लखनऊ से मुंबई जाने वाली पुष्पक एक्सप्रेस में महिला से गैंगरेप, चार आरोपी धरे गए

मुंबई जीआरपी के आयुक्त कैसर खालिद ने कहा कि शुक्रवार की देर रात वारदात तब की गई जब एक्सप्रेस ट्रेन घाट खंड से गुजर रही थी। उन्होंने ट्वीट करके घटना और पुलिस के एक्शन की जानकारी दी। जीआरपी आयुक्त के मुताबिक आरोपी औरंगाबाद के इगतपुरी से लखनऊ-मुंबई पुष्पक एक्सप्रेस की स्लीपर बोगी डी -2 में सवार हुए थे।

delhi, rape with 6 year, delhi women commission, swati maliwal, rohtak
सांकेतिक फोटो।

महाराष्ट में मध्य रेलवे के इगतपुरी और कसारा स्टेशनों के बीच लखनऊ-मुंबई पुष्पक एक्सप्रेस ट्रेन में कुछ लुटेरों ने 20 वर्षीय एक महिला के साथ कथित तौर पर बलात्कार किया। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। बलात्कार की पुष्टि के लिए पीड़िता के साथ आरोपियों का मेडिकल टेस्ट करवाया गया है। पुलिस का कहना है कि सारे आरोपी लूटपाट के लिए ट्रेन पर सवार होते थे। इस बार भी उन्होंने यात्रियों के सामानों की चोरी की और उसके बाद दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया।

मुंबई जीआरपी के आयुक्त कैसर खालिद ने कहा कि शुक्रवार की देर रात वारदात तब की गई जब एक्सप्रेस ट्रेन घाट खंड से गुजर रही थी। उन्होंने ट्वीट करके घटना और पुलिस के एक्शन की जानकारी दी। जीआरपी आयुक्त के मुताबिक आरोपी औरंगाबाद के इगतपुरी से लखनऊ-मुंबई पुष्पक एक्सप्रेस की स्लीपर बोगी डी -2 में सवार हुए थे। उन्होंने रात के दौरान ट्रेन के घाट क्षेत्र से गुजरने के दौरान वारदात को अंजाम दिया। ट्रेन के कसारा पहुंचने पर यात्रियों ने मदद मांगी तो जीआरपी मुंबई ने तत्काल कदम उठाया। उन्होंने कहा कि अब तक चार आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

उन्होंने एक और ट्वीट में कहा कि पीड़िता 20 साल की है। उसे जीआरपी की महिला अधिकारी मेडिकल जांच के लिए साथ ले गई हैं। फिलहाल वह ठीक है। खालिद ने बताया कि हम सभी साक्ष्य एकत्र कर रहे हैं। हमारी टीम आरोपियों से पूछताछ कर रही है। हम उनके पिछले रिकॉर्ड की भी जांच कर रहे हैं। इससे पता लगाया जा सकेगा कि उनका ट्रेक रिकॉर्ड क्या है।

उनका कहना है कि ट्रेन में कोई वारदात न हो इसके लिए जीआरपी मुस्तैदी से काम करती है। फिलहाल हमारा लक्ष्य आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाना है जिससे यह मामला जरायम करने वालों के लिए एक नजीर बन सके। इसके लिए जीआरपी पुलिस के साथ मिलकर अपनी जीतोड़ कोशिश कर रही है।

उन्होंने बताया कि आरोपियों ने ट्रेन यात्रियों से 96,390 रुपये की संपत्ति चुराई थी। इसमें ज्यादातर मोबाइल फोन थे। पुलिस ने उनके पास से अब तक 34,200 रुपये की संपत्ति बरामद की है। मुंबई जीआरपी ने आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 395, 397, 376 (डी), 354, 354 (बी) के तहत मामला दर्ज किया है। खालिद ने कहा कि कल्याण रेलवे पुलिस थाने में भी रेलवे अधिनियम के तहत भी मामला दर्ज किया गया है।

पढें जुर्म समाचार (Crimehindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट