ताज़ा खबर
 

बाथरुम में संबंध बनाने से मना किया तो पति ने कूट दिया, थाने में रिपोर्ट दर्ज

इस महिला ने अपने पति का घर छोड़ दिया और मायके चली गई। मायके लौटने के बाद महिला ने पुलिस से संपर्क कर अपनी शिकायत दर्ज कराई।

महिला ने अपने ससुर पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं। प्रतीकात्मक तस्वीर।

गुजरात के अहमदाबाद से एक चौंकाने वाली खबर आई है। बीते सोमवार (12 अगस्त, 2019) को यहां पुलिस स्टेशन में एक महिला अपने पति पर उसकी पिटाई करने का शिकायत दर्ज कराने पहुंची। इस महिला ने पुलिस को बताया कि बाथरुम में शारीरीक संबंध बनाने से मना करने पर उसके पति ने कई बार उसकी पिटाई कर दी है।

बताया जा रहा है कि 4 महीने पहले ही इस युवती की शादी हुई थी। युवती का यह भी आरोप है कि उसके पति के बड़े भाई उसके साथ बार-बार छेड़खानी करते थे। महिला का कहना है कि जब कभी वो घर में अकेली होती थी तो उसके पति के बड़े भाई मौके का फायदा उठाकर उसके साथ अश्लील हरकत किया करते थे। महिला ने अपने ससुराल वालों पर दहेज के लिए प्रताड़ित करने का आरोप भी लगाया है।

महिला का कहना है कि कई बार आधी रात को उसके ससुराल वाले उसकी पिटाई करते थे और उसे अपने मायके से पैसे लाने के लिए कहा करते थे। महिला ने अपनी शिकायत में कहा कि संबंध बनाने के दौरान उसका पति उनके साथ क्रूरता भरा व्यवहार करता था। महिला ने कहा कि कई बार जब उन्होंने घर के बाथरुम में शारीरीक संबंध बनाने से इनकार कर दिया तब उनके पति उनकी बेरहमी से पिटाई करते थे और फिर जबरदस्ती संबंध बनाते थे।

महिला ने बताया कि पड़ोस में रहने वाली एक महिला का पति अक्सर उसके सुसराल वालों को उसकी पिटाई करने के लिए उकसाता था। पति और ससुर के द्वारा प्रताड़ित किये जाने से यह महिला मानसिक रुप से काफी परेशान हो गई थी। इसके बाद इस महिला ने अपने पति का घर छोड़ दिया और मायके चली गई। मायके लौटने के बाद महिला ने पुलिस से संपर्क कर अपनी शिकायत दर्ज कराई।

इस मामले में पुलिस ने महिला के पति, ससुराल के कुछ अन्य सदस्य और पड़ोस में रहने वाले युवक के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 498 – A (घरेलू हिंसा), 354 (छेड़खानी), 323 (जानबूझ कर चोट पहुंचाना), 294-B (खराब शब्द इस्तेमाल करना) से संबंधित धाराओं में केस दर्ज किया है। अब पुलिस इस मामले की तफ्तीश में जुट गई है और पुलिस का कहना है कि जांच के बाद आरोपियों पर कानून के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी। (और…CRIME NEWS)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App