सीमा पर चौकसी के बाद भी संदिग्ध आतंकी दिल्ली में घुसने में रहे कामयाब

राजधानी के अधिकतर बॉर्डर किसान आंदोलन को लेकर सील हैंं। बावजूद पांच संदिग्ध आतंकी दिल्ली में दाखिल होने में कामयाब हो गए। इसके बाद से दिल्ली पुलिस की चौकसी को लेकर सवाल खड़े होने लगे हैं।

Author नई दिल्‍ली | Updated: December 8, 2020 6:09 AM
arrestedमुठभेड़ के बाद पुलिस द्वारा पकड़े गए आतंकी । फाइल फोटाेे।

निर्भय कुमार पांडेय

राजधानी के अधिकतर बॉर्डर पर किसान आंदोलन के मद्देनजर दिल्ली पुलिस के अलावा बड़ी संख्या में अर्द्धसैनिक बल के जवान तैनात हैं। बावजूद इसके खालिस्तान आंदोलन और हिजबुल मुजाहिद्दीन से जुड़े पांच संदिग्ध आतंकी दिल्ली में दाखिल होने में कामयाब हो गए।

इसके बाद से दिल्ली पुलिस की चौकसी को लेकर सवाल खड़े होने लगे हैं। सूत्रों का यह भी कहना है कि ये लोग किसानों की आड़ में दिल्ली में नहीं घुसे थे बल्कि सभी संदिग्ध आतंकी राजधानी में कुछ दिनों पहले ही आए थे। उसके बाद से दिल्ली पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़ा होना लाजमी है। गनीमत यह रही कि समय पर दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को सूचना मिली और पांचों आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया गया। ऐसा नहीं होने पर आतंकी अपने मकसद में कामयाब हो सकते थे।

स्पेशल सेल के उपायुक्त ने बताया कि इन आंतकियों के बारे में केंद्रीय खुफिया एजंसी के अलावा कई अन्य प्रकार की इनपुट मिली थी, जिसके बाद इन सभी को पकड़ा जा सका है। सूचना मिली थी कि लक्ष्मी नगर-शकरपुर इलाके में रमेश पार्क बस स्टैंड के पास एक आंतकी किसी शख्स से मिलने आने वाले थे।

उन्होंने बताया कि पूछताछ में कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। पहला कि पाकिस्तान में बैठे आइएसआइ और उसके आका भारत में नार्कोटेरिज्मि को बढ़ाने में लगे हैं। यही कारण है कि अब आतंकियों को अफगानिस्तान के रास्ते भारत में बड़ी मात्रा में मादक पदार्थों के साथ भेजा रहा है। उपायुक्त ने बताया कि इन आतंकियों को पकड़ने के लिए लंबा आॅपरेशन चलाया गया था। प्
अंजाम देने के फिराक में थे।

उपायुक्त ने बताया कि गरजीत सिंह और सुखदीप सिंह के खिलाफ पहले भी कई अपराधिक मामले दर्ज हैं। वाहन चोरी के अलावा, आर्म्स एक्ट और हत्या समेत अन्य मामले दर्ज हैं। उपायुक्त ने बताया कि पाकिस्तान आतंकी वारदातों को अंजाम देने के लिए जहां एक ओर पंजाब के गैंगेस्टर की मदद ले रहा है। वहीं, वह युवाओं को बरगला कर कश्मीर-खलिस्तान गठजोड़ बनाने में जुटा है।

Next Stories
1 विश्व परिक्रमा: मेलबर्न में पांच माह बाद अंतरराष्ट्रीय उड़ान उतरी
आज का राशिफल
X