ताज़ा खबर
 

शेन वॉटसन बोले- जिंदगीभर नहीं भूलेंगे 2013 का भारत दौरा, मोहाली के उन ‘कमरों’ की बुरी यादें अब तक जेहन में

वॉट्सन ने कहा, 'वह मोहाली में ही हुआ था। अच्छी बात यह है कि इस बार हम चंडीगढ़ के होटल में रुके हैं और उन कमरों की बुरी यादें आज भी मेरे जेहन में है।'

Author मोहाली | Updated: March 27, 2016 5:25 PM
वॉट्सन को 2013 में जेम्स पेटिंसन, मिशेल जॉनसन और उस्मान ख्वाजा के हैदराबाद टेस्ट में मिली हार के बाद ‘होमवर्क’ नहीं करने के कारण स्वदेश भेज दिया गया था।

टी20 विश्व कप के बाद क्रिकेट को अलविदा कहने जा रहे ऑस्‍ट्रेलियाई खिलाड़ी शेन वॉटसन ने कहा कि 2013 के भारत दौरे पर एक टेस्ट मैच का निलंबन उनके करियर का सबसे खराब दौर था। वॉट्सन को उस समय जेम्स पेटिंसन, मिशेल जॉनसन और उस्मान ख्वाजा के साथ हैदराबाद टेस्ट में मिली हार के बाद स्वदेश भेज दिया गया था। उन पर ‘होमवर्क’ नहीं करने का आरोप था। भारत ने चार मैचों की सीरीज में ऑस्ट्रेलिया का सफाया कर दिया था।

Read Also: MS Dhoni मैच जीतने के बाद क्‍यों रख लेते हैं स्‍टंप, जानें क्‍या है उनका रिटायरमेंट प्‍लान

‘अभी भी जेहन में हैं उन कमरों की बुरी यादें’: वॉट्सन ने कहा, ‘वह घटना मोहाली में ही हुई थी। अच्छी बात यह है कि इस बार हम चंडीगढ़ के होटल में रुके हैं, लेकिन उन कमरों की बुरी यादें आज भी मेरे जेहन में है। होमवर्क नहीं करने के कारण एक टेस्ट का निलंबन झेलना पड़ेगा, यह मैने कभी नहीं सोचा था।’ पाकिस्तान के खिलाफ मैच से पूर्व वॉट्सन ने यह कहकर सभी को चौंका दिया था कि वह टूर्नामेंट के बाद संन्यास लेंगे। इस बारे में उन्होंने कहा, ‘पहली बार मैंने बैठकर अपने करियर का आकलन किया है। मेरे करियर में कई सुनहरे पल आए। मैं कितना खुशकिस्मत हूं कि इतने लंबे समय तक ऑस्ट्रेलिया के लिये खेला।’

सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज पर बोले वॉट्सन: यह पूछने पर कि इस समय दुनिया का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज विराट कोहली, जो रूट और स्टीवन स्मिथ में से कौन है, उन्होंने कहा, ‘इनकी बल्लेबाजी देखने में मजा आता है। विराट के शॉट्स अद्भुत होते हैं। जो रूट ने टी20 क्रिकेट के अनुकूल खुद को बखूबी ढाल लिया है। स्मिथ की मानसिक ताकत जबर्दस्त है। एबी डिविलियर्स भी दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से हैं।’

Read Also: …. तो 13 साल की उम्र में ही दुनिया को अलविदा कह देते क्रिकेटर सुरेश रैना

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories