ताज़ा खबर
 

प्रेमी के साथ मिल पति के कर दिए टुकड़े-टुकड़े, जहां-तहां फेंक कर लगाया ठिकाना

महिला अपने वैवाहिक जीवन से खुश नहीं थी। इस वजह से उसने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में एक 30 वर्षीय महिला और उसके प्रमी को पुलिस ने मंगलवार (11 दिसंबर) को गिरफ्तार किया। आरोप है कि महिला ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की गला काट हत्या कर दी। पुलिस ने बताया कि हत्या के बाद महिला और उसके प्रेमी ने शव को ठिकाने लगाने के लिए धारदार हथियार से पूरे शरीर के टुकड़े कर दिए और ग्रेटर नोएडा के शहाबेरी क्षेत्र में जहां-तहां फेंक दिया था। पुलिस ने 10 दिनों बाद शव को बरामद किया था। शव बरामदगी मामले की जांच के दौरान पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा किया। महिला का नाम रजनी, उसके पति का नाम भूप सिंह और प्रेमी का नाम अनिरूद्ध है।

पुलिस के अनुसार, रजनी और उसके पति भूप सिंह (34) दोनों मूलरूप से मध्य प्रदेश के छत्तरपुर जिले के भाद्रा गांव के रहने वाले थे। छह महीने पहले झांसी में एक निर्माण कार्य के दौरान उनका संपर्क उत्तर प्रदेश के रहने वाले 32 वर्षीय अनिरूद्ध से हुआ था। कुछ समय बाद रजनी और भूप झांसी से ग्रेटर नोएडा के शहाबेरी में चले आए और किराए का कमरा लेकर रहने लगे। कथित तौर पर इसी कमरे में 30 नवंबर की रात भूप सिंह हमेशा की तरह शराब पीकर अपने घर आया। पुलिस ने बताया कि वहां अनिरूद्ध और रजनी पहले से ही मौजूद थे। दोनों ने मिलकर भूप सिंह की हत्या कर दी और शव को टुकड़े में काट आसपास के इलाके में फेंक दिया।

चार दिनों बाद रजनी पुलिस थाने पहुंची और पति की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवायी। शुरूआती जांच में पुलिस को रजनी पर शक नहीं हुआ, लेकिन शव मिलने के बाद मृतक के भाई ने प्राथमिकी में महिला और उसके प्रेमी के बारे में घटना में शामिल होने का आरोप लगाया। तब शक की सुई रजनी की ओर घुमी।

टीओआई की रिपोर्ट के अनुसार, इस पूरे मामले पर बिसरख पुलिस स्टेशन के एसएचओ अनिल कुमार शाही ने कहा, “9 दिसंबर को वृंदा गार्डेन कॉलनी के समीप एक प्लॉट में हमे एक व्यक्ति का गला हुआ शरीर मिला। उसका सिर गायब था। इसके बाद वहीं पास के एक प्लॉट से कटा हुआ सिर भी मिला। छानबीन के क्रम में मृतक के भाई ने इसकी पहचान भूप सिंह के रूप में की। 10 दिसंबर को भाई ने मृतक की पत्नी और प्रेमी के खिलाफ शिकायत दर्ज करवायी। हमें मृतक के भाई के माध्यम से ही रजनी और अनिरूद्ध के कथित प्रेम संबंध के बारे में जानकारी मिली। जब हम उसके घर पूछताछ करने गए तो वह फरार हो गई। बाद में उसी रात हमनें उसे और उसके प्रेमी को ग्रेटर नोएडा के शहाबेरी पुलिया से गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने अपराध में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली है।”

पूछताछ के दौरान रजनी ने पुलिस को बताया कि झांसी में रहने के दौरान वह अनिरूद्ध से प्यार करने लगी थी। वह अपने एक साल के बेटे और पति के छोड़ अनिरूद्ध के साथ भाग गई थी। दोनों करीब तीन महीने तक एक साथ रहे थे। तीन महीने बाद भूप सिंह ने उसे पकड़ लिया और वापस ले आए। लेकिन वह अपने पति से खुश नहीं थी इसलिए प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या की साजिश रची। पुलिस ने बताया कि दोनों आरोपियों को स्थानीय अदालत में पेश किया गया और जेल भेज दिया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App