ताज़ा खबर
 

ठाणे : 20 साल के चेन स्नैचर की शादी में शामिल हुए 1000 नामी लुटेरे, चल रहे हैं 25 मामले, बेबस होकर देखती रही पुलिस

तौफीक (20) को मकोका के तहत पहली बार साल 2012 में गिरफ्तार किया गया था।

घर को निशाना बनाया। (फाइल फोटो)

शादियां तो आपने बहुत देखी होंगी, लेकिन महाराष्ट्र के ठाणे जिले के अंबीवैली में एक बड़े चेन स्नैचर की शादी हुई, जिसमें करीब 1000 लोग इकट्ठा हुए। मेहमान भी कोई आम लोग नहीं थे बल्कि देश के नामी चेन स्नैचर और लुटेरे थे। टाइम्स अॉफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक 20 पुलिसकर्मी इस शादी पर नजर बनाए हुए थे, लेकिन उन्होंने कोई एक्शन नहीं लिया। उनके मुताबिक इससे कानून एवं व्यवस्था के लिए मुश्किलें खड़ी हो सकती थीं। ठाणे के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने जांच के आदेश दिए हैं।

पुलिस के मुताबिक दूल्हे तौफीक तेजी उर्फ ईरानी पर चेन स्नैचिंग के करीब 25 मामले चल रहे हैं। उसकी शादी उसी की आंटी की 15 वर्षीय बेटी सोहरा ईरानी से हुई। तौफीक की इस शादी में बतौर मेहमान आए 1 हजार से ज्यादा मेहमानों में दिल्ली, औरंगाबाद,भोपाल, कर्नाटक और मुंबई के चेन लुटेरे और गुंडे शामिल थे।

2012 में हुआ था अरेस्ट: तौफीक (20) को मकोका के तहत पहली बार साल 2012 में गिरफ्तार किया गया था। उसकी गिरफ्तारी के बाद भारी तादाद में छिनी हुई चेन और कीमती सामान बरामद हुए थे। इसके बाद उसे बेल पर छोड़ दिया गया, लेकिन वह वापस उसी धंधे में चला गया। साल 2016 में फिर उस पर मकोका के तहत मामला दर्ज किया गया, लेकिन उसे गिरफ्तार नहीं किया जा सका। वह इसके बाद से फरार था।

अब क्यों नहीं पकड़ा : अब जांच की जाएगी कि आखिर क्यों ठाणे पुलिस ने इतना शानदार मौका होते हुए भी तौफीक को गिरफ्तार क्यों नहीं किया। एंटी चेन स्नैचिंग स्क्वॉड के हेड और सीनियर इंस्पेक्टर रविंद्र दोइफोडे ने कहा कि उनकी टीम को सिर्फ शादी में शामिल हुए लोगों पर नजर रखने का अॉर्डर था। शादी को खराब करना कोई समझदारी नहीं थी। इससे गंभीर कानून संबंधी परेशानियां खड़ी हो सकती थीं। उन्होंने कहा कि अगर हम तौफीक को गिरफ्तार करने जाते तो वे लोग औरतों और बच्चों को ढाल बना लेते। वहीं परमबीर सिंह का कहना है कि पुलिस को शादी की जानकारी थी। हमारी टीम वहां तैनात थी। इस मामले की जांच चल रही है और जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। आपको बता दें कि तौफीक के पिता स्थानीय ईरानी समुदाय के अध्यक्ष हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पहली बार ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में सुनाई सजा, झारखंड के मंत्री को सात साल कैद और 5 लाख जुर्माना
2 अरनब गोस्वामी ने चैनल का नाम बदलकर रखा रिपब्लिक टीवी, सुब्रह्मण्यन स्वामी बोले- मेरी आपत्ति के बाद उठाया कदम
3 अंधेरे कमरे में करते थे पिटाई, देते थे ड्रग्स-115 दिन पाकिस्तान के कब्जे में रहे फौजी चंदू चौहान की खौफनाक आपबीती
Ind vs Aus 4th Test Live
X