ताज़ा खबर
 

UP: गाजियाबाद में फर्जी महिला SI गिरफ्तार, पुलिसवालों की आंखों में धूल झोंककर 3 दिन से पुलिस लाइन में थी ठहरी

गाजियाबाद पुलिस लाइन में एक वर्दीधारी दरोगा पहुंचीं और उसने कहा कि आवास के इंतजाम होने तक वह यहीं रहेगी। पुलिसकर्मियों ने उसे असली दरोगा समझकर पुलिस लाइन में ठहरने के लिए जगह दे दी।

Author गाजियाबाद | Published on: September 21, 2019 10:54 AM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

UP Ghaziabad News: उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में कविनगर थाना पुलिस ने एक फर्जी महिला दरोगा (सब-इंस्पेक्टर) को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि खुद को यूपी पुलिस में दरोगा बताने वाली युवती अधिकारियों की आंखों में धूल झोंककर तीन दिन से गाजियाबाद पुलिस लाइंस में रह रही थी। लेकिन उसकी गतिविधियों पर शक होने पर जब सख्ती से पूछताछ की गई तो उसका फर्जीवाड़ा खुल गया। फिलहाल युवती और उसके साथी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

कैसे हुआ खुलासा: पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि रामपुर जिले के बिलासपुर शहर की रहने वाली प्रभजोत कौर पुलिस लाइन में रहकर खुद को एक सब-इंस्पेक्टर बता रही थी। कौर ने अन्य पुलिसकर्मियों को बताया कि वह मुरादाबाद पुलिस प्रशिक्षण स्कूल से आई है और उसे विजय नगर पुलिस स्टेशन में तैनाती मिली है। लेकिन तीन दिन से कथित महिला दरोगा के बैरक में ही रुकने और तैनाती मिलने के बाद भी पुलिस लाइंस से कहीं और नहीं जाने की वजह से पुलिसकर्मियों को शक हुआ। जिसके बाद आरआइ एमपी सिंह ने जब रजिस्टर चेक किया तो पता चला कि प्रभजोत कौर नाम से किसी दरोगा की आमद ही नहीं हुई थी। जिसका बाद युवती का झूठ पकड़ा गया।

National Hindi News, 21 September 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

सिपाही बनना चाहती थी युवती: मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मामले में श्लोक कुमार (एसपी सिटी) ने बताया है कि शुरूआती जांच में पता चला है कि गिरफ्तार की गई युवती सिपाही बनना चाहती थी, लेकिन जब उसका चयन पुलिस में नहीं हुआ तो उसने यह तरीका अपना लिया। जिसके चलते प्रभजोत को धोखाधड़ी की धाराओं में जेल भेज दिया गया है। फिलहाल मामले की जांच चल रही है।

पूछताछ में कही यह बात: पुलिस की पूछताछ में युवती ने बताया कि उसके पास 2016 में यूपी पुलिस की सिपाही भर्ती के लिए किए आवेदन का प्रिंटआउट और आइटीआइ का भी सर्टिफिकेट है। युवती काफी समय तक एनसीसी में रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 चिन्मयानंद की तरह यौन उत्पीड़न में फंस चुके हैं यूपी के कई सियासतदां, कुछ की गुत्थी अब तक अनसुलझी
2 Delhi: जनपथ से कनॉट प्लेस तक पीछा कर दंपती को लूटा, चेन सड़क पर फेंकी, फिर भी बैग छीना
3 Video में बहू को खींचते-घसीटते दिखे हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज, बेटे ने बहू को पीटा तो उन्होंने घसीटा