ताज़ा खबर
 

RSS कार्यकर्ता की भतीजी समेत 2 युवतियों को बेहोश कर अजमेर से मथुरा ले आई महिला, पुलिस को देख छोड़कर भागी

जानकारी के अनुसार 14-15 वर्ष की आयुवर्ग की दोनों छात्राओं ने बताया कि वे गुरुवार की सुबह स्कूल जाने के लिए घर से निकली थीं। रास्ते में उन्हें एक महिला मिली जिसने उन्हें गणेश जी के भोग के रूप में एक-एक लड्डू खाने के लिए दिया।

Author मथुरा | Updated: September 14, 2019 11:47 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर- इंडियन एक्सप्रेस )

उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में एक महिला अजमेर की दो स्कूली छात्राओं को नशीला पदार्थ खिलाकर बेहोशी की अवस्था में बस में बैठा कर मथुरा ले आई। लेकिन, बस अड्डे पर भीड़भाड़ एवं पुलिस को देख उन्हें बेहोशी की हालत में ही बस में छोड़कर भाग गई। एक महिला रेलकर्मी की मदद से दोनों छात्राओं ने अपने परिजनों को घटना की जानकारी दी। रेलवे सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 14-15 वर्ष की आयुवर्ग की दोनों छात्राओं ने बताया कि वे गुरुवार (12 सितंबर)की सुबह स्कूल जाने के लिए घर से निकली थीं। लेकिन स्कूल पहुंचने से पूर्व ही रास्ते में एक महिला मिली जिसने उन्हें गणेश जी के भोग के रूप में एक-एक लड्डू खाने के लिए दिया और तुरंत ही खाने को कहा। उनमें से एक छात्रा अजमेर के राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक प्रमुख कार्यकर्ता की भतीजी थी।

लड्डू खाते ही बेहोश हुईंः प्रसाद के नाम पर मिला वह लड्डू खाते ही दोनों के होश उड़ गए। ऐसे में कब वह महिला उन्हें लेकर बस अड्डे पहुंची और कब वह यहां ले आई, उन्हें कुछ भी पता नहीं है। उन्हें तो अपने गुम हो जाने का तब पता चला, जब शुक्रवार (13 सितंबर) की सुबह मथुरा के बस अड्डे पर उनकी आंख खुली। तब वहां से गुजर एक महिला रेलकर्मी से मोबाइल फोन मांग कर उन्होंने अपने परिजनों को मथुरा में होने की खबर दी।
National Hindi News 14 Sep 2019 LIVE Updates: दिन भर की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

हाईस्कूल में पढ़ती है छात्राएंः उनमें से एक छात्रा अजमेर के राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक प्रमुख कार्यकर्ता की भतीजी थी। वे दोनों हाईस्कूल में पढ़ रही हैं। परिजनों के कहने पर महिला रेलकर्मी छात्राओं को लेकर रेलवे स्टेशन पहुंची। राजकीय रेलवे पुलिस ने उनके बारे में रेलवे कंट्रोल को खबर दी तो मालूम पड़ा कि कल ही उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी गई थी तथा परिजनों ने वहां के स्टेशन पर भी पूछताछ की थी।

पुलिस द्वारा आरोपी महिला की तलाश जारीः राजकीय रेलवे पुलिस के थाना प्रभारी सुबोध कुमार यादव ने बताया, ‘अजमेर की पुलिस परिजनों को लेकर यहां आई थी और बच्चियों को सुरक्षित उनके सुपुर्द कर दिया गया। अब तक तो वे सुरक्षित घर पहुंच गई होंगी।’समाचार लिखे जाने तक उक्त महिला के बारे में और कोई जानकारी पुलिस के हाथ नहीं लग सकी थी। उसकी तलाश जारी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 अपनी पार्टनर के साथ बिस्तर पर देख लिया, गुस्साए युवक ने ब्लेड से दोस्त का प्राइवेट पार्ट रेत डाला
2 VIDEO: छापेमारी के दौरान लड़की को छेड़ा, 2 महिलाओं ने पुलिसवाले को जमकर पीटा
3 UP: हेलमेट नहीं लगाया तो युवक को सड़क पर लेटाकर पीटा, मासूम की गुहार पर भी नहीं पसीजे थे पुलिसवाले, केस दर्ज