ताज़ा खबर
 

एतिहासिक डे-नाइट टेस्ट की मेजबानी का ईडन गार्डन्स प्रबल दावेदार

बीसीसीआई के एक प्रभावी अधिकारी ने हालांकि कहा कि अगर न्यूजीलैंड के खिलाफ दिन-रात्रि टेस्ट मैच होता है तो पूरी संभावना है कि यह ईडन गार्डन्स पर ही होगा।

Author कोलकाता | June 9, 2016 8:41 PM
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI)

ईडन गार्डन्स का एतिहासिक मैदान न्यूजीलैंड के खिलाफ देश में पहले दिन-रात्रि क्रिकेट टेस्ट की मेजबानी का प्रबल दावेदार है लेकिन बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा है कि यह 18 जून से होने वाले ‘गुलाबी’ गेंद के प्रयोग पर निर्भर करेगा। गांगुली ने कुछ भी खुलासा नहीं करते हुए कहा, ‘अब तक किसी चीज की पुष्टि नहीं हुई है। कोई पुष्टि नहीं हुई है। दिन-रात्रि टेस्ट की मेजबानी दलीप ट्राफी की सफलता पर निर्भर करेगी। हम प्रयोग के तौर पर 18 से 21 जून तक गुलाबी कूकाबूरा गेंद से देश के पहले चार दिवसीय रात्रि मैच कैब सुपर लीग फाइनल का आयोजन कर रहे हैं। हम देखेंगे कि यह प्रयोग कैसा रहता है।’

बीसीसीआई के एक प्रभावी अधिकारी ने हालांकि कहा कि अगर न्यूजीलैंड के खिलाफ दिन-रात्रि टेस्ट मैच होता है तो पूरी संभावना है कि यह ईडन गार्डन्स पर ही होगा। सूत्र ने कहा, ‘यह फैसला 24 जून को बीसीसीआई की कार्य समिति की बैठक में किया जाएगा। हमें उम्मीद है कि मैच की मेजबानी ईडन को मिलेगी। साथ ही हमें दिन-रात्रि मैच के प्रयोग पर कैब का जवाब भी मिलेगा।’

HOT DEALS
  • Apple iPhone 7 Plus 32 GB Black
    ₹ 59000 MRP ₹ 59000 -0%
    ₹0 Cashback
  • Samsung Galaxy J6 2018 32GB Gold
    ₹ 12990 MRP ₹ 14990 -13%
    ₹0 Cashback

ईडन को मेजबानी मिलने की संभावना काफी अच्छी है क्योंकि न्यूजीलैंड के खिलाफ श्रृंखला के बाकी दो टेस्ट स्थल इंदौर और कानपुर हैं। कानपुर की फ्लडलाइट को लेकर समस्या रही है जबकि इतने बड़े मैच के लिए इंदौर शायद सर्वश्रेष्ठ स्थल नहीं हो। कैब ने अगले हफ्ते होने वाले सुपर लीग फाइनल के लिए एक दर्जन गुलाबी कूकाबूरा गेंद मंगवा ली हैं। इस मैच का टीवी पर सीधा प्रसारण किया जाएगा।

कैब सचिव अविषेक डालमिया ने कहा, ‘गेंद साफ दिखे इसके लिए अधिक घास रखेंगे। आईसीसी चेयरमैन शशांक मनोहर भी आ रहे हैं। यह सब इस पर निर्भर करेगा कि बीसीसीआई इसे कैसे देखता है, यह कितना सफल रहता है। यह आगे बढ़ने का तरीका है। हम पहली बार किसी चीज को आजमा रहे हैं। विरासत हमारे साथ है। हम फाइनल में जगह बनाने वाली टीमों को दो-दो गेंद देंगे जो फाइनल से पहले दो दिन अभ्यास करेंगी।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App