scorecardresearch

पूर्वोत्तर के लोगों को ‘अप्रवासी’ बताने पर भाजपा ने मांगी माफ़ी

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा की ओर से जारी दृष्टिपत्र में यहां रहने वाले पूर्वोत्तर के लोगों के संदर्भ में ‘‘अप्रवासी’’ शब्द का इस्तेमाल किए जाने से विवादों के घेरे में आई पार्टी ने इसे छपाई की गलती मानते हुए इसके लिए आज माफी मांगी। गुवाहाटी में युवा कांग्रेस द्वारा दिल्ली मे रह रहे […]

पूर्वोत्तर के लोगों को ‘अप्रवासी’ बताने पर भाजपा ने मांगी माफ़ी
BJP Vision Document: केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजीजू ने कहा, ‘‘यह एक लिपिक और मुद्रण गलती है।’’ (फ़ोटो-पीटीआई)

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा की ओर से जारी दृष्टिपत्र में यहां रहने वाले पूर्वोत्तर के लोगों के संदर्भ में ‘‘अप्रवासी’’ शब्द का इस्तेमाल किए जाने से विवादों के घेरे में आई पार्टी ने इसे छपाई की गलती मानते हुए इसके लिए आज माफी मांगी।

गुवाहाटी में युवा कांग्रेस द्वारा दिल्ली मे रह रहे पूर्वोत्तर के लोगों को ‘अप्रवासी’ बताए जाने के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किए जाने के बीच भाजपा ने इस शब्द के लिए माफी मांगते हुए कहा कि यह छपाई की गलती थी। भाजपा प्रवक्ता एम जे अकबर ने कहा, ‘‘दृष्टिपत्र दस्तावेज में यह एक दुर्भाग्यपूर्ण मु्रदण चूक थी। हम इस गलती के लिए माफी मांगते हैं।’’

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए कल जारी पार्टी के ‘दृष्टिपत्र’ में राष्ट्रीय राजधानी में बसे पूर्वोत्तर के लोगों को ‘अप्रवासी’ कहा गया है, जिसकी कांग्रेस सहित कई दलों ने तीखी आलोचना की है।

अकबर ने इस चूक के लिए माफी मांगते हुए कहा, ‘‘मैं दिल्ली में रह रहे पूर्वोत्तर के अपने भाइयों और बहनों को आश्वासन देना चाहता हूं कि वे भाजपा के लिए उतने ही मूल्यवान और महत्वपूर्ण हैं जितना कोई भी नागरिक।’’ अप्रवासी शब्द का प्रयोग बाहरी देश से आए लोगों के लिए किया जाता है

भाजपा के 24 पृष्ठीय दृष्टिपत्र में दिल्ली को विश्व स्तरीय शहर बनाने के साथ जनता के कल्याण के लिए किए जाने वाले कार्यो में ‘‘पूर्वोत्तर अप्रवासियों को सुरक्षा प्रदान करने’’ का आश्वासन दिया गया है।

इसमें कहा गया है कि पूर्वोत्तर के लोगों की सुरक्षा के लिए चौबीसों घंटे सक्रिय रहने वाली एक हेल्पलाइन शुरू की जाएगी और सभी थानों में विशेष सेल गठित किए जाएंगे। पूर्वोत्तर के अरुणाचल प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजीजू ने कहा, ‘‘यह एक लिपिक और मुद्रण गलती है।’’

पढें दिल्ली चुनाव 2015 (Delhielections2015 News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.