ताज़ा खबर
 

गुजरात बोर्ड के स्‍टूडेंट ने खुद चेक किया अपना पेपर, दिए 100 में 100 मार्क्‍स

बिहार बोर्ड में टॉपर्स घोटाले का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था कि गुजरात के अहमदाबाद के एक छात्र पर अपनी कॉपी खुद ही जांचने का आरोप लगा है।

(REPRESENTATIONAL IMAGE)

बिहार टॉपर्स घोटाले की जांच के बीच गुजरात से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। गुजरात सेकेंड्ररी एंड हायर सेकेंड्री एजुकेशन बोर्ड ने अहमदाबाद के एक स्‍कूल में 12वीं के छात्र के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। हर्षद सरवइवा नाम के इस छात्र ने इकॉनमिक्‍स और जियोग्राफी का पेपर हल किया और बाद में लाल पेन से खुद को एक सब्‍जेक्‍ट में पूरेे नंबर दे दिए।

गुजरात बोर्ड के सेक्रेट्री (परीक्षा) जी.डी. पटेल ने कहा कि हर्षद ने जियोग्राफी और इकॉनमिक्‍स की आंसर शीट खुद ही चेक की। टीचर्स को उनकी गलती तब समझ में आई, जब उन्‍होंने जियोग्राफी की आंसर शीट देखी जिसमें हर्षद ने 34 नंबर हासिल किए थे। जबकि हर्षद ने इकॉनमिक्‍स में खुद को 100 में 100 नंबर दिए, जिसे कोई पकड़ नहीं पाया। हर्षद के अन्‍य विषयों के नंबर हैं: गुजराती (13), अंग्रेजी (12), संस्‍कृत (4), सोशियोलॉजी (20), साइकोलॉजी (5)। बोर्ड ने हर्षद को पूछताछ के लिए बुलाया है। दोषी साबित होने पर उसे कड़ी सजा दी जा सकती है।

READ ALSO: बिहार टॉपर्स घोटाला: पूर्व JDU MLA ने 12 साल की उम्र में ही कर लिया था ग्रेजुएशन, हलफनामे से हुआ खुलासा

परीक्षकों से बचने के लिए हर्षद ने आंसर शीट के सबसे पहले पन्‍ने पर ऊपर नंबर नहीं लिखे। उसकी कॉपी चेक करने वाले सातों परीक्षकों का ध्यान इस गड़बड़ पर नहीं गया और उन्‍होंने उसे पूरे नंबर दे दिए। बोर्ड ने उन टीचर्स को भी तलब किया है।

Next Stories
1 गुलबर्ग सोसायटी नरसंहार मामले के कोर्ट 17 जून को सुनाएगा 24 दोषियों सजा
2 गुलबर्ग नरसंहार: 24 दोषियों की सजा पर बहस पूरी, 13 जून को तय होगी फैसले की तारीख
3 गुजरात में शराब पर बैन लेकिन मंत्री ने आदिवासियों सेे कहा- लिमिट में रहकर पियो
यह पढ़ा क्या?
X