ताज़ा खबर
 

यूपी: लूटपाट, हत्या के प्रयास समेत कई केस हैं दर्ज, जानिए कौन है सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर की पहली महिला गैंगस्टर गीता तिवारी

गीता तिवारी पर आरोप था कि पति के मरने के बाद उसने यह कारोबार संभाल लिया था। जिसके बाद वो जिले के बड़े अपराधियों से मिलती थी।

crime, crime newsसांकेतिक तस्वीर। फोटो सोर्स- एक्सप्रेस अर्काइव

उत्तर प्रदेश में माफिया या डॉन की चर्चा कोई नहीं बात नहीं है। आज हम बात कर रहे हैं सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर की पहली महिला गैंगस्टर की। देवरिया जेल में बंद गीता तिवारी कभी अपने कारनामों की वजह से काफी सुर्खियों में रही है। इस लेडी डॉन पर लूटपाट से लेकर हत्या के प्रयास और ड्रग्स का कारोबार करने तक के आरोप लगे। गंभीर बात यह भी है कि गीता तिवारी पर गैंगस्टर एक्ट भी लगा। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गीता तिवारी पर 8 से ज्यादा मामले दर्ज हैं और इनमें से ज्यादातर लूटपाट के मामले हैं।

बताया जाता है कि जब गीता तिवारी गोरखपुर जेल में बंद थी तब उसने जेल में बंद कुछ कैदियों की पिटाई कर दी थी। उसके हिंसक व्यवहार की शिकायत के बाद से ही उसे देवरिया जेल में शिफ्ट किया गया था। कहा जाता है कि गीता तिवारी एक शेल्टर होम में पली-बढ़ी। उसने साल 2009 में शिव कुमार नाम के एक सामाजिक कार्यकर्ता से शादी रचाई थी। उस वक्त उसकी शादी जिलाधिकारी ने करवाई थी। शिव कुमार तिवारी हिंदु युवा वाहिनी का एक कार्यकर्ता भी था।

कुछ समय बाद गीता तिवारी को एक बेटी भी हुई। बाद में गीता तिवारी ने ऑर्केस्ट्रा की शुरुआत की। परिवार की जिम्मेदारी बढ़ने पर शिव कुमार नशे के कारोबार में उतर गया। शिव कुमार के बारे में जानकारी सामने आने पर उसे हिंदू युवा वाहिनी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। साल 2016 में शिव कुमार की मौत हो गई। जब पुलिस ने गीता तिवारी के घर छापेमारी की थी तब पहली बार वो जेल गई। गीता तिवारी पर आरोप था कि पति के मरने के बाद उसने यह कारोबार संभाल लिया था। जिसके बाद वो जिले के बड़े अपराधियों से मिलती थी। धीरे-धीरे वो कई बड़े अपराधों में शामिल हो गई। पुलिस ने उसपर गैंगस्टर एक्ट भी लगाया।

20 अक्टूबर, 2020 को गीता तिवारी जमानत मिलने के बाद जेल से बाहर आ गई। बताया जाता है कि जेल से रिहा होने के बाद डॉन गीता तिवारी ने अपनी पोती के जन्मदिन पर फायरिंग की थी। इस दौरान 2 लोग घायल हो गए थे। इसके बाद पुलिस ने उसे दोबारा हवालात में डाल दिया।

Next Stories
1 महाराष्ट्र: हॉस्टल में पुलिस वालों ने लड़कियों को कपड़े उतार डांस करने का बनाया दबाव, गृहमंत्री ने दिये जांच के आदेश
2 बॉलीवुड की रानी ना सकी तो बन गईं ‘किडनैपिंग क्वीन’, गैंगस्टर बनने के बाद अर्चना बालमुकुंद शर्मा अब तक पुलिस की पकड़ से है दूर
3 लेडी सुपर कॉप: दाऊद इब्राहिम, छोटा राजन को जेल में डाला, कसाब और याकूब को फांसी दिलाने में भी निभाई अहम भूमिका, मीरा बोरवंकर के नाम हैं कई उपलब्धियां
ये पढ़ा क्या?
X