ताज़ा खबर
 

कैंसर से मुंह में हो गई थी सड़न, बीवी ने संबंध नहीं बनाया तो कर दी हत्या

यहां अपनी पत्नी को मोबाइल पर ऑफिस में मर्दों के साथ बातें करता देख महेश बेहद नाराज था। उसकी पत्नी उसके साथ शारीरीक संबंध बनाने से भी इनकार कर चुकी थी। इन सब कारणों की वजह से पत्नी पर महेश का शक इतना बढ़ गया कि बुधवार की रात छत पर सो रही पत्नी की उसके चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी और फरार हो गया।

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

अपनी पत्नी की हत्या का आरोपी शख्स जब पुलिस के शिकंजे में आया तो कई चौंकाने वाले खुलासे हुए। यह शख्स अपनी पत्नी की हत्या के पूरे चार दिन बाद पुलिस के हत्थे चढ़ा है। पुलिसिया पूछताछ में इस शख्स ने कबूल किया है कि उसकी पत्नी ने उसके साथ सेक्स करने से मना कर दिया इसीलिए उसने अपनी पत्नी को मौत के घाट उतार दिया। यह घटना दिल्ली से सटे नोएडा की है। बीते बुधवार (11 जुलाई) को अजय उर्फ महेश कुमार ने सेक्टर 63 के एक मकान में अपनी पत्नी की चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी। यह घर महेश की पत्नी के भाई का था और वो पिछले कुछ महीनों से अपने भाई के साथ ही रहती थी।

दरअसल महेश अपनी पत्नी के साथ उत्तर प्रदेश के ललितपुर में रहता था और छह महीने पहले महेश को मुंह का कैंसर हो गया था। कैंसर का पता चलने के बाद से महेश की नौकरी छूट गई थी। लिहाजा पति के इलाज और दो बच्चों की परवरिश की खातिर महेश की पत्नी ने तीन महीने पहले ही नोएडा में एक नौकरी ज्वायन कर ली थी। कुछ पैसे इकठ्ठे हो जाने के बाद महेश की पत्नी ने उसे नोएडा बुलाया ताकि वो उसका इलाज करवा सके।

लेकिन यहां अपनी पत्नी को मोबाइल पर ऑफिस में मर्दों के साथ बातें करता देख महेश बेहद नाराज था। उसकी पत्नी उसके साथ शारीरीक संबंध बनाने से भी इनकार कर चुकी थी। इन सब कारणों की वजह से पत्नी पर महेश का शक इतना बढ़ गया कि बुधवार की रात छत पर सो रही पत्नी की उसके चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी और फरार हो गया।

इस घटना से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई थी। लेकिन अब पुलिस ने दावा किया है कि उसने इस हत्या की गुत्थी सुलझा ली है। पुलिस ने बीते रविवार (15 जुलाई) को महेश को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस का कहना है कि हत्या में इस्तेमाल किये गये चाकू को भी बरामद कर लिया गया है। इस मामले में मृतक महिला के भाई राहुल ने हत्या के बाद अपने जीजा के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया था। फिलहाल पुलिस अब इस मामले में आगे की कार्रवाई करने में जुटी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App