ताज़ा खबर
 

ICC T-20WC: साउथ अफ्रीका पर वेस्टइंडीज की रोमांचक जीत

मर्लोन सैमुअल्स की विषम परिस्थितियों में खेली गई 44 रन की उपयोगी पारी से वेस्टइंडीज ने अपना विजय अभियान जारी रखते हुए कम स्कोर वाले रोमांचक मैच में दक्षिण अफ्रीका को तीन विकेट से हराकर आईसीसी विश्व टी20 के सेमीफाइनल में अपनी जगह सुनिश्चित की।

Author नागपुर | Published on: March 26, 2016 1:36 AM
जीत का जश्न मनाते वेस्टइंडीज

मर्लोन सैमुअल्स की विषम परिस्थितियों में खेली गई 44 रन की उपयोगी पारी से वेस्टइंडीज ने अपना विजय अभियान जारी रखते हुए कम स्कोर वाले रोमांचक मैच में दक्षिण अफ्रीका को तीन विकेट से हराकर आईसीसी विश्व टी20 के सेमीफाइनल में अपनी जगह सुनिश्चित की।

पूर्व चैंपियन वेस्टइंडीज की यह लगातार तीसरी जीत है जिससे वह सुपर 10 के ग्रुप एक में छह अंक लेकर शीर्ष पर बरकरार है। वह न्यूजीलैंड के बाद सेमीफाइनल में पहुंचने वाली दूसरी टीम बन गई है। दक्षिण अफ्रीका की तीन मैचों में दूसरी हार है और उसके लिए अब सेमीफाइनल की राह अगर-मगर के कांटों से भरी बन गई है।

वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकर दक्षिण अफ्रीका को पहले बल्लेबाजी का न्यौता दिया और फिर उसके शीर्ष क्रम को झकझोरने में देर नहीं लगाई। एक समय दक्षिण अफ्रीका का स्कोर पांच विकेट पर 47 रन था और यदि उसकी टीम आठ विकेट पर 122 रन तक पहुंच पाई तो इसका श्रेय सलामी बल्लेबाज क्विंटन डिकाक (46 गेंदों पर 47 रन) और डेविड वीज (26 गेंदों पर 28) के बीच छठे विकेट के लिए 50 रन की साझेदारी को जाता है।

वेस्टइंडीज ने क्रिस गेल का विकेट शुरू में गंवा दिया और इसके बाद उसके बल्लेबाजों को दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों विशेषकर स्पिनर इमरान ताहिर (13 रन देकर दो विकेट) और आरोन फैंगिसो (19 रन देकर एक विकेट) ने काफी परेशान किया। सैमुअल्स के अलावा वेस्टइंडीज की तरफ से सलामी बल्लेबाज जानसन चार्ल्स ने 32 रन का योगदान दिया। उसकी टीम आखिर में 19.4 ओवर में सात विकेट पर 123 रन तक पहुंची।

गेल ने गेंदबाजी में दो विकेट लेकर कमाल किया लेकिन बल्लेबाजी में एबी डिविलियर्स की तरह उन्होंने भी दर्शकों का निराश किया जो इन दोनों की बल्लेबाजी देखने के लिए बड़ी संख्या में आये थे। ये दोनों ही बल्लेबाज बोल्ड हुए।

क्रिस गेल सहित वेस्टइंडीज के गेंदबाजों ने अनुशासित गेंदबाजी का अच्छा नजारा पेश करके दक्षिण अफ्रीका को आठ विकेट पर 122 रन ही बनाने दिये।

वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकर दक्षिण अफ्रीका को पहले बल्लेबाजी का न्यौता दिया और फिर उसके शीर्ष क्रम को झकझोरने में देर नहीं लगायी। एक समय दक्षिण अफ्रीका का सकोर पांच विकेट पर 47 रन था और यदि उसकी टीम तिहरे अंक में पहुंच पाई तो उसका श्रेय सलामी बल्लेबाज क्विंटन डिकाक (46 गेंदों पर 47 रन) और डेविड वीज (26 गेंदों पर 28) के बीच छठे विकेट के लिए 50 रन की साझेदारी को जाता है। वेस्टइंडीज की तरफ से गेल, ड्वेन ब्रावो और आंद्रे रसेल ने दो-दो विकेट लिए।

दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज जामथा की पिच से सामंजस्य बिठाने की कोशिश करते इससे पहले उसके तीन विकेट निकल गये जिससे टीम दबाव में आ गई। हाशिम अमला पहले ओवर में ही रन आउट हो गये। उनका स्थान लेने के लिये कप्तान फाफ डु प्लेसिस (9) ने आंद्रे रसेल पर छक्का जड़ने के बाद मिडआफ पर कैच थमा दिया।

डेरेन सैमी ने तीसरे ओवर में ही क्रिस गेल को आक्रमण पर लगा दिया जिनकी गेंद पर रिली रोसो ने प्वाइंट पर कैच दिया। गेल का 2012 विश्व टी20 में इंग्लैंड के खिलाफ पल्लेकल में खेले गए मैच के बाद यह इस सबसे छोटे प्रारूप में यह पहला विकेट था। इससे रन गति पर असर पड़ा और पावरप्ले समाप्त होने तक दक्षिण अफ्रीका का स्कोर तीन विकेट पर 39 रन था।

इसके बाद भी विकेट गिरने का सिलसिला नहीं थमा। दक्षिण अफ्रीका की उम्मीद एबी डिविलियर्स (10) पर टिकी थी लेकिन उन्होंने अपनी टीम ही नहीं दर्शकों को भी निराश किया जो बड़ी संख्या में यहां पहुंचे थे। डिविलियर्स ने ब्रावो की गेंद स्वीप करनी चाही लेकिन वह उनके बल्ले को चूमकर विकेटों को आलिंगन कर गई।

नए बल्लेबाज डेविड मिलर अगले ओवर में गेल की सीधी गेंद पर पूरी तरह गच्चा खा गए और दक्षिण अफ्रीका का स्कोर पांच विकेट पर 47 रन हो गया। डिकाक ने एक छोर संभाले रखा और उन्हें वीज के रूप में सहयोगी भी मिला। इन दोनों ने परिस्थितियों को समझा और एक दो रन लेकर स्ट्राइक रोटेट की। उन्होंने अगले 7.2 ओवर तक विकेट नहीं गिरने दिया और इस बीच 50 रन भी जोड़े। रसेल ने डिकाक को बोल्ड करके यह साझेदारी तोड़ी जो लेग स्टंप की गेंद को आफ स्टंप पर आकर लेग साइड में खेलना चाहते थे लेकिन चूक जाने से उनकी गिल्लियां बिखर गई। डिकाक ने 46 गेंदें खेली तथा तीन चौके और एक छक्का लगाया।

वीज भी इसके बाद ब्रावो की गेंद पर मिड आफ पर आसान कैच देकर पवेलियन लौटे जिससे दक्षिण अफ्रीका की डेथ ओवरों में तेजी से रन बनाने की उम्मीदों को झटका लगा। उसकी टीम आखिरी तीन ओवरों में केवल 14 रन जोड़ पायी। क्रिस मौरिस (17 गेंदों पर नाबाद 16 रन) दोहरे अंक में पहुंचने वाले चौथे बल्लेबाज रहे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories