ताज़ा खबर
 

VIDEO: मूर्ति विसर्जन के दौरान विवाद के बाद पटना की सड़कों पर खूब चली गोलियां और बरसे बम, कई पुलिसवाले घायल

वीडियो में नजर आ रहा है रात के वक्त पटना की सड़कों पर अफऱातफरी का माहौल है। कुछ छात्र इधर-उधर दौड़ रहे हैं। वीडियो में गोली चलने की आवाज भी साफ-साफ सुनाई दे रही है।

वीडियो में गोली चलने की आवाज सुनी जा सकती है। फोटो सोर्स – वीडियो स्क्रीनशॉट

बिहार की राजधानी पटना की सड़कों पर उपद्रवियों ने बेखौफ होकर गोलियां बरसाई और बम भी फोड़े। जानकारी के मुताबिक शुक्रवार की रात करीब 8 बजे पीरबहोर थाना क्षेत्र स्थित साइंस कॉलेज के पास दो गुटों के बीच अचानक हिंसक झड़प शुरू हो गई। मूर्ति विसर्जन को लेकर शुरू हुई झड़प खून-खराबे और गोली-बम तक पहुंच गई। पटना में सरेआम गुंडागर्दी का एक वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में नजर आ रहा है रात के वक्त पटना की सड़कों पर अफऱातफरी का माहौल है। कुछ छात्र इधर-उधर दौड़ रहे हैं। वीडियो में गोली चलने की आवाज भी साफ-साफ सुनाई दे रही है। गोली की आवाज आने के बाद भीड़ में अचानक भगदड़ और तेज हो जाती है। वीडियो में यह भी नजर आ रहा है कि भीड़ में शामिल कुछ छात्र जमकर पथराव भी कर रहे हैं।

बताया जा रहा है कि यह विवाद इतना बढ़ा कि आक्रोशित छात्रों ने 7 से अधिक गाड़ियों को आग के हवाले भी कर दिया। पटना की सड़कों पर इस गुंडागर्दी की खबर पुलिस को भी लगी। लेकिन मौके पर पहुंची पुलिस शुरू में छात्रों को काबू करने में नाकाम रही। इस मारपीट और गोलीबारी में 2 सिपाही समेत कुछ अन्य छात्र भी घायल हो गए है। बाद में भारी संख्या में पहुंची पुलिस की टीम ने किसी तरह छात्रों को कंट्रोल किया।

घटना के बारे में मिली जानकारी के अनुसार, पटना विश्वविद्यालय के मिंटो, नूतन और जैक्सन हॉस्टल के लड़के शुक्रवार की शाम मां सरस्वती की प्रतिमा विसर्जन करने के लिए जुलूस की शक्ल में निकले थे। जैसे ही वे विश्वविद्यालय कैंपस से बाहर निकलकर थोड़ा आगे बढ़े ही थे कि लालबाग मोहल्ले के शरारती तत्वों ने उनपर बमबारी और पथराव शुरू कर दिया।

जवाब में हॉस्टल के लड़कों ने भी फायरिंग की। इस बीच सैदपुर हॉस्टल के लड़के भी जुलूस लेकर पहुंच गए। सभी लड़के एकजुट होकर स्थानीय लोगों पर टूट पड़े। दोनों ओर से जमकर बमबारी और फायरिंग होने लगी। इस दौरान विसर्जन जुलूस के साथ जा रहे पीरबहोर थाने के दारोगा मनोज कुमार के पास एक धमाका हो गया। बम के छर्रे उनके पैर में लग गए। वहीं पथराव में सिपाही का सिर फट गया।

बताया जा रहा है कि आधे घंटे बाद जब पूरी रणनीति तैयार कर अशोक राजपथ पर दोबारा पुलिस पहुंची तब जाकर इस बवाल को खत्म किया जा सका। पुलिस का कहना है कि सीसीटीवी कैमरे से उपद्रवियों की पहचान कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 तीन साल की बच्ची के यौन शोषण के आरोप में 7 और 8 साल के लड़के हिरासत में, बोले- हम तो खेल रहे थे
2 प्रमाणपत्रों में छेड़छाड़ के आरोपी 18 शिक्षकों पर रिपोर्ट दर्ज
3 पीलीभीतः पुलिसकर्मियों की Facebook आइडी हैक कर हजारों ठगे
IPL 2020
X