ताज़ा खबर
 

अगर मेरे लक से जनता को लाभ हो रहा है तो भाजपा को वोट दें: नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने आप को ‘‘लकी’’ बताते हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा को पूर्ण बहुमत देकर स्थिर सरकार बनाने की मतदताओं से अपील की। उन्होंने खुद को ‘लकी’ बता कर अपने उन प्रतिद्वन्द्वियों पर निशाना साधा जो उनकी सारी ‘‘सफलताओं’’ को उनकी किस्मत बता रहे हैं। यहां द्वारका में एक चुनावी सभा […]

Author February 1, 2015 7:30 PM
मोदी ने विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग झूठ फैला रहे हैं, वे जानते नहीं हैं कि किसानों के हितों का संरक्षण कैसे किया जाए। (फ़ोटो-पीटीआई)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने आप को ‘‘लकी’’ बताते हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा को पूर्ण बहुमत देकर स्थिर सरकार बनाने की मतदताओं से अपील की। उन्होंने खुद को ‘लकी’ बता कर अपने उन प्रतिद्वन्द्वियों पर निशाना साधा जो उनकी सारी ‘‘सफलताओं’’ को उनकी किस्मत बता रहे हैं।

यहां द्वारका में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने अपने आठ महीने के शासन का उल्लेख करते हुए कहा कि इस दौरान पेट्रोल-डीजल के दाम गिर गए जिससे जनता को भारी फायदा पंहुचा है। उन्होंने कहा कि उनके प्रतिद्वन्द्वी खासकर कांग्रेस कहती है कि दाम केवल इसलिए कम हुए कि वह ‘लकी’ हैं। उन्होंने इस पर पलट कर सवाल भी किया, ‘‘आप किसी लकी व्यक्ति को चाहते हैं या ऐसे व्यक्ति को जो कम लकी हो।

अपने आप को ‘किस्मत वाला’ बताए जाने वालों पर कटाक्ष करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा अगर वह ऐसे ‘लकी’ हैं जिससे सत्ता में आने से पेट्रोल, डीजल और आवश्वयक वस्तुओं के दाम गिर जाएं तो ‘‘कोई उन्हें वोट क्यों दे जो ‘अनलकी’ हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ठीक है, चलिए मान लीजिए कि मैं लकी हूं लेकिन आपके पैसे की तो बचत हुई। अगर मोदी के लकी होने से जनता को फायदा हो रहा है तो, इससे ज्यादा भाग्यशाली क्या होगा? अगर मेरे लकी होने से पेट्रोल डीजल के दाम गिर सकते हैं और आम आदमी का पैसा बचता है, तो किसी ऐसे को लाने की क्या जरूरत है जो अनलकी हो?’’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘यह मोदी का लक नहीं है बल्कि जिसे 125 करोड़ लोगों का आशीर्वाद प्राप्त हो, उससे ज्यादा लक और कोई हो नहीं सकता।’’ उन्होंने कहा कि उनकी सरकार की हर सफलता पर जनता को गुमराह करने के लिए और झूठ फैलाने के प्रयास होंगे।

मोदी ने दिल्ली के मतदाताओं से अपील की कि भाजपा शासित राज्यों के कामकाज को देखते हुए वे यहां भी विकास के लिए भाजपा को शासन में लाएं, न कि धरने पर बैठने वालों को। उन्होंने कांग्रेस और खासकर आप को निशाने पर लेते हुए दोनों दलों पर ‘झूठ फैलाने’, ‘झूठे वायदे’ करने और पर्दे के पीछे आपस में सांठ-गांठ करने का आरोप लगाया।

आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ‘‘वे दो पर्टियां, जिन्होंने पर्दे के पीछे सांठ-गांठ की हुई है, वे ये चुनाव लड़ रही हैं। अब झूठ फैलाने, झूठे वायदे करने और झूठे इल्जाम लगाने की प्रतिस्पर्धा चल रही है, दिल्ली की फिजाओं में झूठ के बादल छाए हैं और जनता को मूर्ख बनाने के लिए वे झूठ का सहारा ले रहे हैं।’’

प्रधानमंत्री ने कहा कि दिल्ली को आज ‘‘समझदार और संवेदनशील सरकार’’ और राज्य के शीर्ष पद पर एक ऐसे व्यक्ति की जरूरत है जिसे मानव मूल्यों की समझ हो और जिसने शहर की जनता के लिए कार्य किया हो।

पार्टी की मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार किरण बेदी के बारे में उन्होंने कहा कि उन्होंने अपना अधिकतर समय यहां लगाया है और ट्रैफिक सहित दिल्ली की सभी समस्याओं का वह निदान करेंगी।

आप नेता केजरीवाल का नाम लिए बिना मोदी ने उन्हें निशाना बनाते हुए कहा कि अगर ऐसे व्यक्ति को वोट दिया गया जो टीवी मीडिया में स्थान पाने के लिए ‘‘धरना’’ देने में विश्वास रखता हो न कि जनता की समस्याएं सुलझाने में तो इससे दिल्ली को बहुत नुकसान होगा। उन्होंने कहा, ‘‘सरकार चलाना एक गंभीर कार्य है। सरकारें मीडिया में जगह बनाने के कार्य करके नहीं बल्कि लोगों के दिलों में जगह बना कर चलाई जा सकती हैं।

इस बार चुनाव में भाजपा को पूर्ण बहुमत से जीताने की अपील करते हुए मोदी ने कहा कि अगर दिल्ली में भाजपा की सरकार बनी तो उसके मुख्यमंत्री को ‘‘मोदी का भय’’ होगा और वह काम करके दिखाएगा।

उन्होंने कहा, ‘‘ दिल्ली को एक बहुमत सरकार की जरूरत है। एक ऐसी सरकार की जिसपर विश्वास किया जा सके। अगर आप भाजपा सरकार के लिए मतदान करते हैं तो जो यहां होगा (मुख्यमंत्री) उसे मोदी और केंद्रीय सरकार का भय होगा। लेकिन कोई ऐसा बना जिसके ऊपर कोई नहीं हो तो वह व्यक्ति केवल विनाश ही लाएगा।’’

पिछले खंडित जनादेश के बारे में उन्होंने कहा कि ‘अपूर्ण’ जनादेश से दिल्ली में विकास का एक साल पहले ही बर्बाद हो चुका है जिसने दिल्ली को 25 वर्ष पीछे धकेल दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App