ताज़ा खबर
 

राजस्थान: कोर्ट परिसर में बुजुर्ग पत्नी को चाकू से गोद डाला, सुनवाई के दौरान हुई थी कहासुनी

लंबे समय से चले आ रहे विवाद को सुलझाने दंपती कोर्ट पहुंचे थे, मगर इसी बीच पति ने पत्नी पर चाकू से वार कर दिया।

Author जयपुर | September 19, 2019 12:00 PM
सांकेतिक तस्वीर (फोटो सोर्स – इन्डियन एक्सप्रेस)

राजस्थान से एक ऐसी चौंकाने वाली खबर आई है, जिसे सुनकर किसी के भी रौंगटे खड़े हो जाएंगे। मामला राजस्थान के दौसा का है, जहां एक बुजुर्ग शख्स ने कोर्ट परिसर में ही अपनी पत्नी को मार डाला। पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया और उससे पूछताछ कर रही है।बता दें कि पति-पत्नी दोनों के बीच किसी विवाद को लेकर कोर्ट पहुंचे थे।

चाकू मारकर की हत्या :  पुलिस के अनुसार, दंपत्ति में कोई विवाद था, जिसके सिलसिले में वे दोनों अदालत में आए थे। इस दौरान किसी बात पर दोनों में कहासुनी हो गई। इसके बाद आरोपी पति अमरचंद ने अदालत परिसर में अपनी पत्नी शीला देवी पर हमला कर दिया और उसे चाकू से गोद डाला।

National Hindi News 19 September 2019 LIVE Updates: दिन भर की बड़ी खबर के लिए यहां क्लिक करें

अस्पताल में तोड़ा दम: घायल महिला को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस के अनुसार आरोपी को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ की जा रही है। माना जा रहा है किसी बात को लेकर दोनों में भयंकर मनमुटाव था, जिसके चलते दोनों मामले का हल निकालने अदालत आए थे। इसी बीच पति अमरचंद ने अपना आपा खो दिया और चाकू से अपनी बीवी पर वार कर दिया।

कोर्ट परिसर में पहले भी हुईं इस तरह की घटनाएं: गौरतलब है कि कोर्ट परिसर में हमले का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले इलाहाबाद हाई कोर्ट परिसर में बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी मिश्रा व उसके पति अजितेश पर हमला करने का मामला सामने आया था। बताया जाता है कि उस दौरान कुछ लोगों ने अजितेश के साथ मारपीट की थी। वहीं, बीच-बचाव करने गई साक्षी पर भी हमला बोला था। इस घटना से कुछ देर पहले ही इलाहाबाद हाई कोर्ट के बाहर से एक कपल को अगवा भी कर लिया गया था।

Next Stories
1 जुए में हारा तो दांव पर लगा दी बीवी, दोस्तों ने किया गैंगरेप का प्रयास, किचन में ‘कैद’ होकर बचाई अस्मत
2 टीचर को केक में ‘सीमेन’ मिलाकर खिलाया, वीडियो वायरल हुआ तो पकड़े गए छात्र
3 दिल्ली-फैजाबाद Express के AC कोच में 8 घंटे तक युवती से होती रही छेड़छाड़, न RPF ने की गश्त, TTE भी नहीं दिखा
यह पढ़ा क्या?
X