ताज़ा खबर
 

संपादकीय

लक्ष्य और हकीकत

सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली किसी से छिपी नहीं है। हर साल स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी, रोगी और डॉक्टर के खराब अनुपात, विभिन्न रोगों...

देर से इलहाम

आखिरकार दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सोमनाथ भारती को इस तरह भागते फिरने के बजाय...

संदेश और सवाल

बुधवार को डबलिन पहुंचे नरेंद्र मोदी साठ साल में आयरलैंड का दौरा करने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं।

नेपाल का जनतंत्र

नेपाल में नए संविधान के स्वरूप को लेकर चल रहे आंदोलनों के मद्देनजर स्वाभाविक ही भारत से हस्तक्षेप की जरूरत महसूस की जा रही...

सुविधा की सड़क

महानगरों में सड़कों पर आए दिन लगने वाले जाम और उसकी वजह से पर्यावरणीय और आर्थिक नुकसान की खबरें आती रहती हैं। लेकिन हरियाणा...

अंदेशे का संचार

पिछले कुछ समय से तेजी से सोशल मीडिया और संवाद के दूसरे माध्यमों का प्रसार हुआ है।

विवाद का आरक्षण

आरक्षण हमारे देश की राजनीति का बहुत नाजुक विषय रहा है। इस पर कुछ भी बोलना खतरे से खाली नहीं।

विरोध की जमीन

दिल्ली के रामलीला मैदान में रविवार को कांग्रेस ने किसान रैली आयोजित कर भाजपा को एक बार फिर ऐसे मसले पर घेरने की कोशिश...

संकट में संवेदना

सब कुछ सुचारु रूप से चलते रहने के लिए एक व्यवस्था और नियम-कायदे बनाए हैं। लेकिन इन पर अमल में अमूमन लापरवाही ही दिखती...

धारणा बनाम तथ्य

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नेताजी सुभाषचंद्र बोस से जुड़ी चौंसठ सरकारी फाइलें सार्वजनिक करके सही किया है। इन्हें आम जानकारी में...

लापरवाही का जलसा

यह सामान्य अनुभव है कि अगर प्रधानमंत्री, संबंधित राज्य के मुख्यमंत्री या फिर दूसरे बड़े नेता किसी सरकारी विभाग के कार्यक्रम में पहुंचते हैं,...

जनतंत्र की भाषा

प्रशासनिक कामकाज की भाषा को लेकर अक्सर उलझन या फिर दोहरा रवैया देखा जाता है।

सूखे का साया

आखिरकार भारतीय मौसम विभाग की भविष्यवाणी सही निकली। उसने इस साल मानसून के कमजोर रहने का अंदेशा जताया था।

डेंगू का प्रकोप

हर साल डेंगू का प्रकोप कुछ बढ़ा हुआ दर्ज होता है। फिलहाल स्थिति यह है कि अकेले दिल्ली में इसने अब तक के सारे...

दुराग्रह की भाषा

महाराष्ट्र में क्षेत्रीय अस्मिता के नाम पर बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों के साथ अक्सर जैसा बर्ताव होता रहा है, उससे यह सवाल...

किले में सेंध

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में छात्रसंघ चुनावों में अमूमन वामपंथी दलों से जुड़े विद्यार्थी संगठनों को कामयाबी मिलती रही है। इस बार भी वे...

राजग में रजामंदी

आखिरकार बिहार विधानसभा चुनाव की खातिर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के भीतर सीटों के बंटवारे को लेकर सहमति बन गई। इस तरह राजग ने अपने...

सुरक्षा का दंश

आखिरकार प्रधानमंत्री को अपने चंडीगढ़ दौरे के दौरान सुरक्षा इंतजामों के चलते वहां के लोगों को हुई परेशानियों की बाबत खेद जताने की जरूरत...