ताज़ा खबर
 

आईपीएल-9: बल्लेबाजों की जंग में गुजरात पर बादशाहत कायम रखने उतरेगा आरसीबी

लायंस ने लीग चरण में 14 में से नौ मैच जीतकर 18 अंक के साथ शीर्ष स्थान हासिल किया लेकिन आरसीबी ने आठ मैचों में जीत से 16 अंक लेकर दूसरा स्थान हासिल करने में कामयाब रहा।

Author बंगलुरु | May 23, 2016 23:52 pm
रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु बनाम गुजरात लायन्स।

विराट कोहली और एबी डिविलियर्स की बेहतरीन बल्लेबाजी के दम पर पिछले सात में से छह मैच जीतने वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु और सभी प्रमुख बल्लेबाजों के उपयोगी योगदान के सहारे लीग चरण में शीर्ष पर रहने वाली गुजरात लायन्स आइपीएल नौ के पहले क्वालीफायर्स में मंगलवार (24 मई) को यहां जब आमने सामने होंगी तो ‘बल्लेबाजी की जंग’ में अपना पलड़ा ऊपर रखने वाली टीम के ही आगे बढ़ने की अधिक संभावना रहेगी। आइपीएल में पहली बार भाग ले रहे लायंस ने लीग चरण में 14 में से नौ मैच जीतकर 18 अंक के साथ शीर्ष स्थान हासिल किया लेकिन आरसीबी ने आखिरी दौर में न सिर्फ बल्लेबाजी बल्कि गेंदबाजी में भी अच्छा प्रदर्शन किया जिससे वह आठ मैचों में जीत से 16 अंक लेकर दूसरा स्थान हासिल करने में कामयाब रहा। सनराइजर्स हैदराबाद और कोलकाता नाइटराइडर्स के भी समान 16 अंक रहे लेकिन आरसीबी ने बेहतर रन रेट के आधार पर सीधे क्वालीफायर्स में खेलने का हक पाया।

आरसीबी और लायंस के बीच चिन्नास्वामी स्टेडियम में मंगलवार (24 मई) को होने वाले मैच की विजेता टीम सीधे फाइनल में पहुंचेगी जबकि हारने वाली टीम को खिताबी मुकाबले में जगह बनाने का एक और मौका मिलेगा। मंगलवार (24 मई) को हारने वाली टीम दूसरे क्वालीफायर में सनराइजर्स और केकेआर के बीच होने वाले एलिमिनेटर के विजेता से भिड़ेगी। कोहली के उत्कृष्ट फॉर्म से आरसीबी ने पिछले मैचों में अनुकूल परिणाम हासिल किए हैं। उसकी टीम लगातार चार मैच जीतकर इस मुकाबले में उतरेगी और अपना विजय अभियान जारी रखने के लिये किसी तरह का कसर नहीं छोड़ना चाहेगी। आरसीबी ने अपने पिछले चारों मैच बड़े अंतर से जीते हैं। उसने लायंस को 144 रन, केकेआर को नौ विकेट, किंग्स इलेवन पंजाब को डकवर्थ लुईस पद्वति से 82 रन और दिल्ली डेयरडेविल्स को छह विकेट से हराया।

आरसीबी का सबसे मजबूत पक्ष कोहली की शानदार बल्लेबाजी और प्रभावशाली कप्तानी है। इस स्टार बल्लेबाज ने अभी तक 14 मैचों में रेकॉर्ड 919 रन बनाए हैं जिसमें चार शतक और छह अर्धशतक शामिल हैं। उन्होंने लायंस के खिलाफ लीग चरण में जो दोनों मैच खेले उनमें शतक जड़े और इसलिए सुरेश रैना की अगुआई वाली टीम को कोहली से सबसे ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत पड़ेगी। इन दोनों टीमों के बीच जो पिछला मैच हुआ था उसमें एबी डिविलियर्स ने भी 129 रन की तूफानी पारी खेली थी जिससे आरसीबी ने 248 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया था। डिविलियर्स अभी तक कुल 603 रन बना चुके हैं। केएल राहुल (386 रन) ने शीर्ष और मध्यक्रम दोनों में अपनी भूमिका बखूबी निभाई है। क्रिस गेल भले ही अभी तक अपना जलवा नहीं दिखा पाए हैं लेकिन कोई भी टीम उन्हें हल्के से लेने की गलती नहीं कर सकती। शेन वाटसन की अंतिम ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करने की क्षमता किसी से छिपी नहीं है।

