ताज़ा खबर
 

दाना-पानी : हरा-भरा चावल, रोटी नूडल्स

घर में अक्सर भोजन कुछ अधिक बनने की वजह से बच जाता है, तो कई लोगों को चिंता होती है कि उसका करें क्या। कुछ लोग उसे फ्रिज के हवाले कर देते हैं और अगले दिन गरम करके खाते हैं। कुछ लोग उसे पंछियों या सड़कों पर घूमते पशुओं, कुत्तों वगैरह को डाल देते हैं। पर यह बचे हुए भोजन को निपटाने का सही तरीका नहीं है। इससे बेहतर है कि बच् हुए भोजन से कुछ अलग तरह की स्वादिष्ट चीजें बना लें। आइए बनाते हैं कुछ ऐसे ही व्यंजन।

Author February 11, 2018 3:33 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

मानस मनोहर

रोटी नूडल्स

हाल के शोधों से पता चला है कि कुछ खाद्य पदार्थ रात भर के बासी हों तो भी उन्हें खाना नुकसानदेह नहीं होता। बल्कि रोटी और चावल जैसी चीजों में रात भर बासी रहने के दौरान कुछ ऐसे बैक्टीरिया पैदा हो जाते हैं, जो पेट की कई समस्याओं को दूर करने में मददगार होते हैं। इसलिए रोटी और भात रात भर का बासी हो, तो भी उसे खाने से हिचकना नहीं चाहिए। खासकर सर्दी के मौसम में इनके खराब होने की संभावना बहुत कम होती है। वैसे गरमी के मौसम में भी इन्हें फ्रिज में रख दिया जाए तो रात भर में खराब नहीं होते।

बासी रोटी के नूडल्स बनाएं। यह बच्चे और बड़ों, दोनों को बहुत पसंद आएगा। रोटी के नूडल्स बनाने के लिए उन्हीं सारी चीजों की जरूरत पड़ती है, जो प्राय: नूडल्स यानी चाऊमीन में पड़ती हैं। हरी सब्जियां, जैसे पत्ता गोभी, बीन्स, हरा प्याज, शिमला मिर्च, टमाटर, गाजर। इसके अलावा टमाटर की सॉस, सोया सॉस और सफेद सिरका यानी वेनेगर। रोटी नूडल्स बनाने के लिए सबसे पहले रोटियों को एक साथ मिला कर गोल लपेटें और उन्हें पतले लच्छे की तरह काट लें। एक पैन में आधा चम्मच घी गरम करें और रोटियों के छल्ले को हल्का सेंक लें। ध्यान रखें कि सिर्फ सेंकें, कड़ा न करें। इससे नूडल्स की तरह सब्जियों के साथ पकाने पर रोटी के छल्ले गलेंगे नहीं। अब सब्जियों को लंबा-लंबा काट लें। एक बड़ी कड़ाही में घी या खाने का तेल गरम करें। चाहें तो जीरे और राई का तड़का लगा सकते हैं। न भी लगाएं तो कोई बात नहीं। अब आंच तेज रखें और सारी सब्जियों को एक साथ डालें और चलाते हुए आधा पकाएं। अब उसमें नमक, टमाटर सॉस, सोया सॉस और एक चम्मच सिरका डालें। फिर उसमें रोटी के छल्ले डाल कर चलाते हुए पकाएं। अगर नूडल्स सूखे लग रहे हों तो आंच बंद करने के बाद टमाटर का सॉस और डालें और ठीक से मिला दें। झटपट स्वादिष्ट और सेहतमंद रोटी नूडल्स तैयार है। इसे गरमागरम खाने को परोसें।

हरा-भरा चावल

त के बचे हुए चावलों से कई व्यंजन तैयार किए जा सकते हैं। उन्हें घी में जीरे का तड़का लगा कर सीधा फ्राई करके, नमक डाल कर सब्जी या दाल के साथ तो आमतौर पर लोग खाते हैं। इसके अलावा मूंगफली के दाने और मूंगदाल के कुछ दानों के साथ भून कर, उसमें इमली का पानी मिला कर खट्टे चावल भी तैयार किए जाते हैं। कुछ लोग इन्हें गुड़ के पानी में पका कर मीठा चावल भी बना लेते हैं। पर हरे-भरे चावल खाने का मजा ही अलग होता है। हरा-भरा चावल बनाने के लिए वही सारी सब्जियां लें, जो रोटी नूडल्स के लिए इस्तेमाल की हैं। पत्ता गोभी, शिमला मिर्च, गाजर, बीन्स, हरा प्याज, टमाटर। इनके अलावा फूल गोभी, मटर के दाने, चुकंदर, हरी मिर्च आदि का भी उपयोग कर सकते हैं। सब्जियों को लंबे आकार में काट लें। टमाटर का गूदा निकाल कर सिर्फ उसकी मोटी परत का ही उपयोग करें। अब कड़ाही में एक चम्मच घी गरम करें। उसमें राई और जीरे का तड़का लगाएं। तड़का तैयार हो जाए तो कटी हुई सब्जियों को डाल कर चलाएं। सब्जियां आधी पक जाएं, तो उसमें नमक, हल्दी, थोड़ा-सा लाल मिर्च पाउडर, उतनी ही मात्रा में सब्जी मसाला डाल कर चलाएं। फिर चावलों को डाल कर आंच धीमी कर दें और सब्जियों के साथ मिला कर कड़ाही पर ढक्कन लगा दें। इससे सब्जियों की भाप से चावल खुल जाएंगे और फिर उनका दाना-दाना अलग हो जाएगा। इस तरह दो-तीन मिनट ढकने के बाद ढक्कन हटा दें और चलाते हुए तीन से चार मिनट तक पकाएं। जब भाप उठने लगे तो आंच बंद कर दें। अब ऊपर से नीबू का रस और कटा हुआ धनिया पत्ता डाल कर अच्छी तरह मिला लें। हरा-भरा चावल तैयार है। टमाटर के सॉस या हरी चटनी के साथ गरमा-गरम खाने को परोसें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App