scorecardresearch

UP: IPS अजय पाल शर्मा की बढ़ सकती है मुश्किल, केस दर्ज होने का खतरा

आईपीएस डॉ.अजय पाल शर्मा पर उनकी कथित पत्नी दीप्ति शर्मा ने उत्पीड़न व झूठे मुकदमों में फंसाने के गंभीर आरोप लगाए थे।

UP: IPS अजय पाल शर्मा की बढ़ सकती है मुश्किल, केस दर्ज होने का खतरा
आईपीएस अजय पाल शर्मा के खिलाफ एसआईटी और विजलेंस की जांच के बाद कई खुलासे हुए हैं। फोटो सोर्स – सोशल मीडिया

एनकाउंटर विशेषज्ञ के नाम से मशहूर आईपीएस अधिकारी अजय पाल शर्मा विवादों में फंस सकते हैं। जैसे-जैसे उनके खिलाफ विजिलेंस की जांच आगे बढ़ रही हैं कई नई बातों के खुलासे का दावा किया जा रहा है। कहा जा रहा कि आईपीएस अधिकारी ने जेल में बंद कुख्यात अनिल भाटी से चैटिंग के जरिए बातचीत की और उन्होंने अपनी पोस्टिंग को लेकर भी कुछ लोगों से बातचीत की है। दावा किया जा रहा है कि अफसर ने अपनी पोस्टिंग के लिए कथित पत्रकार और उसके साथी से 80 लाख रुपए की लेनदेन के संबंध में भी बातचीत की है। यह दावा उनके व्हाट्सऐप चैटिंग और कॉल डिटेल्स के आधार पर कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में किया जा रहा है। हालांकि जनसत्ता डॉट कॉम इन दावों की कतई पुष्टि नहीं करता है।

बताया जा रहा है कि एसआईटी और विजिलेंस ने अजय पाल शर्मा से जुड़ी 9 रिकॉर्डिंग्स की जांच की है। इसमें से 2 ऑडियो अजय पाल और कथित पत्रकार चंदन राय के बीच पोस्टिंग को लेकर हुई बातचीत से जुड़ी है जबकि तीसरी ऑडियो चंदन राय और स्वप्निल राय की तथा चौथी चंदन राय और अतुल शुक्ला नाम के बीच की है। कुछ अन्य कॉल डिटेल्स में एक महिला दीप्ति शर्मा के खिलाफ फर्जी मुकदमा दर्ज कराने संबंधी बातचीत भी है।

कहा जा रहा है कि अजय पाल शर्मा अपनी पोस्टिंग मेरठ में कराना चाहते थे और इसी को लेकर 80 लाख रुपए के लेनदेन के संबंध में बातचीत हो रही थी। इसमें 50 फीसदी रकम अडवांस और बाकी रकम काम होने के बाद देने की बात कही जा रही है। बताया जा रहा है कि आईपीएस अधिकारी ने दीप्ति शर्मा के खिलाफ एक ही तरह के दो मुकदमे बुलंदशहर और रामपुर में दर्ज कराए। इस उस वक्त अजय शर्मा रामपुर के कप्तान थे। शासन के निर्देश पर मार्च 2020 में विजिलेंस ने अजय पाल शर्मा के खिलाफ जांच शुरू की थी।

दरअसल कुछ दिनों पहले एक महिला दीप्ति शर्मा ने खुद को अजय पाल शर्मा की पत्नी बताते हुए लखनऊ की हजरतगंज कोतवाली में एफआईआर दर्ज कराई थी। पेशे से वकील दीप्ति शर्मा ने आरोप लगाया था कि उन्हें परेशान करने के लिए अजय पाल ने उनपर कई केस दर्ज करवाए हैं।

हालांकि अब आईपीएस अफसर ने अपने ऊपर लग रहे सभी आरोपों से इनकार किया है। अजय शर्मा ने कहा कि अनिल भाटी से चैट की जो बातें सामने आ रही हैं वो गलत हैं। उन्होंने कहा कि जेल में रहते किसी से बातचीत नहीं हो सकती है। वहीं महिला पर मुकदमा दर्ज कराने को लेकर लग रहे आरोपों पर अजय शर्मा ने कहा कि उसमें मेरी कोई भूमिका नहीं है। मैंने महिला के खिलाफ मानहानि का केस दर्ज कराया है। मेरी जितनी भी तैनातियां हुई हैं वह मेरिट के आधार पर हुई हैं। जिन जिलों में पोस्टिंग की बात कही जा रही है वहां मैं कभी भी तैनात नहीं रहा हूं।

आपको बता दें कि पूर्व गौतमबुद्धनगर एसएसपी वैभव कृष्ण का एक आपत्तिजनक वीडियो वायरल हुआ था, जिसके बाद उन्हें पद से हटा दिया गया था। इस मामले में वैभव कृष्ण ने डीजीपी को पत्र लिख अजय पाल शर्मा और हिमांशु कुमार पर साजिशन उन्हें फंसाने का आरोप लगाया था। उन्होंने इस पत्र में अजय पाल और हिंमाशु कुमार के खिलाफ पोस्टिंग के नाम पर धन उगाही करने का भी आरोप लगाया था।

इसके अलावा आईपीएस डॉ.अजय पाल शर्मा पर उनकी कथित पत्नी दीप्ति शर्मा ने उत्पीड़न व झूठे मुकदमों में फंसाने के गंभीर आरोप लगाए थे। गाजियाबाद के साहिबाबाद स्थित आस्था अपार्टमेंट में रहने वाली वकील दीप्ति शर्मा उस वक्त दिल्ली हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में प्रैक्टिस कर रहीं थीं। उनका दावा था कि 2016 में अजय पाल शर्मा के साथ उनकी शादी गाजियाबाद में रजिस्टर्ड भी हुई थी।

दीप्ति का कहना था कि डॉ. अजय पाल से उनके रिश्ते कुछ बातों को लेकर खराब हो गए थे। इस संबंध में उन्होंने महिला आयोग, पुलिस विभाग, हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में शिकायत भी की थी और शिकायती पत्रों के साथ उन्होंने शादी के सबूत भी लगाए थे। इन्हीं दोनों मामलों में आईपीएस अधिकारी के खिलाफ अलग-अलग जांच चल रही है।

पढें जुर्म (Crimehindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 19-09-2020 at 12:43:55 pm
अपडेट