ताज़ा खबर
 

ICC T20 WC Ind vs Pak: रिकॉर्ड धोनी के पक्ष में, हालात अफरीदी के साथ

अभी स्थिति ऐसी है कि टूर्नामेंट और फॉर्मेट का रिकॉर्ड तो भारत के पक्ष में हैं। लेकिन हालात और मैदान के आंकडें पाकिस्‍तान के साथ है।

ICC T20 WC, 2016 T20 World Cup, cricket, India, India vs Pakistan, pakistan, t20 world cup 2016, kolkata t20I, ind vs pak, world t20, MS dhoni, shahid afridi, आईसीसी टी20 वर्ल्‍ड कप, वर्ल्‍ड टी20 भारत पाकिस्‍तान, भारत बनाम पाकिस्‍तान, कोलकाता टी20वर्ल्‍ड टी20 में भारत और पाकिस्‍तान का मैच धोनी और अफरीदी की प्रतिष्‍ठा से भी जुड़ा हुआ है।

वर्ल्‍ड टी20 में भारत और पाकिस्‍तान कोलकाता के ईडन गार्डंस मैदान में शनिवार को भिड़ेंगे। भारत को शुरू में खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा था लेकिन नागपुर की टर्न लेती पिच पर उसे न्‍यूजीलैंड के हाथों करारी हार झेलनी पड़ी। इस परिणाम से विश्व की नंबर एक टीम पर पहले दौर में बाहर होने का खतरा मंडराने लगा है। उसके लिए अब ईडन गार्डन्स में पाकिस्तान से होने वाला मुकाबला करो या मरो जैसा बन गया है। अभी स्थिति ऐसी है कि टूर्नामेंट और फॉर्मेट का रिकॉर्ड तो भारत के पक्ष में हैं। लेकिन हालात और मैदान के आंकडें उसके खिलाफ है।

पाकिस्तान वनडे और टी20 विश्व कप को मिलाकर 10 बार भारत से हारा है। इसमें छह बार वनडे वर्ल्‍ड कप और चार बार टी20 वर्ल्‍ड कप शामिल हैं। विश्व टी-20 चैंपियनशिप में उसे 2007, 2012 और 2014 में भारत के हाथों हार झेलनी पड़ी। इसके अलावा टी20 फॉर्मेट में भी पलड़ा भारत का ही भारी हैै। दोनों टीमों के बीच अब तक सात मैच खेले गये हैं जिनमें से भारत ने पांच जीते हैं जबकि पाकिस्तान ने एक। एक मैच टाई रहा था जिसे भारत ने बॉल आउट में जीता था।

भारत भले ही विश्व टूर्नामेंटों में कभी पाकिस्तान से नहीं हारा हो लेकिन कोलकाता में वह पाकिस्‍तान से सीमित ओवरों के मैच में नहीं जीत पाया है। भारत और पाकिस्‍तान के बीच कोलकाता में चार वनडे मैच खेले गए हैं। इनमें से भारत एक भी नहीं जीत पाया है।

न्यूजीलैंड के खिलाफ हार भारत के लिए झटका है लेकिन यह नहीं भूलना चाहिए कि 2007 विश्व टी-20 में भी उसे कीवी टीम से हार झेलनी पड़ी थी। अब यह देखना होगा कि इस बार भी शुरुआती हार को भुलाकर खिताब जीतने में सफल रहते हैं या नहीं। वैसे अब तक कोई भी मेजबान टीम विश्व टी-20 का खिताब नहीं जीत पाई है।

कोलकाता में मैचों के लिए तीन पिचें तैयार की गई है। कोलकाता में कुल छह मैच खेले जाएंगे। भारत पाकिस्‍तान का मैच नई पिच पर खेला जाएगा। क्‍योंकि आईसीसी के नियमानुसार एक पिच पर लगातार दो मैच खेले जाएंगे। इसके तहत पाकिस्‍तान-बांग्‍लादेश और श्रीलंका-अफगानिस्‍तान के मैच एक पिच पर हो चुके हैं। ग्राउंड्समैन के अनुसार भारत-पाकिस्‍तान मैच वाली पिच धीमी और समान उछाल वाली हो सकती है। इसे देखते हुए मैच लॉ स्‍कोरिंग रह सकता हैै। मैच के दौरान ओस भी अहम कारण होगा।

धीमी पिच होने के चलते टॉस की भूमिका अहम हाे जाएगी। इसे देखते हुए साफ है कि जो भी टीम टाॅस जीतेगी वह पहले गेंदबाजी करने का फैसला ही करेगी। कोलकाता का रिकॉर्ड भी पहले गेंदबाजी करने वाली टीम के पक्ष में ही हैं।

ओस भी मैच में निर्णायक भूमिका निभा सकता है। ओस होने पर दूसरी पारी में गेंदबाजी करने वाली टीम के लिए मुश्किलें बढ़ जाएंगी। क्‍योंकि स्पिनर्स के लिए ग्रिप करने में आसानी नहीं होगी। साथ ही गेंद गीली होने पर स्विंग भी कम होगी।

अगर पिच धीमी रहती है तो हाे सकता है कि भारतीय टीम तीन स्पिनर्स के साथ उतरे। इसके चलते हार्दिक पंड्या की छुट्टी हो सकती है और हरभजन को जगह मिल सकती है। साथ ही पाकिस्‍तान के लिए नुकसान हो सकता है। क्‍यों कि उसकी ताकत तेज गेंदबाजी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories