ताज़ा खबर
 

ICC World T20: करो या मरो मैच में आमने-सामने होंगे ऑस्ट्रेलिया-पाकिस्तान

पाकिस्तान ने तीन मैचों में दो मैच गंवाये हैं और उसकी सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें धूमिल पड़ गयी हैं।

Author मोहाली | Updated: March 25, 2016 12:28 AM
मैच के दौरान पाकिस्तान टीम के खिलाड़ी। (फाइल फोटो)

अब तक उतार चढ़ाव वाले दौर से गुजरने के कारण बैकफुट पर पहुंची ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान की टीमें आईसीसी विश्व टी20 में शुक्रवार (25 मार्च) को यहां जब आमने सामने होंगी तो उनके लिये यह मैच करो या मरो जैसा होगा। ऑस्ट्रेलिया हालांकि कुछ बेहतर स्थिति में है लेकिन एक हार से उसकी स्थिति खराब हो जाएगी। पाकिस्तान को अब तक टूर्नामेंट में संघर्ष करना पड़ा है लेकिन ऑस्ट्रेलिया उन्हें हल्के से लेने के मूड में नहीं है।

पाकिस्तान ने तीन मैचों में दो मैच गंवाये हैं और उसकी सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें धूमिल पड़ गयी हैं। उसके कोच वकार यूनिस का भी मानना है कि टीम जिस तरह से खेल रही है उसे देखते हुए वह सेमीफाइनल में पहुंचने की हकदार नहीं है। ऑस्ट्रेलिया की अपनी समस्याएं हैं। न्यूजीलैंड से हारने के बाद उसे बांग्लादेश के खिलाफ भी जीत दर्ज करने के लिये जूझना पड़ा। शुक्रवार (25 मार्च) को ऑस्ट्रेलिया की जीत से पाकिस्तान निश्चित तौर पर बाहर हो जाएगा और ऐसे में वह भारत के खिलाफ अपना अंतिम लीग मैच क्वार्टर फाइनल की तरह खेलेगा क्योंकि ग्रुप से न्यूजीलैंड पहले ही क्वालीफाई कर चुका है।

पिछले दो मैचों में ऑस्ट्रेलिया अनुकूल प्रदर्शन नहीं कर पाया। न्यूजीलैंड के खिलाफ उसके बल्लेबाज अपेक्षाकृत कम लक्ष्य के सामने लड़खड़ा गये जबकि बांग्लादेश के खिलाफ तीन विकेट से जीत दर्ज करने के लिये उसे आखिर तक जूझना पड़ा। टीम प्रबंधन ने पहले दो मैचों में शानदार फॉर्म में चल रहे उस्मान ख्वाजा और शेन वॉटसन से पारी का आगाज कराया तथा विस्फोटक डेविड वॉर्नर को चौथे नंबर पर उतारा। ख्वाजा ने अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन वॉर्नर मध्यक्रम में नहीं चल पा रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया के लिये ख्वाजा के अलावा लेग स्पिनर एडम जंपा का प्रदर्शन सकारात्मक संकेत है जिन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ तीन विकेट लिये थे।

जहां तक पाकिस्तान का सवाल है तो उसकी कई चिंताएं हैं। वकार ने बल्लेबाजों की जरूरत पड़ने पर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाने के लिये कड़ी आलोचना की। पीसीबी भी घोषणा कर चुका है कि विश्व टी20 के बाद शाहिद अफरीदी को कप्तान पद से हटा दिया जाएगा। पाकिस्तान शुक्रवार (25 मार्च) को हार जाता है तो इससे अफरीदी का लंबा अंतरराष्ट्रीय करियर भी समाप्त हो सकता है। उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ हार के बाद इस तरह के संकेत दिये थे। उन्होंने अब तक बल्ले और गेंद से अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन अन्य बल्लेबाज विशेषकर उमर अकमल ने निराश किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
जस्‍ट नाउ
X