संपादकीय

संपादकीय: अपना गिरेबां

हालत यह है कि वहां के सबसे बड़े धार्मिक गुट जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम के प्रमुख मौलाना फजलुर्रहमान की अगुवाई में भारी तादाद में लोगों का...

संपादकीय: चीन की बौखलाहट

सवाल है कि चीन भारत के साथ सीमाओं और इलाकों को लेकर जिस तरह के विवाद खड़े करता रहा है, उस सूरत में उसके...

संपादकीय: ट्रंप की मुश्किल

अमेरिका में संविधान के किसी भी तरह के उल्लंघन को बहुत गंभीरता से लिया जाता है। इसलिए उस मामले पर भी ट्रंप के खिलाफ...

संपादकीय: पर्यावरण की खातिर

पर्यावरण के नुकसानों से लेकर प्रदूषण पर लगाम लगाने के लिए पेड़ों को सबसे अहम अंग माना गया है और कम कागज का प्रयोग...

संपादकीय: लापरवाही का प्रदूषण

भलस्वा डेरी में मौजूद कचरे के पहाड़ से उपजी समस्या कोई नई नहीं है। हालत यह है कि इसमें कई बार लगी आग की...

संपादकीय: निवेश के रास्ते

सऊदी अरब इस बात को अच्छी तरह जानता-समझता है कि भारत लंबे समय से आतंकवाद की मार झेल रहा है और इसमें उसके पड़ोसी...

संपादकीय: त्रासद अंधविश्वास

कानून के तहत अंधविश्वास फैलाना अपराध है, लेकिन आस्था के पर्दे में सब कुछ चलने दिया जाता है।

संपादकीय: आतंक की चुनौती

पड़ोसी देश से आतंकियों की घुसपैठ को लेकर समय-समय पर चेतावनियां आ रही हैं।

संपादकीय: प्रदूषण की हवा

राज्यों को निर्देश भी दिए गए हैं कि कूड़ा जलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई हो, लेकिन सरकारें इस काम में घोर लापरवाह साबित...

संपादकीय: बगदादी का अंत

गौरतलब है कि बगदादी के मारे जाने की खबरों के बाद यह जानकारी भी सामने आई कि आइएस ने अब अब्दुल्लाह कार्दश को अपना...

संपादकीय: सम्मान के नाम पर

करीब डेढ़ महीने पहले राजस्थान की मौजूदा सरकार ने प्रेमी जोड़ों की सुरक्षा के लिए ‘राजस्थान सम्मान और परंपरा के नाम पर वैवाहिक संबंधों...

संपादकीय: घाटी में चुनाव

अनुच्छेद तीन सौ सत्तर हटने के बाद पूरे सूबे में कर्फ्यू लगा दिया गया था। सभी संचार सुविधाएं बंद थीं। विपक्षी नेताओं को उनके...

संपादकीय: विलय का संचार

बीएसएनल के महत्त्व का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि आज अपनी डावांडोल स्थिति में भी यह दूरदराज के उन इलाकों में भी...

संपादकीय: नतीजे और संकेत

महाराष्ट्र और हरियाणा में भाजपा को हुए नुकसान की कुछ वजहें साफ हैं। एक तो यह कि उसने स्थानीय मुद्दों के बजाय कश्मीर, राष्ट्रवाद,...

संपादकीय: अराजक विरोध

हर शिकायत के निपटारे के लिए एक समूचा तंत्र काम करता है। विरोध और असहमति जताने के तौर-तरीके ऐसे विकसित हुए हैं कि सबको...

संपादकीय: अपराध और आंकड़े

ऐसे में लगता है कि पुलिस का आमजन से कोई सरोकार नहीं रह गया है। फिर, पुलिस तंत्र खुद सदियों पुराने कानूनों को ढो...

संपादकीय: लेटलतीफी की पटरी

भारतीय रेलवे के इतिहास में यह पहली घटना है जब ट्रेन के लेट होने पर यात्रियों को हर्जाना चुकाया गया है। जाहिर है, इसके...

संपादकीय: करतारपुर का रास्ता

सिखों के लिए करतारपुर का यह गुरद्वारा एक पवित्र स्थान है। अभी तक लोग सीमा के पास से दूरबीनों से ही इसकी झलक भर...