ताज़ा खबर
 

बिहार: देवी देवताओं की आपत्‍त‍िजनक तस्‍वीरें सर्कुलेट होने के बाद सारण में सांप्रदायिक तनाव, हिंसा और लूटपाट

पुलिस को भीड़ को काबू करने के लिए लाठचार्ज और आंसूगैस के गोलों का इस्‍तेमाल करना पड़ा।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

बिहार का सारण जिला सांप्रदायिक तनाव की चपेट में है। यहां शुक्रवार को देवी देवताओं की आपत्‍त‍िजनक फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद शुरू हुई हिंसा शनिवार को भी जारी रही, जबकि पूरे जिले में इंटरनेट पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। स्थानीय मीडिया की खबरों के मुताबिक, सारण जिले के छपरा और आसपास के इलाकों में लोग शनिवार को सड़कों पर उतर आए। कुछ दुकानें लूट ली गईं। भीड़ ने पेट्रोल बम का भी इस्‍तेमाल किया। पुलिस को भीड़ को काबू करने के लिए लाठचार्ज और आंसूगैस के गोलों का इस्‍तेमाल करना पड़ा।

शुक्रवार को भी नाराज भीड़ हिंसा पर उतर आई। कुछ लोगों ने लोगों ने टायर जलाकर सड़क जाम कर दिया। हालात बिगड़ते देख छपरा से डीएम और एसपी मौके पर पहुंचे। स्‍थानीय मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक, आपत्‍त‍िजनक कंटेंट वायरल करने वाले आरोपी युवक की पहचान हो गई है। भीड़ ने छपरा के मकेर गांव में उसके घर को फूंक दिया और घर का सारा सामान फेंक दिया। शुक्रवार को पूरे जिले में धारा 144 लगा दी गई। दरअसल, सारा मामला तब शुरू हुआ, जब आपत्‍त‍िजनक कंटेंट में दूसरे पक्ष के शख्‍स को टैग किया गया। इसके बाद, भीड़ ने आरोपी के घर पर हमला बोल दिया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बिहार: अपने इलाके को शराब मुक्त नहीं कर पाने पर 7 पुलिस अफसर सस्पेंड
2 शरद यादव ने कांवड़ियों के लिए दिया विवादित बयान, बोले- बेरोजगार हैं इसलिए जाते हैं
3 बिहार में बाढ़ से मरने वालों की संख्या 89 हुई, राहत कार्यों के लिए 315 करोड़ रुपए मंजूर