ताज़ा खबर
 

मुझे अपनी जिंदगी बेहतर बनाने के लिए प्रियंका की जरूरत नहीं थीःरॉबर्ट वाड्रा

हरियाणा में जमीन सौदों के चलते विवादों में आए वाड्रा ने कहा कि वे कभी भारत नहीं छोड़ेंगे। उन्‍होंने कहा,'मैं यहीं जन्‍मा और पला बढ़ा हूं। अगर मेरा अपमान भी होता है तो भी मैं मेरा देश नहीं छोड़ूंगा।

नई दिल्‍ली | Updated: April 14, 2016 2:16 PM
राजनीति में जाने के सवाल पर रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि मैं कभी ना नहीं कहूंगा। देखते हैं भविष्‍य में क्‍या लिखा है। (File Photo)

कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा ने कहा है कि जिंदगी में ऊपर जाने के लिए उन्‍होंने प्रियंका गांधी का सहारा नहीं लिया। समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में उन्‍होंने कहा,’मैंने अपनी जिंदगी को बेहतर करने के लिए पत्‍नी प्रियंका की मदद नहीं ली। मैं संपन्‍न था। मैं हमेशा से संपन्‍न था। मेरे पिता ने मुझे संपन्‍नता दी। मैं पर्याप्‍त पढ़ा लिखा हूं जिससे कि किसी भी तरह की परिस्थिति का सामना करता हूं।’

हरियाणा में जमीन सौदों के चलते विवादों में आए वाड्रा ने कहा कि वे कभी भारत नहीं छोड़ेंगे। उन्‍होंने कहा,’मैं यहीं जन्‍मा और पला बढ़ा हूं। अगर मेरा अपमान भी होता है तो भी मैं मेरा देश नहीं छोड़ूंगा। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि सरकार क्या कहती है। मेरे पास काबिलियत है जिसके साथ मैं किसी भी स्थिति का सामना कर सकता हूं। मेरा परिवार काफी मजबूत है जिससे मुझे ताकत मिलती है।’ राजनीति में जाने के सवाल पर वाड्रा का जवाब था,’मैं कभी ना नहीं कहूंगा। देखते हैं भविष्‍य में क्‍या लिखा है।’

बता दें कि राहुल गांधी ने लोकसभा चुनावों में पत्‍नी प्रियंका गांधी के साथ मिलकर सास सोनिया गांधी और राहुल गांधी के लिए प्रचार किया था। हरियाणा में वाड्रा के जमीन सौदों की एक सदस्‍यीय कमीशन जांच कर रहा है।

Read Also:अति विशिष्ट लोगों को छूट पर वाड्रा ने उठाया सवाल

Next Stories
1 कुत्‍तों और बंदरों से परेशान हुए सांसद, अखबारों में विज्ञापन देकर जनता से मांगे सुझाव
2 जम्मू-कश्मीर के लिए प्रधानमंत्री पैकेज का काम वित्त सचिव देखेंगे
3 वन्यजीवों की सुरक्षा के लिए प्रवर्तन नेटवर्क व्यवस्था अपनाएगा भारत
ये पढ़ा क्या?
X