ताज़ा खबर
 

Asia Cup 2016: भारत ने हासिल की छठी जीत, अंत में काम आया कैप्टन कूल का छक्का

धोनी ने छह गेंद में नाबाद 20 रन की पारी खेली। कोहली की 28 गेंद की पारी में पांच चौके शामिल रहे। बांग्लादेश ने महमूदुल्लाह (नाबाद 33) और शब्बीर रहमान (नाबाद 32) की उम्दा पारियों की मदद से पांच विकेट पर 120 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया था। बांग्लादेश ने 75 रन पर पांच विकेट गंवा दिए थे लेकिन इन दोनों ने छठे विकेट के लिए 3.2 ओवर में 45 रन की अटूट साझेदारी करके मेजबान टीम की पारी को संवारा।

Author मीरपुर | Published on: March 7, 2016 3:26 AM
(Photo- Cricket Addictors)

गेंदबाजों के कमाल के बाद शिखर धवन के करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी की बदौलत भारत ने वर्षा से प्रभावित एशिया कप टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट के एकतरफा फाइनल में बांग्लादेश को आठ विकेट से हराकर टूर्नामेंट में अजेय रहते हुए खिताब अपने नाम किया। मैच की शुरूआत से पहले ही तेज आंधी और बारिश आ गई जिसके कारण मैच दो घंटे के विलंब से शुरू हुआ और इसे 15 ओवर का कर दिया गया।

बांग्लादेश के 121 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने शिखर धवन (60) और विराट कोहली (नाबाद 41) के बीच दूसरे विकेट की 94 रन की साझेदारी की बदौलत 13.5 ओवर में दो विकेट पर 122 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की। धवन ने 44 गेंद की अपनी पारी में नौ चौके और एक छक्का मारा।

धोनी ने छह गेंद में नाबाद 20 रन की पारी खेली। कोहली की 28 गेंद की पारी में पांच चौके शामिल रहे। बांग्लादेश ने महमूदुल्लाह (नाबाद 33) और शब्बीर रहमान (नाबाद 32) की उम्दा पारियों की मदद से पांच विकेट पर 120 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया था। बांग्लादेश ने 75 रन पर पांच विकेट गंवा दिए थे लेकिन इन दोनों ने छठे विकेट के लिए 3.2 ओवर में 45 रन की अटूट साझेदारी करके मेजबान टीम की पारी को संवारा।

भारत ने रिकार्ड छठी बार एशिया कप का खिताब जीता जिसका आयोजन पहली बार टी20 प्रारूप में किया गया था। इससे पहले भारत ने पांचों खिताब 50 ओवर के प्रारूप में जीते थे। इसके साथ ही भारत ने 2016 में टी-20 प्रारूप में अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए 11 मैचों में 10वीं जीत दर्ज की।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारत की शुरूआत अच्छी नहीं रही। रोहित शर्मा (01) अल अमीन हुसैन के पारी के दूसरे ओवर में ही स्लिप में सौम्य सरकार को आसान कैच दे बैठे। धवन ने तास्किन अहमद (14 रन पर एक विकेट) पर चौके के साथ खाता खोला जबकि अल अमीन की गेंद को भी बाउंड्री के दर्शन कराए। उन्होंने बायें हाथ के तेज गेंदबाज अबु हिदेर का स्वागत दो चौकों के साथ किया जबकि विराट कोहली ने भी इस ओवर में चौका जड़ा। भारत ने पावर प्ले के पांच ओवर में एक विकेट पर 33 रन बनाए।

कोहली ने बायें हाथ के स्पिनर साकिब अल हसन की पहली गेंद को बाउंड्री के दर्शन कराए जबकि धवन ने इसी ओवर में दो चौके मारे। कोहली ने मशरफी मुर्तजा की गेंद पर एक रन से 32 गेंद में धवन के साथ अर्धशतकीय साझेदारी पूरी की। धवन ने मुर्तजा की गेंद को बैकवर्ड स्क्वायर लेग बाउंड्री पर छह रन के लिए भेजा।

बांग्लादेश में बीच के ओवर में कुछ प्रभाव छोड़ा। आफ स्पिनर नासिर हुसैन ने दो ओवर में सिर्फ सात रन दिए जिससे भारत को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 50 रन की दरकार थी। धवन ने साकिब पर लगातार दो चौकों के साथ 35 गेंद में अपना दूसरा अर्धशतक पूरा किया और भारत पर बने दबाव को भी कम किया। कोहली ने भी हुसैन ने अगले ओवर में लगातार दो चौक मारे जबकि धवन ने भी एक चौका जड़कर भारत को आसान जीत की ओर बढ़ाया।

भारत को अंतिम तीन ओवर में सिर्फ 24 रन चाहिए थे। तास्किन ने धवन को सरकार के हाथों कैच कराया लेकिन धोनी ने अल अमीन पर छक्का, चौका और फिर छक्का जड़कर टीम को जीत दिला दी।

बांग्लादेश को भारत की अनुशासित गेंदबाजी के सामने परेशानी हुई लेकिन महमूदुल्लाह और शब्बीर ने टीम को संकट से उबारा। महमूदुल्लाह ने 13 गेंद की अपनी पारी में दो छक्के और दो चौके मारे जबकि शब्बीर की 29 गेंद की पारी में दो चौके शामिल रहे।

भारत की ओर से तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और रविचंद्रन अश्विन ने किफायती गेंदबाजी करते हुए तीन ओवर में क्रमश: 13 और 14 रन देकर एक एक विकेट हासिल किया। हार्दिक पांडया (बिना विकेट के 35 रन) और आशीष नेहरा (एक विकेट पर 33 रन) हालांकि काफी महंगे साबित हुए। रविंद्र जडेजा (25 रन पर एक विकेट) ने भी एक विकेट हासिल किया।

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और गेंदबाजों ने टीम को अच्छी शुरूआत दिलाई। सौम्य सरकार (14) ने अश्विन पर चौके के साथ खाता खोला जबकि चौथे ओवर में नेहरा पर लगातार दो चौके मारे लेकिन इस तेज गेंदबाज की अगली गेंद पर मिड आफ में पांडया को आसान कैच दे बैठे।

दूसरे सलामी बल्लेबाज तमीम इकबाल भी 13 रन बनाने के बाद बुमराह की गेंद पर पगबाधा आउट हो गए जिससे टीम का स्कोर दो विकेट पर 30 रन हो गया। साकिब अल हसन (21) और शब्बीर ने तीसरे विकेट के लिए 34 रन जोड़कर पारी को संभालने की कोशिश की। दोनों ने जडेजा का स्वागत चौकों के साथ किया। साकिब ने पांडया पर भी दो चौके मारे लेकिन अश्विन ने उन्हें शार्ट फाइन लेग पर बुमराह के हाथों कैच करा दिया।

मुशफिकुर रहीम (04) को कोहली के सटीक थ्रो पर धोनी ने रन आउट किया। मुशफिकर का बल्ला हवा में उठा रह गया था। कप्तान मशरफी मुर्तजा (00) भी जडेजा की अगली गेंद पर डीप मिडविकेट पर सीधे कोहली को कैच दे बैठे जिससे टीम का स्कोर पांच विकेट पर 75 रन हो गया।

महमूदुल्लाह ने इसके बाद तेजतर्रार पारी खेलकर टीम को चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंचाया। उन्होंने 14वें ओवर में पांडया की लगातार गेंदों पर चौका और छक्का जड़कर टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया। उन्होंने इसी ओवर में लांग आन पर एक और छक्का जड़ा जिससे ओवर में 21 रन बने। बांग्लादेश की टीम अंतिम तीन ओवर में 42 रन जोड़ने में सफल रही

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X