ताज़ा खबर
 

कानपुर: नाबालिग लड़की से हैवानियत! दुष्कर्म के बाद लीवर निकाला, जयपुर में रेप के आरोपी ने पीड़िता को जिंदा जलाया

इधर इस मामले पर पुलिस का कहना है कि इस घटना में महिला की बच्ची भी 30 फीसदी जल गई है हालांकि अभी बच्ची की हालत स्थिर है।

fire, woman, woman set on fireइस घटना में महिला की बच्ची भी जल गई है। सांकेतिक तस्वीर।

उत्तर प्रदेश के कानपुर में 7 साल की नाबालिग लड़की के साथ यौन उत्पीड़न के बाद उसकी बेरहमी से हत्या कर दी गई। बताया जा रहा है कि दीपावली की रात इस घटना को 2 लोगों ने मिलकर अंजाम दिया है। यह भी जानकारी सामने आई है कि लड़की के ही एक रिश्तेदार ने इन दोनों लोगों को पैसे दिये थे कि लड़की का लीवर निकाल कर लाएं ताकि वो उसका इस्तेमाल तंत्र साधना में कर सके। पुलिस का कहना है कि लड़की के रिश्तेदार की शादी साल 1999 में हुई थी लेकिन उन्हें कोई बच्चा नहीं था। उन्हें उम्मीद थी कि बच्ची के लीवर को निकाल कर खाने और जादू-टोना करने से घर में बच्चे की कमी पूरी हो जाएगी।

इस मामले में पुलिस ने कपल समेत 2 लोगों को पकड़ा है। इस मामले की जानकारी देते हुए एसपी (ग्रामीण), बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि दोनों युवकों को इस काम के लिए 1500 रुपए दिये गये थे। इन दोनों ने इस पैसे से शराब खरीदी थी। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि पहले उन्होंने बच्ची से दुष्कर्म किया और फिर उसकी हत्या कर दी। पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने लड़की का पेट चीर दिया और फिर शरीर के अंग निकालने की कोशिश की।

बताया जा रहा है कि आऱोपियों ने चिप्स दिलाने का लालच देकर बच्ची को अगवा कर उसके साथ इस भयानक वारदात को अंजाम दिया है। इस मामले में पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 302, 201 और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। इधर इस मामले में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने मृतक बच्ची के परिजनों को 5 लाख रुपए मुआवजा देने और आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई करने का आदेश दिया है।

कानपुर के बाद बात अब राजस्थान की राजधानी जयपुर की। यहां 35 साल की एक महिला को जिंदा जलाने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि जिस शख्स ने इस घटना को अंजाम दिया है उसपर महिला ने दुष्कर्म करने का आरोप लगाया था। आरोप लगने के बाद यह युवक इसी साल अप्रैल के महीने से फरार था।

यहां पुलिस ने बताया कि शनिवार की रात यह महिला अपने घर में दीया जला रही थी। उसी वक्त आरोपी उनके घर में चोरी से घुसा था और उसने महिला को आग के हवाले कर दिया। इस घटना में महिला 70 फीसदी झुलस गई हैं और अस्पताल में उनकी हालत नाजुक बनी हुई है।

इधर इस मामले में महिला के परिजनों ने पुलिस पर लापरवाही बरतने और आरोपियों को नहीं गिरफ्तार करने का आरोप लगाया है। इधर इस मामले पर पुलिस का कहना है कि इस घटना में महिला की बच्ची भी 30 फीसदी जल गई है, हालांकि अभी बच्ची की हालत स्थिर है। पुलिस के मुताबिक इस मामले में कुल 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिसमें मुख्य आरोपी भी शामिल है।

महिला ने पुलिस को बताया था कि इस घटना में रेप के आरोपी युवक के अलावा उसके पिता और भाई भी शामिल थे। इस मामले में पुलिस ने धारा 307 समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है।

पीड़िता के परिजनों ने ‘The Indian Express’ से बातचीत करते हुए कहा कि अप्रैल के महीने में एफआईआर दर्ज कराई गई थी और तब से ही हम पुलिस से आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए आग्रह कर रहे थे। आरोपी के परिवार के सदस्य हमें धमकी देते थे और हमने पुलिस के पास गुहार भी लगाई थी लेकिन पुलिस ने कुछ भी नहीं किया। आरोपी को तब ही पकड़ा जा सका जब वो हमारे घर में घुसा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पहले ग्रॉसरी शॉप में घुसा दी कार, फिर सड़क पर लगा न्यूड होकर दौड़ने…पुलिस ने किया गिरफ्तार
2 निर्दलीय MLA सुमित सिंह: नीतीश से मिलने वाले विधायक के खिलाफ जारी हुआ था अरेस्ट वारंट, पिता-पुत्र पर है धोखाधड़ी का केस
3 बीजेपी विधायक की जीत के जश्न में मस्जिद पर हमला, अजान के वक्त नारे लगाने से रोका तो भड़क गए समर्थक
ये पढ़ा क्या?
X