ताज़ा खबर
 

पत्थरबाज को जीप से बांधने वाले मेजर गोगोई से लड़की के मामले में पूछताछ, जांच जारी

होटल ग्रांड ममता के मालिक ने बताया कि मेजर गोगोई के साथ किसी महिला के होने की जानकारी के बाद उन्होंने बुंकिंग से इनकार कर दिया था, लेकिन सुबह के वक्त बुकिंग डॉट कॉम से हमें एक बुकिंग मिली।

Author May 24, 2018 1:18 PM
मामले में कश्मीर के आईजीपी एसपी पाणी ने जांच के आदेश दिए हैं। जांच की जिम्मेदारी नोर्थ सिटी के एसपी सज्जाद अहमद शाह को दी गई है। (file photo)

पिछले साल जम्मू-कश्मीर में पथराव की घटना के दौरान बडगाम जिले में एक स्थानीय युवक को जीप के बोनेट पर बांधने वाले मेजर लीतुल गोगोई से बुधवार (23 मई, 2018) को राज्य की पुलिस ने श्रीनगर के होटल में पूछताछ की। गोगोई के साथ एक स्थानीय महिला और एक अन्य शख्स से भी पूछताछ की गई। गोगोई से होटल के एक कर्मचारी से मारपीट के आरोप में पूछताछ की गई, जिसने महिला को होटल के अंदर नहीं जने दिया। पूछताछ के बाद गोगोई को जाने की अनुमति दे दी गई। मामले में कश्मीर के आईजीपी एसपी पाणी ने जांच के आदेश दिए हैं। जांच की जिम्मेदारी नोर्थ सिटी के एसपी सज्जाद अहमद शाह को दी गई है। शाह ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, ‘हम पूछताछ कर रहे हैं। अब तक की कहानी यह है कि लीतुल गोगोई के नाम पर होटल में एक कमरा बुक किया गया था। इसके बाद एक कपल होटल में आया लेकिन उन्हें अंदर आने की अनुमति नहीं दी गई। होटल स्टाफ ने कहा कि स्थानीय लड़की को होटल में जाने की अनुमति नहीं दे सकते हैं।’

एसपी शाह ने आगे बताया कि इसपर रिसेप्शन पर तकरार की स्थिति पैदा हो गई। जिसपर होटल स्टाफ ने पुलिस को घटना की जानकारी दी। बाद में होटल में एक पुलिस टीम भेजी गई, जो गोगोई, स्थानीय महिला और अन्य शख्स को यहां ले आई। हालांकि जांच के दौरान हमें कुछ नहीं मिला है। लड़की बालिग है। वह 18 साल से ज्यादा की चाहिए या फिर उसकी उम्र 18 या 19 वर्ष की होगी। बाद में जांच के बाद उन्हें छोड़ दिया। मामले में पुलिस द्वारा जारी प्रेस रिलीज में कहा गया है, ‘गोगोई को उनकी यूनिट के हवाले कर दिया है। बडगाम की लड़की और अन्य शख्स जिसका नाम समीर अहमद है, दोनों होटल में कुछ लोगों को देखने आए थे। मगर होटल रिसेप्शन ने मिलने नहीं दिया। इसी दौरान पुलिस पार्टी होटल पहुंच गई और सभी को पुलिस स्टेशन ले आई।’ प्रेस रिलीज में आगे कहा गया, ‘बाद में पता चला की लड़की होटल में सेना के किसी अधिकारी से मिलने आई थी। सेना के उस अधिकारी की पहचान और अन्य जानकारियां पुलिस द्वारा एकट्ठा की गई हैं। वहीं सेना के अधिकारी का बयान दर्ज करने के बाद उन्हें उनकी यूनिट को सौंप दिया गया है। इसके अलावा महिला का भी बयान दर्ज किया गया। मामले में जांच शुरू कर दी गई है।’

वहीं होटल ग्रांड ममता के मालिक ऐजाज अहमद चाशू ने बताया, ‘मेजर गोगोई के साथ किसी महिला के होने की जानकारी के बाद उन्होंने बुंकिंग से इनकार कर दिया था, लेकिन सुबह के वक्त बुकिंग डॉट कॉम से हमें एक बुकिंग मिली। ये बुकिंग मेजर गोगोई के नाम पर थी। इसमें कहा गया कि रूम एक रात के लिए दो लोगों के साथ रहने के लिए चाहिए। ऑनलाइन बुकिंग में मेजर गोगोई ने कहा कि मैं बिजनेस के सिलसिले में यात्रा कर रहा हूं। होटल रिसेप्शन पर जब गोगोई से आईडी दिखाने के लिए कहा गया तो उन्होंने अपना ड्राइविंग लाइसेंस दिखाया। साथ ही महिला भी पहली बार अपना पहचान पत्र दिखाने में हिचकिचाई लेकिन बाद में उसने अपना आधार कार्ड दिखाया, जो बडगाम का था। इस दौरान हमें लगा कि लड़की नाबालिग है और स्थानीय है। आधार कार्ड पर भी उसकी जन्मतिथि 2001 थी। इसपर हमने गोगोई से कहा होटल के नियमों के मुताबिक स्थानीय लोगों को होटल नहीं दिया जाता है। खास तौर पर जब एक लड़का और एक लड़की रूम लेने आए हों। ऐजाज अहमद ने बताया कि इसके बाद होटल स्टाफ मेजर गोगोई का लगेज उनकी कार में रख दिया। इसपर उनके ड्राइवर ने होटल स्टाफ से हाथापाई की। पुलिस ने आरोपी ड्राइवर की पहचान समीर अहमद के रूप में की है जो बडगाम का निवासी है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App