ताज़ा खबर
 

VIDEO: यूपी में सरकारी दफ्तर में चले जूते, कर्मचारी पर चपरासी को पीटने का आरोप

हालांकि अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि इस कर्मचारी शख्स ने चपरासी की पिटाई क्यों की?

वरिष्ठ अधिकारियों ने इसकी जांच कराने की बात कही है। फोटो सोर्स – वीडियो स्क्रीनशॉट

उत्तर प्रदेश में सरकारी कार्यालय के एक कथित कर्मचारी ने चपरासी को जूते से पीट दिया। चपरासी की पिटाई का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ है। वायरल वीडियो में नजर आ है कि एक शख्स हाथ में जूता लेकर दूसरे शख्स पर पर ताबड़तोड़ हमला कर रहा है। कुछ ही सेकेंड में यह शख्स दूसरे शख्स को कई जूते मारता है। वीडियो में किसी तीसरे शख्स की आवाज भी सुनाई दे रही है जो शायद यह वीडियो बना रहा है। मारपीट के वक्त यह शख्स कहता है कि ‘संतराम पिट गया…बहुत पिट गया…बहुत जोर से मारा…संत राम नहीं मार पाए।’

जानकारी के मुताबिक जूतम-पैजार का यह वीडियो हमीरपुर जिले का है। बताया जा रहा है कि इस जिले के मौदहा कस्बे में तहसीलदार कक्ष के सामने एक कर्मचारी ने किसी बात से नाराज होकर चपरासी को जूते से पीटा है।

यह भी कहा जा रहा है कि चपरासी को पीटने से पहले इस शख्स ने जमकर शराब पी और फिर अचानक उसने उसपर जूते से हमला कर दिया। इस वीडियो को सोशल मीडिया पर अब तक कई लोगों ने देखा है। कार्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों की भी नजर इस वीडियो पर पड़ी है।

हालांकि अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि इस कर्मचारी शख्स ने चपरासी की पिटाई क्यों की? इस मारपीट को लेकर पीड़ित और आरोपी की तरफ से भी कुछ भी नहीं कहा गया है। हालांकि वरिष्ठ अधिकारियों ने अब इस वीडियो की जांच कराने की बात कही है। यह वीडियो शनिवार का बताया जा रहा है।

यूपी में किसी सरकारी कार्यालय के अंदर मारपीट की यह कोई पहली घटना नहीं है। अभी कुछ ही दिनों पहले बलिया जिले के बैरिया के भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह के बेटे हजारी सिंह पर एक रेवेन्यू ऑफिसर से मारपीट का आरोप लगा था।

इस मामले में हजारी सिंह और उनके समर्थकों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया गया था।

देखें वीडियो:

हजारी सिंह पर आरोप था कि उनके मनमाफिक ट्रांसफर नहीं किये जाने पर उन्होंने रेवेन्यू अधिकारी की पिटाई कर दी थी।

Next Stories
1 दिल्ली के यमुनापार में CAA, NRC पर बवाल, एक हेड कॉन्सटेबल की मौत; 10 क्षेत्रों में धारा 144 लागू
2 हैदराबाद: इंस्पेक्टर के ‘नागिन’ डांस का Video वायरल, पुलिस कमिश्नर ने दिए जांच के आदेश
3 CAA, NRC, NPR Protest In Aligarh: पुलिस ने कहा- हिंसा के पीछे यूनिवर्सिटी की छात्राओं का हाथ, 350 लोगों पर FIR दर्ज
ये पढ़ा क्या?
X