वॉटसन ने हालांकि अब तक गेंदबाजी में मुख्य भूमिका निभाई है। उन्होंने शुरू से ही आरसीबी की तरफ से अच्छी गेंदबाजी की लेकिन उन्हें दूसरे गेंदबाजों का उचित सहयोग नहीं मिला। आखिरी चरण में हालांकि आरसीबी के कम अनुभवी गेंदबाजों ने भी बेहतर प्रदर्शन किया जिससे टीम अपने स्कोर का बचाव करने में सफल रही। यहां तक कि दिल्ली डेयरडेविल्स को रविवार को करो या मरो वाले मैच में उसने आठ विकेट पर 138 रन ही बनाने दिए थे। कोहली के लिए लेग स्पिनर युजवेंद्र चाहल तुरुप का इक्का साबित हो रहे हैं। उन्होंने अब तक 11 मैचों में 19 विकेट लिए हैं। वाटसन ने 16 विकेट हासिल किए हैं। क्रिस जोर्डन बाद में टीम से जुड़े। उन्होंने कुछ मैचों में डेथ ओवरों में रनों पर अंकुश लगाने में अहम भूमिका निभाई।

जहां तक गुजरात लायंस का सवाल है तो उसकी टीम ज्यादा संतुलित है। आरसीबी के सिर्फ शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों को ही ज्यादा मौका मिला है जबकि लायंस के लगभग सभी बल्लेबाजों ने अपना योगदान दिया है। ब्रैंडन मैकुलम (321 रन), आरोन फिंच (339), कप्तान रैना (397), ड्वेन स्मिथ (250) और दिनेश कार्तिक (283) ने अभी तक जरूरत के समय रन बटोरे हैं। ड्वेन ब्रावो को बल्लेबाजी में बहुत ज्यादा मौका नहीं मिला लेकिन उन्होंने गेंदबाजी में अपना कमाल दिखाया है। वेस्ट इंडीज का यह आलराउंडर डेथ ओवरों का उपयोगी गेंदबाज है। उन्होंने अब तक 15 विकेट लिए हैं। धवल कुलकर्णी (14 विकेट) ने नई गेंद का अच्छा इस्तेमाल किया है जबकि पिछले कुछ मैचों में स्मिथ ने अपनी गेंदबाजी कौशल का बढ़िया नमूना पेश करके रैना के लिए विकल्प मुहैया कराया है। स्विंग गेंदबाज प्रवीण कुमार अनुकूल परिस्थितियों में खतरनाक साबित हो सकते हैं। रविंद्र जडेजा और प्रवीण तांबे पर स्पिन विभाग की जिम्मेदारी है हालांकि अभी तक वे अपेक्षित प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। चाइनामैन शिविल कौशिक अपने अजीबोगरीब एक्शन से बल्लेबाजों को परेशानी में डालते रहे हैं।

टीमें इस प्रकार हैं …

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु : विराट कोहली (कप्तान), वरुण आरोन, अबु नेचिम, एस अरविंद, स्टुअर्ट बिन्नी, युजवेंद्र चाहल, एबी डिविलियर्स, प्रवीण दुबे, क्रिस गेल, ट्रेविस हेड, इकबाल अब्दुल्ला, केदार जाधव, अक्षय कर्णेवार, सरफराज खान, विक्रमजीत मलिक, मंदीप सिंह, हर्षल पटेल, लोकेश राहुल, परवेज रसूल, केन रिचर्डसन, सचिन बेबी, विकास टोकस, शेन वाटसन, डेविड वीसे, क्रिस जोर्डन, तबरेज शम्सी।

गुजरात लायंस : सुरेश रैना (कप्तान), ड्वेन स्मिथ, ब्रैंडन मैकुलम, आरोन फिंच, दिनेश कार्तिक, रविंद्र जडेजा, जेम्स फाकनर, ईशान किशन, प्रवीण कुमार, धवल कुलकर्णी, शिविल कौशिक, सरबजीत लड्ढा, अमित मिश्रा, अक्षदीप नाथ, ड्वेन ब्रावो, पारस डोगरा, एकलव्य द्विवेदी, शादाब जकाती, प्रदीप सांगवान, जयदेव शाह, उमंग शर्मा, डेल स्टेन, प्रवीण तांबे और एंड्रयू टाये।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App