मध्य प्रदेश: सुहागरात के दिन सास ने किया वर्जीनिटी टेस्ट, जेठ ने रेप किया और पति खामोश रहे; बहू के आरोपों के बाद जांच शुरू

बताया जा रहा है कि इस घटना के कुछ दिनों बाद महिला के पति ने उन्हें एक बस में बैठा कर मायके भेज दिया।

crime, crime news
महिला ने इस मामले में केस दर्ज कराया है। प्रतीकात्मक तस्वीर।

मध्य प्रदेश के इंदौर में एक महिला ने अपने पति और सुसराल के अन्य सदस्यों पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। इस सिलसिले में 03 मार्च, 2020 को थाने में केस भी दर्ज कराया गया है। पेशे से इंजीनियर इस बहू ने आरोप लगाया है कि करीब साढ़े तीन साल पहले जब उसकी शादी हुई थी तब सुहागरात के दिन उसकी सास ने उनका वर्जिनिटी टेस्ट किया था। इसके कुछ दिनों बाद उसके जेठ ने उसके साथ रेप किया था। इस घटना से दुखी होकर वो करीब ढाई साल से अपने मायके में रह रही थी। महिला का कहना है कि इस पूरे वाकये पर उसके पति भी खामोश रहे।

इस महिला ने अपने पति के खिलाफ भी घरेलू हिंसा का केस दर्ज कराया था। देवास की रहने वाली इस महिला की शादी मई 2017 में एक शख्स के साथ हुई थी। महिला ने बताया कि सुहागरात के दिन उसकी सास, ससुर, पति और जेठ उसके कमरे में आए थे। महिला के मुताबिक उसकी सास उसे बाथरुम में लेकर गई थीं जहां उनका वर्जिनिटी टेस्ट किया गया।

महिला का आरोप है कि जब उन्होंने इसका विरोध किया तब उनके पति ने कहा था कि उनके घरवाले पुराने ख्यालात के हैं इसलिए उन्होंने ऐसा किया है। इसके बाद से ही उनके जेठ की उनपर बुरी नजर थी। एक दिन मौका पाकर उन्होंने उनके साथ दुष्कर्म भी किया। जब उन्होंने अपने पति और सास को इस बारे में बताया तो उन्हें इसे नजरअंदाज कर दिया।

बताया जा रहा है कि इस घटना के कुछ दिनों बाद महिला के पति ने उन्हें एक बस में बैठा कर मायके भेज दिया। महिला करीब 2 साल से ज्यादा वक्त तक अपने माता-पिता के घर रही।

‘दैनिक भास्कर’ की रिपोर्ट के मुताबिक इस पूरे मामले पर पुलिस का कहना है कि इस महिला ने अपने पति के खिलाफ पहले ही केस दर्ज कराया था और अब अचानक ढाई साल बाद पुलिस स्टेशन आकर उन्होंने अपने सुसराल वालों पर यह आरोप लगाया है।

अब इस मामले में पुलिस साक्ष्य जुटा कर कानूनी कार्रवाई करने में जुटी हुई है। पुलिस ने फिलहाल कार्रवाई करते हुए सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

पढें जुर्म समाचार (Crimehindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट