ताज़ा खबर
 

राज्यसभा नामांकन मिलने से हैरान थीं मैरीकोम

पांच बार की इस विश्व चैम्पियन मुक्केबाज ने कहा, ‘‘अभी मेरा पूरा ध्यान रियो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने पर है।’’

Author नई दिल्ली | April 23, 2016 6:58 PM
Mary Kom, Mary Kom in rajya sabha, Mary Kom rajya sabha, Mary Kom Rio Olympicsपांच बार की विश्व चैम्पियन और ओलंपिक कांस्य पदक विजेता मैरीकोम। (फाइल फोटो)

राज्यसभा का नामांकन मिलने से हैरान भारत की स्टार महिला मुक्केबाज एमसी मैरीकोम ने शनिवार (23 अप्रैल) को कहा कि अभी उनके पास अपनी नई भूमिका के बारे में सोचने का समय नहीं है क्योंकि उनका ध्यान ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने पर है। लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता मैरीकोम ने कहा कि राज्य सभा के लिए नामित होना बहुत बड़े सम्मान की बात है लेकिन वह संसद में अपनी भूमिका के बारे में सोचकर खुद को दबाव में नहीं डालना चाहती।

बॉलीवुड स्टार सलमान खान को रियो ओलंपिक के लिए भारतीय दल का सदभावना दूत बनाने के लिए आयोजित कार्यक्रम के इतर मैरीकोम ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘राज्य सभा के लिए नामित होना बहुत बड़े सम्मान की बात है। यह अचानक हुआ और मैं हैरान थी। जब मुझे बताया गया कि मुझे राज्य सभा के लिए नामित किया जाएगा तो मैंने सोचना शुरू कर दिया कि सांसद के रूप में मैं क्या करूंगी।’’

पांच बार की इस विश्व चैम्पियन मुक्केबाज ने कहा, ‘‘मैंने अब तक ओलंपिक के लिए क्वालीफाई नहीं किया है और जब तक मैं क्वालीफाई नहीं कर लेती तब तक मैं इस बारे में नहीं सोचने वाली कि सांसद के रूप में मेरी क्या भूमिका होगी। ऐसा करने से रियो क्वालीफिकेशन के मेरे प्रयास के दौरान मुझ पर दबाव बन जाएगा। इसलिए मेरा पूरा ध्यान रियो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने पर है।’’

मैरीकोम एशिया चैम्पियनशिप के दौरान रियो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाई थी क्योंकि उन्हें 51 किग्रा वर्ग के सेमीफाइनल में हार झेलनी पड़ी थी। अब उनके पास अगले महीने होने वाली विश्व चैम्पियनशिप के जरिये क्वालीफाई करने का मौका होगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘ओवरवेट’ विनेश फोगाट ओलंपिक क्वालीफाइंग टूर्नामेंट से बाहर
2 पैनासोनिक ओपन: कपूर दूसरे स्थान पर, गंगजी और जीव ने भी कट हासिल किया
3 अंडर-17 फीफा विश्व कप भारतीय फुटबॉल को बदलने की पहल: प्रफुल्ल पटेल
ये पढ़ा क्या?
X