ताज़ा खबर
 

योग, ध्‍यान, प्राणायाम के बाद मशीन पर भी कसरत करते हैं पीएम नरेंद्र मोदी, ये है उनका रूटीन

पीएम मोदी जब गांधीनगर से 5 आरसीआर पहुंचे थे तब वो अपने साथ अपने खास रसोइये बद्री को भी साथ लाए थें। पीएम सिर्फ बद्री द्वारा बनाया खाना ही खाते हैं।
कैबिनेट मंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फोटो-पीटीआई)

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दिनचर्या के बारे में कहा जाता है कि वो केवल 4 से 5 घंटे सोते हैं। बताया जाता है कि पीएम बनने से पहले जब वह गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब भी उनकी दिनचर्या कुछ ऐसी ही थी। प्रधानमंत्री मोदी रोज सुबह 5 बजे जगते हैं। उठने के बाद वो दिन की पहली चाय लेते हैं। चाय के साथ ही वो किताबें भी पढ़ते हैं। चाय पीने के बाद वह सुबह-सुबह ही अपना मेल चेक करते हैं। अपने मिनी कम्प्यूटर पर मेल चेक करने के बाद जरूरी इमेल्स का जवाब भी वह सुबह 5 बजे के करीब दे देते हैं। जरूरी मेल्स को निपटाने के बाद मोदी लगभग 1 घंटे तक योग, प्राणायाम और ध्यान लगाने का काम करते हैं। योग के बाद प्रधानमंत्री कुछ समय मशीनी कसरत को भी देते हैं।

योग और कसरत करने के बाद नरेंद्र मोदी सुबह साढ़े सात बजे तक स्नान और नाश्ता कर के तैयार हो जाते हैं। नाश्ते में पीएम को गुजराती व्यंजन ज्यादा पसंद है। पीएम नाश्ते में कभी पोहा कभी भाखड़ी तो कभी खाखड़ा खाना पसंद करते हैं। मोदी जब गांधीनगर से 5 आरसीआर पहुंचे थे तब वो अपने साथ अपने खास रसोइये बद्री को भी लाए थे। पीएम सिर्फ बद्री द्वारा बनाया खाना ही खाते हैं। नाश्ते के टेबल पर ही पीएम अखबार के जरिए देश दुनिया का हाल लेते हैं। जब तक वह नाश्ता करते हैं उनके कर्मचारी जरूरी खबरों को कंपाइल करके उन्हें मेल कर देते हैं जिसे पीएम जरूर देखते हैं।

नाश्ते के बाद पीएम कुछ जरूरी फोन कॉल्स करते हैं। ये आदत भी उनकी प्रधानमंत्री बनने से पहले की है। आज पीएम बनने के बाद भी वो किसी से कोई राय या सलाह लेने के लिए तुरंत फोन मिला देते हैं। 7:30 बजे के लगभग वो अपने दफ्तर पहुंच जाते हैं जहां उनके पहुंचने से पहले ही उनका स्टाफ जरूरी फाइलों को तैयार कर उनकी टेबल पर रख देता है। इन जरूरी फाइलों को निपटाने के बाद पीएम अपने कर्मचारियों के साथ बैठकें भी करते हैं। प्रधानमंत्री बनने के बाद से ही नरेंद्र मोदी रोजाना 6 लोगों को मिलने का समय देते हैं। इन लोगों से बातचीत के बीच ही वो अपना दोपहर का लंच भी कर लेते हैं। पीएम के लंच का समय दोपहर 1:30 से 2:30 के बीच का होता है।

लंच में पीएम मोदी हल्का खाना पसंद करते हैं। लंच के बाद मोदी को आराम करना बिल्कुल पसंद नहीं है। लंच के तुरंत बाद वो फिर से काम में जुट जाते हैं। रात करीब 10 बजे वो दफ्तर से अपने आवास के लिए निकल जाते हैं। 10:30 बजे रात का खाना खाने के बाद भी वो अपने कुछ काम निपटाते हैं। इनमें वो फोन कॉल्स से लेकर ट्वीट तक करते हैं। अकसर रात 11 बजे के बाद भी पीएम के ट्वीटर हैंडल से ट्वीट सामने आते रहे हैं। रात को साढ़े 12 बजे सोने से पहले तक वह किताब पढ़ते हैं। पीएम की ये दिनचर्या पिछले 15 सालों से ज्यादा वक्त से चली आ रही है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.