ताज़ा खबर
 

बोर्ड पर खफा WI प्‍लेयर्स, सैमी ने कहा-अपमान का बदला लिया, ब्रावो बोले-BCCI ने ज्‍यादा की मदद

सैमी ने कहा, ''रॉल लुईस के तौर पर हमारे पास नया टीम मैनेजर था, जिसने इससे पहले टीम मैनेज करने का कोई अनुभव नहीं था। हमारे पास यूनिफॉर्म नहीं थे, प्रिंटिंग की व्‍यवस्‍था नहीं थी। ''

Author कोलकाता | April 5, 2016 12:39 PM
वर्ल्‍ड कप जीतने के बाद कप्‍तान सैमी के अलावा ड्वेन ब्रावो ने वेस्‍टइंडीज क्रिकेट बोर्ड पर जमकर निशाना साधा। (PTI)

दूसरी बार विश्व टी20 खिताब जीतने से खुश लेकिन इसके बावजूद वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड के रवैये से नाराज कप्तान डेरेन सैमी ने कहा कि खिलाड़ियों ने आलोचकों और डब्ल्यूआईसीबी (वेस्‍टइंडीज क्र‍िकेट बोर्ड) से मिले ‘अपमान’ का सर्वश्रेष्ठ संभव तरीके से जवाब दिया। इंग्लैंड के कमेंटेटर मार्क निकोलस ने वेस्टइंडीज को ‘बिना दिमाग वाली टीम’ करार दिया था जिसके बाद टीम ने रविवार रात इंग्लैंड को चार विकेट से हराकर दूसरी बार विश्व टी20 खिताब जीता।

Read Also: वेस्‍ट इंडीज के T20 World Cup जीतने के बाद अमिताभ बच्‍चन ने इंग्‍लैंड का उड़ाया मजाक, कहा- उखाड़ दिया जड़ से 

सैमी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमें 2012 में खिताब की जरूरत थी और हां, तब भी किसी ने हमें दावेदार नहीं बताया था। इस बार भी हमने खिताब जीता जबकि टूर्नामेंट से पहले पत्रकारों और यहां तक कि हमारे अपने क्रिकेट बोर्ड ने हमारा अपमान किया जिसकी कोई जरूरत नहीं थी। हम सिर्फ इस टूर्नामेंट को जीतकर ही जवाब दे सकते थे।’’ सैमी ने कहा, ”रॉल लुईस के तौर पर हमारे पास नया टीम मैनेजर था, जिसने इससे पहले टीम मैनेज करने का कोई अनुभव नहीं था। हमारे पास यूनिफॉर्म नहीं थे, प्रिंटिंग की व्‍यवस्‍था नहीं थी। उन्‍होंने (रॉल लुईस) यह सारी मुश्‍क‍िलें झेली ताकि हम यह यूनिफॉर्म पहन सकें। मैं यहां पूरी टीम को क्रेडिट देना चाहता हूं।”

Read Also: प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में मेज पर पांव रखकर बैठे मैन ऑफ द मैच सैम्‍युल्‍स, सोशल मीडिया पर उड़ी खिल्‍ली

उन्होंने कहा, ‘‘जब आप इन 15 खिलाड़ियों को मैदान पर खेलते हुए देख रहे हो, हमने इसी के बारे में बात की थी। यह पूरी तरह से दुनिया भर के लोगों और प्रशंसकों को समर्पित है।’’ सैमी ने कहा कि वह निराश हैं कि उन्हें वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड से कोई जवाब नहीं मिला। सैमी ने कहा, ‘‘जब हमने यात्रा शुरू की थी तो लोग हैरान थे कि हम इस टूर्नामेंट में खेलेंगे भी या नहीं। हमारे सामने काफी मुद्दे थे, हम महसूस कर रहे थे कि हमारे बोर्ड ने हमारा अपनाम किया है। मार्क निकोलस ने हमारी टीम को बिना दिमाग वाली टीम कहा। टूर्नामेंट से पहले की इन सभी चीजों ने इस टीम को एकजुट किया।’’

Read Also: जीत के खुमार में सैमुअल्स ने कर डाली ऐसी हरकत कि लग गया जुर्माना 

सैमी ने कहा, ‘‘मैं कैरीकोम के प्रमुखों का धन्यवाद देना चाहता हूं। पूरे टूर्नामेंट के दौरान उन्होंने टीम का समर्थन किया। हमें ईमेल मिले, फोन आए। प्रधानमंत्री ने सुबह काफी प्रेरक ईमेल भेजा और हमें अब तक हमारे क्रिकेट बोर्ड से बधाई नहीं मिली है। यह काफी निराशाजनक है।’’ सैमी के आवाज में उस समय दर्द भी दिखा जब उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं पता कि वह अगली बार कब वेस्टइंडीज की शर्ट पहनेंगे क्योंकि इस साल टीम को कोई टी20 मैच नहीं खेलना। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता है कि मैं दोबारा ड्रेसिंग रूम में इन खिलाड़ियों को कब देखूंगा। इस साल कोई टी20 मैच नजर नहीं आता। हमें त्रिकोणीय श्रृंखला, भारत के खिलाफ श्रृंखला खेलनी है।’’ सैमी ने कहा, ‘‘टीम की ओर देखिये, इसमें गेल, ब्रावो, होल्डर, ब्रेथवेट हैं जो किसी भी दिन शानदार प्रदर्शन कर सकते हैं। हमारे पास 15 मैच विजेता हैं। यही मजबूत पक्ष है। हम आसानी से जीतते रहे जो दिखाता है कि यह एक व्यक्ति की टीम नहीं है।’’

सैमी के बाद ड्वेन ब्रावो ने भी वेस्‍ट इंडीज बोर्ड पर निशाना साधा। ब्रावो ने यहां तक कहा कि उनके खुद के बोर्ड से ज्‍यादा तो बीसीसीआई ने उनके लिए किया। स्‍टार स्‍पोर्ट्स को मैच के बाद दिए इंटरव्यू में ब्रावो ने कहा, ”देश का क्रिकेट सही हाथों में नहीं है। हमें किसी वेस्‍टइंडीज क्रिकेट बोर्ड के अधिकारी या डायरेक्‍टर का फोन नहीं आया। यह अच्‍छी बात नहीं है। हमें पता है कि उन्‍हें भरोसा नहीं था कि हम टूर्नामेंट जीत सकते हैं। यहां तक कि बीसीसीआई ने हमारे लिए ज्‍यादा किया है।” ब्रावो ने इस बात पर भी सवाल उठाए कि किस तरह से उन्‍हें, गेल और रसेल को वेस्‍टइंडीज वनडे टीम से बाहर रखा गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App