ताज़ा खबर
 

‘ओवरवेट’ विनेश फोगाट ओलंपिक क्वालीफाइंग टूर्नामेंट से बाहर

विनेश का वजन 48 किलोवर्ग में दूसरी महिला पहलवानों से 400 ग्राम अधिक था।

Author उलनबटेर (मंगोलिया) | April 23, 2016 6:53 PM
भारत की अनुभवी महिला पहलवान विनेश फोगाट ओलंपिक मैच के दौरान। (एपी फाइल फोटो)

भारत की अनुभवी महिला पहलवान विनेश फोगाट को अधिक वजन होने के कारण पहले विश्व ओलंपिक क्वालीफाइंग टूर्नामेंट से बाहर कर दिया गया जबकि बाकी महिला पहलवान भी रियो का टिकट नहीं कटा सकी। विनेश का वजन 48 किलोवर्ग में दूसरी महिला पहलवानों से 400 ग्राम अधिक था। भारतीय कुश्ती महासंघ के एक आला अधिकारी ने बताया,‘‘विनेश का वजन 400 ग्राम अधिक था लिहाजा उसे प्रतिस्पर्धा से बाहर कर दिया गया।’’

भारत के लिये अब 48 किलोवर्ग में ओलंपिक कोटा हासिल करना मुश्किल है क्योंकि अब एकमात्र ओलंपिक क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट इस्तांबुल में छह से आठ मई तक होना है। अधिकारी ने कहा कि विनेश और उसके कोचों को चेतावनी दे दी गई है। उन्होंने कहा,‘‘विनेश और कोचों को चेतावनी दे दी गई है चूंकि उनकी वजह से भारत को रियो खेलों के लिये क्वालीफिकेशन का एक मौका गंवाना पड़ा। यह उसका पहला अपराध है लिहाजा उसे सिर्फ चेतावनी मिली है।’’

अधिकारी के मुताबिक विनेश ने महासंघ से अपील की है कि उसे एक और मौका दिया जाये जिसमें वह ओलंपिक कोटा हासिल करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगी। अधिकारी ने कहा,‘‘विनेश ने हमें आश्वासन दिया है कि वह इस्तांबुल में अपना 200 प्रतिशत देगी ताकि ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर सके। वह अगर वहां भी विफल रहती है तो भारत लौटने पर उसे कारण बताओ नोटिस जारी किया जायेगा।’’

यह पूछने पर कि महासंघ अगले महीने इस्तांबुल किसी और को भेजने पर विचार क्यो नहीं कर रहा, अधिकारी ने कहा,‘‘सबसे पहली बात तो यह है कि 48 किलोवर्ग में विनेश और दूसरी लड़की के प्रदर्शन में काफी अंतर है। आखिरी क्षण में किसी और का वीजा मिलना भी मुश्किल है। इसके अलावा विनेश ओलंपिक के लिये कोर ग्रुप में है और लंबे समय से सोफिया में अभ्यास कर रही है।’’ भारतीय महिला कुश्ती टीम में विनेश फोगाट, बबिता फोगाट और गीता फोगाट सोफिया में अभ्यास कर रही हैं।

इस बीच बबिता (53 किलो), गीता (58 किलो), अनिता (63 किलो) और नवजोत कौर (69 किलो) और ज्योति (75 किलो) पदक के दौर में नहीं पहुंच सकी जिससे ओलंपिक कोटा हासिल करने का उनका सपना टूट गया। बबिता, गीता और ज्योति रेपेचेज दौर में हार गई जबकि अनिता और नवजोत शुरुआती चरण में ही बाहर हो गई। बबिता ने कोरिया की शिन्हाइ ली को 5-0 से हराया लेकिन अमेरिका की हेलन लुईस मारोलिस से 0-10 से हार गई।

अमेरिकी प्रतिद्वंद्वी के फाइनल में पहुंचने से बबिता को रेपेचेज दौर में मौका मिला लेकिन वह मैक्सिको की अल्मा जेन वालेंशिया से हार गई।
गीता ने पेरू की यानेट उर्सुला को 8-4 से हराया लेकिन इक्वाडोर की अलेक्जेंद्रा अंतेस कास्टिलो से 0-6 से हार गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App