ताज़ा खबर
 

जब पति का सिर्फ प्राइवेट पार्ट कटवाना चाहती थी महिला, लेकिन हो गई गड़बड़

जिस दिन डॉक्टर शफातुल्लाह का कत्ल हुआ उस दिन कत्ल से पहले टैगोर गार्डेन में आयशा की मुलाकात कॉन्ट्रैक्ट किलरों से भी हुई थी। गिरफ्तारी के बाद आयशा ने पुलिस के सामने कबूल किया कि उसके पति के कई महिलाओं से संबंध थे।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फाइल फोटो)

ऐसा क्या हो गया था कि यह महिला अपने ही पति से बेइंतहा नफरत करने लगी थी? ऐसा क्या हो गया था कि उसे अपने पति को टारगेट करने के कॉन्ट्रैक्ट किलर्स का सहारा लेना पड़ा? अपने पति से घृणा करने वाली इस महिला की कहानी सुन आप दंग रह जाएंगे। मध्य प्रदेश के जबदलपुर की रहने वाली आयशा ने साल 1991 में शफातुल्लाह खान नाम के एक शख्स से प्रेम विवाह किया था। पेशे से चिकित्सक शफातुल्लाह खान स्टेट हेल्थ डिपार्टमेंट में उपनिदेशक के पद पर तैनात थे और जबलपुर के ओम्ति इलाके में रहते थे।

12 जून साल 2012 को डॉ शफातुल्लाह खान अपने घर पर मृत पाए गए थे। उनकी मौत से पुलिस अवाक रह गई थी क्योंकि पुलिस को यह शक तो था कि उनकी हत्या की गई है लेकिन उस वक्त उसके पास कोई ठोस सुराग नहीं थे। शफातुल्लाह के सीने पर जख्म के कई निशान मिले थे। इस मौत की गुत्थी सुलझाने के लिए पुलिस ने इसकी गहनता से छानबीन शुरू की। इसके बाद जो खुलासे हुए उसे सुनकर पुलिस चौंक गई।

जांच के दौरान पुलिस ने इस मामले में शफातुल्लाह की पत्नी आयशा को गिरफ्तार कर लिया। इस मर्डर को लेकर पुलिस ने खुलासा किया कि आयशा ने गुजरात में रहने वाली अपनी भतीजी नंदिनी विश्वकर्मा से संपर्क कर कहा था कि उसे अपने पति को सबक सिखाने के लिए कॉन्ट्रैक्ट किलर्स चाहिए। आयशा ने नंदिनी को इसके बदले में 5 लाख रुपए और एक फ्लैट देने का वादा भी किया था। नंदिनी ने अपने पति पवन विश्वकर्मा के जरिए दो कॉन्ट्रैक्ट किलरों, राजेंद्र मालवीय और धीरज से आयशा को मिलवाया।

जिस दिन डॉक्टर शफातुल्लाह का कत्ल हुआ उस दिन कत्ल से पहले टैगोर गार्डेन में आयशा की मुलाकात कॉन्ट्रैक्ट किलरों से भी हुई थी। गिरफ्तारी के बाद आयशा ने पुलिस के सामने कबूल किया कि उसके पति के कई महिलाओं से संबंध थे। उसने पुलिस को यह भी बताया कि वो सिर्फ अपने पति के प्राइवेट पार्ट को कटवाना चाहती थी उसे जान से मारना नहीं। उसने दावा किया कि नंदिनी और पवन ने उसपर दवाब बनाया कि वो अपने पति को जान से मरवा दे। बहरहाल इस मामले में आयशा और उसके रिश्तेदारों को दबोचने के बाद पुलिस उनके गुनाहों का हिसाब-किताब कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App