने बताया कि इस बार पुल को चार पहिया वाहनों के लिए संचालित कर जनता को सौंपा गया है।

पूछने पर सांसद ने बताया कि इस बार पुल को चार पहिया वाहनों के लिए संचालित कर जनता को सौंपा गया है। (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार में मंत्री अनुप्रिया पटेल इन दिनों सुर्खियों में बनी हुई हैं। दरअसल पूर्व में यूपी के मीरजापुर में जिस पुल का लोकार्पण पीएम मोदी कर चुके हैं उसका लोकार्पण सांसद और केंद्रीय मंत्री ने दोबारा कर दिया। पूछने पर उन्होंने बताया कि इस बार पुल को चार पहिया वाहनों के लिए संचालित कर जनता को सौंपा गया है। दूसरी तरफ स्थानीय लोगों का आरोप है कि केंद्रीय मंत्री ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर सेतु निगम के इंजीनियरों पर दबाव बनाया और पंद्रह जुलाई से चार अगस्त तक चार पहिया वाहनों का संचालन रुकवा दिया। ऐसा इसलिए किया गया ताकि पुल का लोकार्पण दोबारा किया जा सके। दोबारा लोकार्पण के बाद मंत्री के जनसंपर्क अधिकारी ने विज्ञप्ति जारी की है। इसमें चार पहिया वाहनों के लिए लोकार्पण की बात को स्वीकारा गया।

दूसरी तरफ पूरे कार्यक्रम से ही राज्य में सहयोगी अपना दल (एस) भाजपा से नाराज है। भाजपा और अपना दल (एस) के बीच तल्खी पीएम मोदी के जिले में भ्रमण के दौरान ही शुरू हो गई थी, जब भाजपा हाईकमान ने 13 जुलाई को पीएम मोदी के कार्यक्रम में सांसद से सहयोग करने को कहा था। हालांकि सांसद ने भाजपा नेताओं से पीएम मोदी के कार्यक्रम में किसी भी तरह की मदद करने से साफ इनकार कर दिया था। उन्होंने कहा कि यह भाजपा का कार्यक्रम है। उन्होंने कथित तौर पर अपने समर्थकों से भी कहा कि वो कार्यक्रम में शामिल ना हों। बाद में भाजपा के राज्य स्तर के नेताओं ने पीएम मोदी की सभा के जिले तीन जिलों के विधायकों और सांसद वीरेंद्र सिंह को तैयारियां करने के लिए सभा स्थल पर भेजा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App