ताज़ा खबर
 

UP: बार-बार गैंगरेप से परेशान युवती ने किया आत्मदाह, बोली- अब वे नहीं कर पाएंगे मेरा रेप, क्योंकि मैंने खुद को जला लिया

उत्तर प्रदेश के हापुड़ में एक महिला ने बार-बार गैंगरेप से परेशान होकर खुद को आग लगा ली। महिला का शरीर 80% जल चुका है। अस्पताल में उसने कहा कि अब कोई भी मेरा रेप नहीं कर पाएगा, क्योंकि मेरा शरीर जल चुका है।

प्रतीकात्मक फोटोे फोटो सोर्स-जनसत्ता

‘‘अब वे मेरा रेप नहीं कर पाएंगे, क्योंकि मैंने खुद को पूरी तरह जला डाला है।’’ उत्तर प्रदेश के हापुड़ स्थित सिटी हॉस्पिटल में 80% जली हुई युवती ने यह बात कही तो वहां मौजूद हर शख्स की आंखें नम हो गईं। बताया जा रहा है कि यह युवती अपनों के ही हाथों छली गई थी। सबसे पहले पिता ने उसे 10 हजार रुपए में बेच दिया। वहीं, पहले पति से अलग होने के बाद उसने जिस शख्स का हाथ थामा, उसने अपने दोस्तों से बार-बार उसका गैंगरेप करवाया। हालात इतने ज्यादा बदतर हो चुके थे कि युवती ने खुद को खत्म करने का फैसला कर लिया और पिछले महीने आग लगा ली। अब वह जिंदगी और मौत से जूझ रही है।

 

पिता ने 10 हजार रुपए में बेचा: टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, 2009 में पीड़ित युवती गीता जब 14 साल की थी तो पिता ने उसकी शादी करा दी थी। पति उम्र में युवती से काफी बड़ा था। दोनों कुछ समय साथ रहे, लेकिन बाद में उसने युवती को छोड़ दिया। ऐसे में पिता ने उसे 10 हजार रुपए में एक शख्स को बेच दिया, ताकि वह अपने व अपनी पत्नी के लिए कुछ चीजें खरीद सके।

National Hindi News, 14 May 2019 LIVE Updates: दिनभर की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

तेजाब फेंकने की देते थे धमकीः अस्पताल में भर्ती गीता ने बताया, ‘मेरा दूसरा पति हैवान था। उसने अपने दोस्तों से बार-बार मेरा गैंगरेप करवाया। 20 से ज्यादा लोगों ने मेरा बलात्कार किया। विरोध जताने पर वे मुझे तेजाब से जलाने की धमकी देते थे।

पुलिस ने बरती लापरवाही: गीता का कहना है कि उसने न्याय पाने की बहुत कोशिश की, लेकिन सब व्यर्थ रहा। न ही मुझे मेरे पिता से न्याय मिला और न ही पुलिस से। मैंने कई बार शिकायत भी दर्ज करवाई, लेकिन हर बार कहा गया कि जांच जारी है। अक्टूबर 2018 से अप्रैल 2019 तक कोई एफआईआर भी दर्ज नहीं की गई। ऐसे में गीता निराश हो गई और उसने अपनी जान देने का फैसला कर लिया। पीड़िता की एक दोस्त ने बताया कि गीता के तीन बच्चे हैं, जो दूसरे पति के साथ रहते थे। वह बच्चों का हवाला देकर गीता को मजबूर करता था।

पुलिस पर पैसे लेकर मामला रफा-दफा करने का आरोप: महिला का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें उसने आरोप लगाया है कि पुलिस ने दोषियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। साथ ही, पैसे लेने के बाद मामला रफा-दफा कर दिया। हापुड़ के पुलिस अधीक्षक यशवीर सिंह ने कहा कि मामले की जांच शुरू कर दी है। वहीं, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने उत्तर प्रदेश सरकार और राज्य के डीजीपी को नोटिस जारी करके रिपोर्ट मांगी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X