ताज़ा खबर
 

महिला डॉक्‍टर के खिलाफ मरीजों को इस्‍लाम अपनाने की सलाह का आरोप, PMO नेे दिए जांच के आदेश

राजस्‍थान के बीकानेर में एक डॉक्‍टर के मरीजों को बीमारियां ठीक करने के लिए इस्‍लाम को मानने की सलाह देने का मामला सामने आया है।

सीनियर डॉक्टर पर आरोप, जूनियर डॉक्टर से मरीज को मारने के लिए कहा। (Representative Image)

राजस्‍थान के बीकानेर में एक डॉक्‍टर के मरीजों को बीमारियां ठीक करने के लिए इस्‍लाम को मानने की सलाह देने का मामला सामने आया है। डॉक्‍टर जमीमा हयात के खिलाफ कई मरीजों ने शिकायत की। इसके बाद सीएमएचओ डॉ. देवेंद्र चौधरी ने जमीमा हयात को चेताया कि वे ऐसा न करें। लेकिन महिला डॉक्‍टर ने इस पर ध्‍यान नहीं दिया और उनकी प्रेक्टिस जारी रही। हाल ही में उन्‍हें ताजा नोटिस जारी किया गया है।

खबरों के अनुसार, इस संबंध में प्रधानमंत्री कार्यालय ने भी जांच करने का आदेश दिया है। इसमें कहा गया है कि यदि आरोप सही पाए जाएं तो उचित कार्रवाई की जाए। पीएमओ को वेबसाइट पर इस बारे में शिकायत की गई थी। मनीष सिंघल नाम के शख्‍स ने बताया कि वह जमीमा के पास अपनी आठ साल की बेटी के इलाज के लिए गए थे।

उन्‍होंने बताया कि कैसे इस्‍लाम का अनुसरण करने से उनके परिवार की सारी समस्‍याएं दूर हो जाएंगी। इलाज के दौरान उन्‍होंने इस्‍लामिक वाक्‍य भी बोले। उनके खिलाफ पहले भी इस तरह की शिकायतें आई थीं। इसके चलते कई बार उनका ट्रांसफर भी हुआ। जमीमा का भाई भी डॉक्‍टर है और वह काफी मशहूर हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X
Testing git commit