ताज़ा खबर
 

यूपी: मंत्री अतुल गर्ग पर भाई ने लगाया जमीन कब्जाने का आऱोप, PMO में की शिकायत

अतुल गर्ग के भाई ने आरोप लगाया था कि वो उन्हें धमकी दे रहे हैं और इससे वो दहशत में हैं तथा आत्महत्या भी कर सकते हैं।

uttar pradesh, yogi adityanath, atul gargहालांकि योगी सरकार में मंत्री अतुल गर्ग का कहना है कि यह उन्हें बदनाम करने की कोशिश है। फाइल फोटो

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार के एक मंत्री पर जमीन कब्जाने का आरोप लगा है। यूपी के स्वास्थ्य राज्य मंत्री अतुल गर्ग पर यह आरोप उनके अपने ही चचेरे भाई ने लगाया है। इस संबंध में मंत्री के भाई श्याम गर्ग ने प्रधानमंत्री कार्यालय में भी अपनी शिकायत भेजी है। बता दें कि अतुल गर्ग दिल्ली से सटे गाजियाबाद के रहने वाले हैं।

श्याम गर्ग ने यूपी सरकार के मंत्री अतुल गर्ग पर पारिवारिक जमीन कब्जाने और पैतृक संपत्ति का बंटवारा नहीं करने का आरोप लगाया है। साथ ही साथ मंत्री पर धमकी देने का आरोप भी है। श्याम गर्ग का कहना है कि वो बेहद ही गरीबी में जी रहे हैं और उनके पास खाने तक के पैसे नहीं हैं।

‘ABP न्यूज’ से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि ‘मैं तो इतना कहूंगा कि मेरे पास पुख्ता सबूत है कि अभी तक बंटवारा नहीं हुआ है. ना तो पिताजी के और ना ही दादाजी की संपत्ति का बंटवारा हुआ है…समझौता नामा जरुर हुआ था इसलिए मुझे यह समझ नहीं आ रहा कि मंत्री भइया ने कैसे कह दिया कि बंटवारा 1987 में हो गया।

मैंने प्रधानमंत्री से सिर्फ इतना कहा है कि हमारे साथ न्याय कीजिए…हमलोग काफी परेशान हो गए हैं…इसकी जांच करवाईए…या तो हमें अपने पास कुछ काम दीजिए या फिर इतना तो लायक कर दीजिए कि हम कुछ ना कुछ कर सके…मैं इस परिवार का सदस्य हूं और मेरे साथ अन्याय हो रहा है। मैं छह महीने से भाग-दौड़ कर रहा हूं। मुझे बड़े पुलिस अफसरों ने बुलाया हमारी बात सुनी और मुझे सिर्फ आश्वासन मिला है…मुझे कब तक आश्वसन मिलता रहेगा’

हालांकि इस पूरे विवाद पर यूपी के मंत्री अतुल गर्ग का कहना है कि इस मामले में कुछ भी सच्चाई नहीं है। बंटवारा तो साल 1987 में ही हो चुका है। उन्होंने बताया कि मेरे पिताजी के सातों भाई के बीच बंटवारा हो चुका है और कोई विवाद नहीं है। उन्होंने अपने भाई के बारे में कहा कि ‘यह लड़का शायद गलत संगत में पड़ गया और शराब पीने की इसे आदत हो गई…इसके पास अब आय का साधन नहीं है…लेकिन परिवार इसकी मदद करता है…आज भी उनके घर का खर्चा उनके बड़े भाई चलाते हैं…

जब भी इसे ज्यादा पैसों की जरुरत पड़ती है तो यह दबाव बनाता है..आज तक मेरे ऊपर ऐसा कोई मुकदमा नहीं हुआ है…आज तक मुझे कोई नोटिस नहीं मिला क्योंकि मेरा नाम किसी गलत चीज में है ही नहीं…फिर भी अगर इन्होंने मुझे बदनाम करने के लिए पीएमओ में लेटर लिखा है तो मैं यहां राज्यमंत्री हूं और एक जिम्मेदारी के पद पर हूं…अगर किसी भी स्तर पर इस मामले की जांच होती है तो मैं इसमें सहयोग करूंगा।

अतुल गर्ग के भाई ने आरोप लगाया था कि वो उन्हें धमकी दे रहे हैं और इससे वो दहशत में हैं तथा आत्महत्या भी कर सकते हैं। इसपर जवाब देते हुए अतुल गर्ग ने कहा कि ‘वो पहले भी ऐसी बात करता रहा है…ऐसा वो सिर्फ दबाव बनाने के लिए करता है। पुलिस अपना काम करे जांच करे…सरकारी तंत्र इसमें जो उचित समझे वो करे..मैं हर सहयोग के लिए तैयार हूं।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 BJP MLA महेश नेगी पर रेप का आरोप लगने वाली पीड़िता ने गृह सचिव को लिखा खत, बोलीं- पुलिस पर भरोसा नहीं CBI करे जांच
2 महिला गैंगस्टर ने बेटी समेत 36 से ज्यादा लोगों को मार डाला, ‘Amazon gang’ की कुख्यात नर्सरी स्कूल में भी पढ़ा चुकी है
3 वीडियो: गाजियाबाद में सरेआम बुजुर्ग महिला को पीटा, पीड़िता का आरोप- बेटी से छेड़खानी का किया था विरोध; पुलिस बोली- FIR में छेड़खानी का जिक्र नहीं
ये पढ़ा क्या?
X